Wed. Apr 17th, 2024
गुडंबा नेहरू विहार हत्या: आरोपीयों की गिरफ्तारी, पत्नी ने की साजिश का खुलासा |गुडंबा के नेहरू विहार कल्याणपुर में शनिवार रात हुई हत्या के पिछे एक गहरा राज़ था, जिसमें पति गुरु प्रसाद यादव उर्फ नीरज की पत्नी पूनम ने ही उसकी हत्या की साजिश रची थी। पति के नशे में मारपीट और अवैध संबंध की वजह से प्रतापगढ़ के शाहबड़ी निवासी शिवकुमार के साथ प्रेम सम्बन्ध बन गए थे। इसके परिणामस्वरूप, पूनम ने रची गई साजिश के तहत पति की हत्या करवा दी और इसे हादसे का रूप दिया। पुलिस ने उसकी छानबीन के बाद इस घटना की सच्चाई सामने लाई है और चारों आरोपियों को न्यायिक हिरासत में भेजा है। इससे साबित होता है कि समाज में सजगता और सतर्कता बनाए रखना अत्यंत महत्वपूर्ण है।

गुरु प्रसाद यादव उर्फ नीरज नेहरू विहार कॉलोनी में पत्नी पूनम और दो बच्चों के साथ रहता था। वह सिक्योरिटी गार्ड का काम करता था। लेकिन अचानक रात के अँधेरे में बंद कमरे में ही उसकी हत्या कर दी जाती है | जब दरवाजा अंदर से बंद था तो उसकी हत्या किसने की | कौन थे वो हत्यारे |

गुडंबा के नेहरू विहार कल्याणपुर में शनिवार रात डेढ़ बजे इस घटना को अंजाम दिया गया | गुरु प्रसाद यादव उर्फ नीरज को गला घोटकर मारा गया था | उस रात हर रोज की तरह पुलिस पेट्रोलिंग पर थी और करीब रात के दो बजे तीन संदिघ्ध व्यक्ति पुलिस को सामने से आते दिखे | पुलिस को शक हुआ और उन तीनो को रोककर पूछताछ करने लगी | इस पूछताछ से तीनो घबरा गए और बात को इधर से उधर घुमाने लगे | उन तीनों के काँपते हुए हाथ और पैर उनके जुर्म की गवाही दे रहे थे और पुलिस ने इस बात को भाप लिया था | शक के आधार पर पुलिस ने तीनों को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो हत्यारोपियों ने अपना जुर्म कबूल कर लिया। लेकिन इन तीनों हत्यारोपियों के अलावा एक और शख्स था जो इस कड़ी की सबसे अहम् पहलू था जिसके इशारे पर ये ह्त्या हुई थी |

पुलिस की छानबीन में ये सामने आया की गुरु प्रसाद यादव उर्फ नीरज की पत्नी ने ही उसके हत्या की साजिश रची थी | पुलिस पूछताछ में पूनम ने बताया कि उसका पति नशे का आदी था और उससे मारपीट करता था। तंगी के चलते वह बाहर काम करने लगी। इस बीच उसकी दोस्ती मूलरूप से प्रतापगढ़ के शाहबड़ी निवासी शिवकुमार से हो गई। वह इंदिरानगर के खुर्रमनगर में अपने दोस्त रवि शर्मा और राज गौतम के साथ रहता है। इस बीच शिवकुमार से उसकी नजदीकियां बढ़ गईं और उनके बीच प्रेम सम्बन्ध बनने लगा |

मूल रूप से प्रतापगढ़ के शाहबड़ी निवासी शिवकुमार दिल्ली में सोलर पैनल लगाने का काम करता था जबकि पूनम का पति निजी सुरक्षा कर्मी था। एसीपी गाजीपुर विकास जायसवाल के मुताबिक, पूनम गर्भवती है और गर्भस्थ शिशु प्रेमी शिवकुमार का है। पूनम का पति न केवल उसके अवैध संबंधों में बाधा बन रहा था, बल्कि आए दिन नशे में उससे मारपीट भी करता था। यही वजह थी कि पूनम ने प्रेमी के साथ मिलकर 15 दिन पहले पति की हत्या की साजिश रची। वारदात को अंजाम देने के लिए शिव कुमार गुरुवार को दिल्ली से अपने दोस्तों राज गौतम और रवि शर्मा के पास खुर्रमनगर आ गया था। योजनानुसार शनिवार की रात गुरु प्रसाद के सोने के बाद पूनम ने घर का दरवाजा खोल दिया। इसके बाद आरोपितों ने कमरे में घुसकर गला घोंटकर गुरु प्रसाद की हत्या कर दी।

इंस्पेक्टर गुडंबा नीतीश कुमार श्रीवास्तव के मुताबिक, शनिवार रात थाने के दो सिपाही विजेंदर और रमेश गश्त कर रहे थे। तीनों आरोपितों को भागते देखकर सिपाहियों ने रोककर पूछताछ की। आरोपितों द्वारा हत्या कर भागने की बात कबूलने पर उन्हें थाने ले गए। पूछताछ के दौरान आरोपी पत्नी पूनम का नाम सामने आया | वारदात स्थल पहुंचने पर कमरे में गुरुप्रसाद का शव पड़ा था जिसे देखकर उसके दोनों बच्चे रो रहे थें | जब घटना स्थल पर पूनम से इस घटना के बारे में पूछा गया तो उसने कहा कि उसके पति की मौत हार्ट अटैक से हुई है। लेकिन छानबीन के बाद मामला साफ़ हो गया | पुलिस ने चारों आरोपियों को गिरफ़्तार कर लिया है और उन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिया है | इस तरह की घटनाएं हम सभी को सचेत करती हैं कि हमें सजग और सतर्क रहना चाहिए |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *