Tue. May 21st, 2024
जियो ब्रेन - इंटीग्रेटेड मशीन लर्निंग का नया दिनजियो ब्रेन के फीचर्स: एडवांस्ड आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस

टेक्नोलॉजी दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है और AI के आ जाने से सरल भी होती जा रही है | अब ऐसे में जियो ने भी ग्राहकों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए और इंटरनेट के क्षेत्र में 6G नेटवर्क को विकसित करने के लिए AI का सहारा लिया है जिसका नाम जियो ब्रेन है | कंपनी के मुताबिक यह एक नया 5जी इंटीग्रेटेड मशीन लर्निंग प्लेटफॉर्म है, जिसका नाम जियो ब्रेन है, और यह आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस पर काम करता है | जियो का यह नया प्लेटफॉर्म सिर्फ जियो नहीं बल्कि दूसरे नेटवर्क यानी जैसे एयरटेल और वोडाफोन-आइडिया के नेटवर्क पर भी काम कर सकती है | जियो की यह सर्विस सिर्फ टेलीकॉम नेटवर्क ही नहीं बल्कि किसी भी तरह के एंटरप्राइज नेटवर्क या आईटी नेटवर्क पर भी काम करती है | इसका मतलब है कि जियो का नेटवर्क किसी भी तरह की नेटवर्क के साथ जुड़कर काम कर सकता है |

आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस से लैस जियो की यह खास तकनीक वाला प्लेटफॉर्म हजारों इंजीनियर्स के द्वारा पिछले दो सालों में किए एक प्रयास का नतीजा है | जियो ब्रेन 500 से ज्यादा ऐप्स से लैस है, जिसमें फोटो, वीडियो, टेक्स्ट, डॉक्यूमेंट्स जैसे कई अन्य कामों को आसान बनाने के लिए एडवांस आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस फीचर दिए गए हैं | इसके अलावा जियो के इस नए एआई प्लेटफॉर्म जियो ब्रेन पर इन-बिल्ट एआई एल्गोरिद्दम जैसी खास सुविधाएं भी मौजूद हैं | जियो ब्रेन 5G और 6G टेक्नोलॉजी को विकसित करने में एक अहम भूमिका निभा सकता है | कंपनी के अनुसार, भविष्य में नेटवर्क के ऑप्टिमाइजेशन और बिजनेस में होने वाले बदलावों में जियो ब्रेन काफी मदद कर सकता है | इसके अलावा जियो ब्रेन की मदद से 6G को डेवलप करने का एक प्लेटफॉर्म भी बनाया जा सकता है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *