Thu. Apr 18th, 2024

अमेठी के गौरीगंज केया हॉस्पिटल ट्रामा सेंटर का मामला अमेठी में निजी अस्पताल में ऑपरेशन करने आई महिला की इलाज के दौरान मौत हो गई है महिला की मौत के बाद परिजनों ने अस्पताल प्रशासन पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया है विरोध प्रदर्शन को देखते हुए मौके पर बड़ी संख्या में पुलिस बल को तैनात किया गया है वहीं अब स्वास्थ्य महकमा पूरे मामले की जांच कर रहा है. अर्जुन का रूप है कि गलत इंजेक्शन लगाने के कारण महिला की मौत हुई है जिसका जिम्मेदार अस्पताल प्रशासन है दरअसल पूरा मामला अमेठी जिले गौरीगंज जिला मुख्यालय के केया हॉस्पिटल एंड ट्रामा सेंटर का है जहां गौरीगंज के ठाकुर के पुरवा सरायहृदयशाह गांव की रहने वाली 30 वर्षीय कंचन अपना आपरेशन कराने कें लिए सुबह 11 बजे केया हॉस्पिटल पहुंची थी ऑपरेशन थिएटर में ले जाने के बाद एक इंजेक्शन लगाते ही उनकी तबीयत बिगड़ने लगी जिसके बाद चिकित्सकों ने हाथ खड़ा कर दिया

जिला अस्पताल रेफर करने के दौरान महिला मरीज की हुई मौत, परिजनों का आरोप गलत इंजेक्शन लगाने से हुई मौत, अस्पताल के बाहर परिजन कर रहे हंगामा

जिसके बाद चिकित्सकों के कहने पर आनन फानन में परिजनों ने उन्हे अस्पताल में मौजूद एम्बुलेंस से जिला अस्पताल लेकर जा ही रहे थे इस दौरान जिला अस्पताल पहुंचने से पहले ही महिला कंचन की मौत हो गई है. परिजनों ने कहा वही महिला की मौत होते परिजनों में कोहराम मच गया अस्पताल प्रशासन पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए परिजनों ने अस्पताल का घेराव कर लिया वही मृतक महिला कंचन के पति ने आरोप लगाते हुए कहा की मेरी पत्नी कंचन अस्पताल में आपरेशन के लिए आई थी यहां डाक्टरों ने पता नहीं कौन सी सुई लगा दी की मेरी पत्नी की मौत हो गई है मेरी पत्नी की मौत का जिम्मेदार अस्पताल प्रशासन है.सीएमओ ने कहा वही पूरे मामले पर सीएमओ अंशुमान सिंह ने कहा कि मामला संज्ञान में आया है कि महिला की मौत हुई है महिला की मौत कैसे हुई इसकी जांच कराई जा रही है तीन सदस्य टीम में जांच करने के बाद जो भी विधिक कार्रवाई होगी वह की जाएगी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *