Tue. Feb 27th, 2024

उत्तर प्रदेश आजकल चर्चा में चक रहा है । चर्चा का विषय है अयोध्या राम मन्दिर का निर्माण और रामलला की प्राण- प्रतिष्ठा। मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी उत्तर प्रदेश को एक के बाद एक सौगात देते आ रहे हैं । इसी क्रम में योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को पत्रकारों से बातचीत के दौरान दो बड़ी घोषणा की । उन्होंने कहा कि अयोध्या में एक ऐसा सेवन स्टार होटल बनेगा, जिसमें केवल शाकाहारी भोजन मिलेगा । उन्होंने रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के उत्सव को हर वर्ष आयोजित करने की घोषणा भी की । इस सौगात से अयोध्या के लोगों को रोजगार मिलेगा और राज्य उन्नति की ओर बढ़ेगा।

अयोध्या राम मन्दिर की प्राण- प्रतिष्ठा 22 जनवरी 2024 को होना है जिसमें कई बड़े नेता, अभिनेता, साधु- संत और कुछ असाधारण प्रतिभा से धनी लोग भी आ रहे हैं। आदित्यनाथ ने यहां होने वाले विकास की चर्चा भी की और कहा कि रोड, एयर और रेल कनेक्टिविटी के अलावा भी बहुत कुछ हुआ है। सड़क के किनारे से हटाए गये छोटे व्यापारियों, ठेला खोमचा वालों को अन्यत्र स्थापित किया गया है । इनके व्यवसाय के लिए भी प्रबंध हुआ है ।

उन्होंने ने आगे कहा, ‘पिछले रामनवमी में अनुमान था कि अयोध्या में 5 लाख श्रद्धालु आएंगे, इनकी संख्या 35 लाख को क्रास कर गयी थी । उस समय सभी सड़कें खोद दी गयी थीं । कोई व्यवस्था ठीक नहीं थी, लेकिन, अब परिस्थिति दूसरी है । अब, हमारे पास श्रद्धालुओं को रोकने की व्यवस्था है । हम 50,000 श्रद्धालुओं को प्रतिदिन रोकने की व्यवस्था कर रहे हैं। ट्रस्ट, प्रशासन और स्वयंसेवी संस्थाएं इस व्यवस्था में जुटे हैं ।

बीजेपी के सबसे बड़े मुद्दों में से एक मुद्दा राम मन्दिर निर्माण अब पूरा हो गया है । आगे कौन सा मुद्दा लेकर आएगी बीजेपी और 2024 के लोकसभा चुनाव में कैसे लुभाएगी वोटरों को यह देखना दीचस्प रहेगा क्योंकि विधानसभा चुनाव में भी यही हुआ था और उस समय मुद्दा नहीं चेहरा चुना गया। राम मन्दिर निर्माण से किसका फायदा हुआ और किसका नुकसान ये तो 2023 का लोकसभा चुनाव ही बताएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *