Sun. Jun 23rd, 2024
सपा का समीकरण बिगाड़ देगी AIMIM ? अखिलेश के लिए खड़ी हो गयी सबसे बड़ी मुश्किलसपा का समीकरण बिगाड़ देगी AIMIM ? अखिलेश के लिए खड़ी हो गयी सबसे बड़ी मुश्किल

लगता है अखिलेश यादव के सितारे अभी गर्दिश में हैं | कभी उनकी पार्टी के नेता विवादित टिप्पड़ी करके उनका खेल बिगाड़ देते हैं तो कभी उनके कार्यकर्ता | जीत दर्ज करने के लिए सबको अपने खेमे में लाना बेहद जरूरी होता है और इस बात को समाजवादी पॉर्टी के मुखिया अखिलेश यादव भलीभांति जानते हैं | अब ऐसे में AIMIM उत्तरप्रदेश के पश्चिमी यूपी की सहारनपुर, मेरठ, रामपुर, संभल, बुलंदशहर, अलीगढ़ कैराना, बिजनौर, अमरोहा, मुरादाबाद समेत 29 मुस्लिम बहुल सीटों पर अपनी ताकत झोंक सकती है | अब जबकि पार्टी की बसपा से अलायंस से खबरें आ रही हैं ऐसे में यह संभव है कि AIMIM 10-15 सीटों पर चुनाव लड़े | अगर ऐसा हुआ तो एक ओर जहां बसपा के लिए यह फायदेमंद होगा कि मुस्लिम वोट बैंक उसके साथ जुड़ा रहेगा वहीं बसपा के दलित वोटों की मदद से AIMIM के लिए भी खाता खोलने की संभावना है |

साल 2022 में AIMIM ने यूपी में तीसरा मोर्चा बनाया था | इसमें बसपा के पूर्व नेता बाबू सिंह कुशवाहा की पार्टी जन अधिकार पार्टी और वामन मेश्राम की अगुवाई वाले भारतीय मुक्ति मोर्चा के साथ मिलकर भागीदारी परिवर्तन मोर्चा बनाया गया था | 2022 के चुनाव में तो इस तीसरे मोर्चे ने कोई कमाल नहीं दिखाया लेकिन 2023 में हुए निकाय चुनावों में पार्टी के 75 पार्षदों जीत दर्ज की. ऐसे में AIMIM उत्साहित है | उस चुनाव में AIMIM को सबसे ज्यादा वोट मेरठ में मिले थे | भारतीय जनता पार्टी के हरिकांत अहलूवालिया ने 2.35 लाख वोट ( 41% फीसदी) के साथ मेयर पद जीता, वहीं AIMIM के अनस को 1.28 लाख वोट (22.37%) मिले | यह सपा उम्मीदवार सीमा प्रधान को 13,000 वोट से अधिक मिले | वह मेरठ के सरधना से सपा विधायक अतुल प्रधान की पत्नी हैं | एआईएमआईएम के अनुसार उसके उम्मीदवारों ने निकाय चुनावों में 83 वार्डों में पार्षदों और सभासद के तौर पर जीत हासिल की | निकाय चुनाव में AIMIM ने 17 मेयर सीटों में से 10 पर चुनाव लड़ा.पार्टी ने 52 नगर पालिका परिषद अध्यक्ष, 63 नगर पंचायत अध्यक्ष और 653 वार्ड और परिषद सदस्य के लिए उम्मीदवार मैदान में उतारे थे |

लोकसभा चुनाव 2024 के नजरिए से देखें तो उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी, कांग्रेस, समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी और राष्ट्रीय लोकदल मैदान में हैं | हालांकि अभी तक बसपा दोनों में से किसी भी अलायंस का हिस्सा नहीं है | यूपी में BJP, NDA में अपना दल, निषाद पार्टी और सुभासपा है | वहीं INDIA में फिलहाल सपा, कांग्रेस, रालोद, अपना दल कमेरावादी, महान दल है | अब इसका परिणाम क्या होगा ये देखना दिलचस्प रहेगा | अगर बसपा और AIMIM के बीच गठबंधन हुआ तो इंडिया अलायंस के लिए मुस्लिम वोट बैंक को सहेजना मुश्किल हो सकता है | इन सब अटकलों से समाजवादी पार्टी खुद को कैसे अलग करेगी ये देखना अभी बाकी है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *