Mon. Mar 4th, 2024

प्रतापगढ़ में एक बार फिर से डॉक्टरों की लापरवाही से प्रसूता की मौत के बाद जमकर हंगामा हुआ है। मौके पर पहुंचे स्वास्थ्य विभाग के अधिकरियों द्वारा अस्पताल को सीज कर आगे की विधिक कार्यवाही शुरू कर दी गई है। मौके पर भारी पुलिस बल की तैनाती है।

प्रतापगढ़ के मेडिकल कॉलेज के पास अवैध रूप से संचालित अमन अस्पताल में। कंधई इलाके के आसलपुर की खुशबू चौरसिया को प्रसव पीड़ा होने के बाद भर्ती कराया था। महिला की डिलीवरी हुई और बेटा पैदा हुआ। उसके बाद डॉक्टरों ने ब्लड की कमी बता कर ब्लड चढ़ाना शुरू कर दिया। कुछ मिनट के बाद वह महिला की मौत हो गई। परिजनों ने अस्पताल के सामने जमकर हंगामा किया। डॉक्टर पर इलाज में लापरवाही बरतने का गंभीर आरोप भी लगाया। प्राइवेट अस्पताल संचालक हॉस्पिटल बंद करके फरार हो गया। घनश्याम चौरसिया ने डॉक्टर पर आरोप लगाते हुए कहा डॉक्टर ने इलाज में लापरवाही की है दूषित ब्लड चढ़ाने से मेरी बहू खुशबू चौरसिया की मौत हो गई। तभी अस्पताल कर्मियों और डॉक्टरों ने मिलकर शव को अस्पताल से बाहर निकाल दिया। डॉक्टर ने खुद एंबुलेंस बुलाकर शव को प्रयागराज के लिए भेज दिया।और अपने अस्पताल में ताला बंद कर फरार हो गए। नाराज परिजनों ने शव रखकर घण्टो हंगामा किया । हंगामे और विरोध के बाद मौके पर पहुंचे डिप्टी सीएमओ ने अमन हॉस्पिटल को सील कर दिया। परिजनों ने डॉक्टर के खिलाफ तहरीर देकर कार्यवाही की मांग की। वही मौके पर पहुंची पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *