Tue. Jul 16th, 2024
"स्मार्टफोन सुरक्षा: हैकिंग के लक्षण और उनसे बचाव के उपाय | सुरक्षित रहें और अपनी गोपनीयता को संरक्षित करें""स्मार्टफोन आज हमारे जीवन का अभिन्न हिस्सा बन चुका है, लेकिन इसका हैक होना जीवन को खतरे में डाल सकता है। इस लेख में हम आपको बताएंगे कैसे चेक करें कि आपका स्मार्टफोन हैक हो या नहीं। #सुरक्षा #फोनहैकिंग #टिप्सऔरट्रिक्स"

आजकल स्मार्ट फ़ोन हमारी ज़िन्दगी का सबसे अहम् हिस्सा हो चूका है | चिट्ठियों की जगह अब स्मार्टफोन के माध्यमम से हम किसी से भी और कभी भी जुड़ सकते हैं | साफ शब्दों में कहें तो स्मार्टफोन अब शरीर का एक महत्वपूर्ण अंग हो चूका है जिसको लिए बिना हम कहीं भी नहीं सा सकते हैं | स्मार्टफोन हमारी लाइफ स्टाइल का जरूरी हिस्सा है, जिसके हैक होने पर हमारी जिंदगी के कई राज लीक हो सकते हैं या फिर बैंक अकाउंट तक खाली हो सकता है | कई लोग उन राज को छिपाने के लिए आपको ब्लैकमेल भी कर सकते हैं | आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि फोन हैकिंग को कैसे पहचानें |

स्मार्टफोन हमारी लाइफस्टाइल का एक अहम् हिस्सा है | गर्लफ्रेंड की कॉल हो,  बॉयफ्रेंड का कॉल, फॅमिली की कॉल हो , दोस्तों की कॉल हो या फिर कोई पेमेंट, लगभग सब कुछ मोबाइल से पॉसिबल है | अगर स्मार्टफोन हैक हो जाएं या फिर आपकी सीक्रेट्स कॉल सुन रहा है, तब क्या करेंगे?  आज आपको एक खास तरकीब के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसमें यूजर्स बड़ी ही आसानी से चेक कर सकते हैं कि उनका स्मार्टफोन हैक हुआ या नहीं |

स्मार्टफोन में बहुत से फीचर होते हैं, जिनका इस्तेमाल करके यूजर्स बड़ी ही आसानी से हैकिंग का पता लगा सकते हैं | जब हम फोन का माइक यूज़ करते हैं, तो एंड्रॉयड फोन को टॉप राइट पर ग्रीन डॉट का ऑप्शन आ जाता है | अगर आप फोन यूज़ नहीं कर रहे हैं या फिर माइक का एक्सेस नहीं कर रहे हैं, उसके बाद भी अगर टॉप राइट पर ग्रीन डॉट या फिर छोटा का माइक आइकन नजर आता है, तो इसका सीधा मतलब है कि कोई आपकी बातों को सुन रहा है | वह आपकी सीक्रेट्स कॉल और सीक्रेट्स बातों को भी सुन सकता है | अगर आपके फ़ोन की बैटरी बहुत जल्द ख़त्म हो जाती है तो यह भी हैकिंग का एक साइन हो सकता है क्योंकि हैकिंग के दौरान बैटरी पर लोड बड़ जाता है | मोबाइल परफोर्मेंस डाउन होना या फिर मोबाइल की स्पीड स्लो होना भी हैकिंग का साइन है | फोन कॉल के दौरान अगर बीच-बीच में बीप या फिर अन्य कोई इलेक्ट्रोनिक मशीन का साउंड आता है, तो उससे हैकिंग का पता चल सकता है |

अगर आप हैकिंग से बचना चाहते हैं तो तो सबसे पहले आपको अपने फ़ोन से स्पाई एप्स को रिमूव करना होगा | स्पाई ऐप्स अक्सर छिपकर काम करते हैं | मोबाइल की सेटिंग्स में जाकर आप माइक या कैमरे की परमिशन चेक कर सकते हैं | अगर कोई ऐप गैर जरूरी परमिशन को एक्सेस करता है, तो उसे तुरंत अनइंस्टॉल कर दें | टेक्नोलॉजी ने हम इंसानों को जितना कुछ दिया है उससे कहीं ज्यादा हमें सतर्क और जागरूक रहने की आवश्यकता है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *