Tue. May 21st, 2024
ममता ने किया इंडिया गठबंधन को ना कई बड़े नेता छोड़ सकते हैं गठबंधन कोममता ने किया इंडिया गठबंधन को ना कई बड़े नेता छोड़ सकते हैं गठबंधन को

जबसे इंडिया गठबंधन बना है तबसे लेकर के आजतक किसी भी पार्टी की सोच का गठबंधन नहीं हो सका है | कोइ लेफ्ट जाता है तो कोइ राइट | विपक्षी दलों के गठबंधन इंडिया ब्लॉक में आम चुनाव से पहले ही दरार पड़नी शुरू हो गयी है | सियासत की दीवारों में अब दरारे साफ- साफ दिखाई पड़ने लगी हैं | स्वयं को सबसे ऊपर रखने की होड़ अब लग चुकी है | अब ऐसे में पश्चिम बंगाल में टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी ने ऐलान कर दिया है कि वो आम चुनाव अकेले लड़ेंगी | यानी कांग्रेस या लेफ्ट के साथ सीट शेयरिंग नहीं करेंगी | ममता पहले से ही लेफ्ट को लेकर नाराजगी जता चुकी हैं | अब कांग्रेस को लेकर भी उन्होंने अलग लाइन खींच दी है | ऐसे में विपक्षी दलों के गठबंधन में टेंशन बढ़ गई है | बंगाल की तरह पंजाब, दिल्ली, यूपी, बिहार में भी सीट शेयरिंग पर पेंच फंसा है और गठबंधन की गांठ उलझती जा रही है | वहीँ पंजाब में भी आम आदमी पार्टी के तेवरों में तल्खी कम नहीं हुई है | उधर में बिहार में जदयू प्रमुख नीतीश कुमार के बयानों से गठबंधन की सियासत पर नए सिरे से बहस शुरू हो गई है | यूपी में सपा प्रमुख अखिलेश यादव पहले ही साफ कर चुके हैं कि वो अपनी शर्तों पर ही गठबंधन में आगे बढ़ेंगे | इन राज्यों में सीट शेयरिंग को लेकर विवाद है और क्षेत्रीय दलों के निशाने पर कांग्रेस है | हालांकि, कांग्रेस का कहना है कि बातचीत के जरिए मसले का सुलझा लिया जाएगा | फिलहाल, अलायंस की चौथी बैठक के एक महीने बाद भी फॉर्मूले पर सुलह नहीं बन सकी है |

अब ऐसे में इण्डिया गठबंधन के बहुत से नेता नाराज़ हैं तो बहुत से नासाज | इन नेताओं की नाराज़गी के चलते गठबंधन की गांठ सुलझने की बजाय उलझती जा रही है | अलायंस में कुल 28 पार्टियां हैं | पश्चिम बंगाल में टीएमसी अपने उम्मीदवार उतारेगी | बंगाल में अलायंस के सहयोगियों में कांग्रेस, टीएमसी और सीपीएम शामिल हैं | ममता का कहना था कि कांग्रेस ने सीट शेयरिंग का प्रस्ताव ठुकरा दिया है | ममता बंगाल में कांग्रेस को दो सीटों से ज्यादा देने के लिए तैयार नहीं हैं | कांग्रेस 10 से 12 सीटें मांग रही है | कांग्रेस, लेफ्ट को साथ रखना चाहती है, जबकि ममता तैयार नहीं हैं | ममता के इस बयान के बाद गठबंधन की सियासत भी गरमा गई है | वहीँ आम आदमी पार्टी के मुख्यमंत्री भगवंत मान हाईकमान को अकेले चुनाव लड़ने का फॉर्मूला भी दे दिया है | उन्होंने कहा, ‘AAP सभी 13 सीटों पर चुनाव लड़ेगी और जीतकर दिखाएगी | हमारा कांग्रेस के साथ कुछ भी नहीं है |’ बात अगर सपा की करें तो इस बार आम चुनाव में सपा इंडिया ब्लॉक में 65 सीटों की डिमांड कर रही है | वहीं, कांग्रेस भी 25 सीटें मांग रही है | सपा की कोशिश है कि कांग्रेस और आरएलडी को 15 सीटों पर मना लिया जाए लेकिन यूपी कांग्रेस के नेता सपा के बराबर सीटें चाहते हैं | जिसे लेकरके मतभेद बना हुआ है |

बिहार से उड़ती-उड़ती ख़बर आ रही है कि जदयू प्रमुख और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के बदले हुए तेवर इंडिया ब्लॉक की टेंशन बढ़ा रहे हैं कुछ दिन से लगातार यह चर्चा तेज है कि नीतीश पर जेडीयू नेताओं का दबाव बढ़ रहा है और महागठबंधन छोड़ने के लिए तर्क दिए जा रहे हैं | नीतीश कुमार के तेवर बदलने का एक प्रमुख कारण कर्पूरी ठाकुर को मरणोपरांत भारत रत्न से सम्मानित किए जाने के फैसले का है | इस फैसले से नीतीश कुमार गदगद हैं और वो खुलकर केंद्र सरकार की तारीफ कर चुके हैं और पीएम मोदी को धन्यवाद दिया है | अब देखना यह होगा की गठबंधन टूटेगा या इसकी कमान कोइ और संभालेगा |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *