Tue. Jun 18th, 2024

एक तरफ परमाणु शक्ति संपन्न देश पाकिस्तान और परमाणु ताकत बनने की कोशिश कर रहे ईरान के बीच तनाव बढ़ता जा रहा है. दूसरी तरफ सउदी अरब की परमाणु योजना सामने आ गई है.एक तरफ गाज़ा पर इज़रायल का अटैक है. दूसरी तरफ ईरान के परमाणु बम का ख़तरा. क्या इसके बाद सऊदी अरब ने भी परमाणु बम बनाकर मुस्लिम देशों का अगुवा बने रहने का प्लान बनाया है. गाज़ा पर इज़रायल के बम​​ गिर रहे हैं. मौत का आंकड़ा बढ़ रहा है लेकिन मुस्लिम देश खामोश हैं. मिडिल ईस्ट के सुन्नी मुल्क जिस ईरान को खतरा मानते हैं दुनिया दावा कर रही है उसके पास परमाणु बम बनाने का यूरेनियम मौजूद है लेकिन कोई कुछ नहीं कर पा रहा. तो क्या अब सऊदी अरब मुस्लिम मुल्कों पर अपने दबदबे को कायम करने के लिए परमाणु बम बनाने के बारे में गंभीरता से सोच रहा है. ये चर्चा इसलिए शुरू हुई है क्योंकि अब सऊदी अरब ने अपने यूरेनियम संवर्धन के कार्यक्रम का बचाव करना शुरू कर दिया है.
सऊदी के ऊर्जा मंत्री के यूरेनियम संवर्धन के बयान के पीछे के इरादों को जानने के लिए जब सवाल पूछा गया तो उन्होंने इसे अपने मुल्क के लिए जरूरी बताया. सऊदी अरब के विदेश मंत्री अदेल बिन अहमद अल-जुबैर ने कहा, ‘यह बहुत सरल है. हमारे पास यूरेनियम का बड़ा भंडार है. हम इसका आर्थिक फायदा चाहते हैं. हम नहीं चाहते कोई हमारी मिट्टी को उठाकर इधर उधर ले जाए और सऊदी से बाहर उद्योगों में इसकी कीमत का फायदा उठाए. हम सऊदी अरब में नौकरियां चाहते हैं. हम सऊदी अरब में उद्योग चाहते हैं, क्योंकि हमारे पास सऊदी अरब में संसाधन हैं.हालांकि इससे पहले भी परमाणु बम बनाने वाले ज्यादातर देशों ने इसका एनर्जी के लिए इस्तेमाल की बात कही थी. लेकिन बाद में परमाणु धमाका कर दिया था. लेकिन अब आप ये जानिए आखिरकार क्यों सऊदी अरब के यूरेनियम संवर्धन पर सवाल उठा. इसकी वजह है सऊदी के सबसे शक्तिशाली नेता का बयान, जो साफ साफ अपनी परमाणु मंशा दुनिया को बता चुके हैं. सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान ने कहा, अगर ईरान ने परमाणु हथियार बना लिए, तो हमें भी ऐसा करना पड़ेगा. कोई भी देश जब परमाणु हथियार प्राप्त कर लेता है तो सऊदी अरब इससे चिंतित होता है.सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस ने ईरान के बम बनाने पर बम बनाने की बात कही थी तो आप ये भी समझिए ईरान का परमाणु कार्यक्रम कहां तक पहुंचा है. इंटरनेशल एटॉमिक एनर्जी एजेंसी के मुताबिक ईरान के पास कई परमाणु हथियार बनाने का यूरेनियम है. पहली बार उसने इतना यूरेनियम इकट्ठा किया है. दरअसल, बम के लिए 60% तक समृद्ध यूरेनियम की जरूरत पड़ती है. परमाणु बम तकनीक मौजूद होने का भी दावा किया गया है. लेकिन ईरान ने कहा बम बनाने का इरादा नहीं है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *