Mon. Mar 4th, 2024

जालौन : नदीगांव विकास खंड के ग्राम पंचायत रौरा द्वारा संचालित की जा रही गौशाला में हर दिन गायों की भूख और ठंड के कारण तड़प तड़प कर मौत हो रही है। जिसके बाद गौशाला में कार्यरत ज़िम्मेदार लोगो के द्वारा रात के अंधेरे में मृत गायों को वाहन द्वारा बिना पोस्टमार्टम कराए ही गांव के बाहर फिकवाया जा रहा है। जिसकी जानकारी ग्राम विकास अधिकारी को होने के बाद भी न तो व्यवस्थाऐं कराई जा रही है और न ही कार्रवाई की जा रही है। जिससे खुद को गौ सेवक कहने वाले लोगों द्वारा लगातार लापरवाही की जा रही है। स्थानीय ग्रामीणों के अनुसार बीते करीब 10 दिनों में करीब 5 गायों की मौत हो चुकी है।
जानकारी के अनुसार गौशाला में आवारा फिर रहे गौवंश को लाकर उसे भोजन पानी और ठंड सेे बचाने के इंतजाम कराने के निर्देश हैं। लेकिन यहां पर गौशाला के नाम पर मात्र जेब गरम की जा रही है। गौशाला कर्मी के साथ हालात देखे तो वहां पर कुल 40 गौवंश मौजूद थे। जिसमें से 3 गायें मरणाशन्न हालत में थी, यहां पर गायों के लिए साफ पानी का इंतजाम नहीं है। वहीं गौवंश के भोजन हेतु धान की पराली का भूसा था | वहीं जानकारी की गई तो बीते 10 दिनों में 5 गायों की मौत होने की जानकारी मिली। लोगों ने बताया कि यहां पर गई दिनों से गायों की मौत हो रही है और रात में करीब ९-१० बजे ग्राम पंचायत के वाहन द्वारा मृत गौवंश को बिना पीएम कराए ही गांव के बाहर फिकवाया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *