Mon. Mar 4th, 2024

लखनऊ। पावर कारपोरेशन के अध्यक्ष डॅा.आशीष कुमार गोयल ने उन क्षेत्रों में पहले स्मार्ट मीटर लगाए जाने के निर्देश दिए हैं जहां ज्यादा बिजली चोरी होने से कम विद्युत राजस्व हासिल हो रहा है। उन्होंने कहा कि खरीदे जाने वाले मीटरों की गुणवत्ता जांचने के लिए उनकी रेंडम चेकिंग भी कराई जाए।

मंगलवार को शक्ति भवन मुख्यालय में विभागीय कार्यों की समीक्षा के दौरान गोयल ने गर्मियों में निर्बाध बिजली आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए ट्रांसफार्मरों की ओवरलोडिंग खत्म करने और जर्जर तार को ठीक करने की हिदायत दी। 

अध्यक्ष ने साफ किया कि अधिक राजस्व की संभावना और लाइन हानियों को कमी को आधार बनाते हुए प्राथमिकता के आधार पर स्मार्ट मीटर लगाए जाएं। उन्होंने गर्मियों में बेहतर विद्युत आपूर्ति के लिए फरवरी में पुनः अनुरक्षण अभियान चलाए जाने के निर्देश दिए।

कहा, गर्मी के दिनों में विद्युत आपूर्ति किन कारणों से बाधित होती है, उसका निवारण समय रहते कर लिया जाए। गोयल ने स्पष्ट किया कि गर्मियों में कोई भी ट्रांसफार्मर लापरवाही के कारण क्षतिग्रस्त नहीं होना चाहिए। क्षतिग्रस्त ट्रांसफार्मर की जिम्मेदारी तय की जाएगी। 

कहा, प्रबंध निदेशक से लेकर अवर अभियंता तक अपने-अपने क्षेत्रों में ट्रांसफार्मर का निरीक्षण करें। ट्रांसफार्मर फुंकना सामान्य प्रक्रिया है, यह सोच बदलनी होगी। दुर्घटना या प्राकृतिक घटनाओं को छोड़कर लाइन टूटने का कारण अनुरक्षण का अभाव है, जिसे नजरअंदाज नहीं किया जा सकता।

अध्यक्ष ने निर्देशित किया कि स्थानीय शटडाउन कम से कम लेने पड़े इसकी तैयारी पहले से की जाए। अध्यक्ष ने विद्युत लाइनों के निरीक्षण के भी निर्देश दिए। कहा, लाइनों को बदलने और उन्हें व्यवस्थित करने के लिए पर्याप्त राशि दी गई है। लाइन टूटने या क्षतिग्रस्त होने के कारणों की जांच भी की जाएगी। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *