Tue. Jun 18th, 2024

नई दिल्ली! राजनीति हो या कूटनीति या फिर रणनीति सभी में नितिन गडकरी का नाम सबसे पहले आता है | अपने बेहतर काम और हसमुख स्वभाव से सबके दिलों में राज करते हैं | अभी हालही में हुए ट्रक ड्राइवरों की हड़ताल ने पूरे राज्य के यातायात को प्रभावित किया और आम जनता पर इसका बहुत असर पड़ा | एक नया नियम आया जिसमे ड्राइवरों के लिए सख़्त हिदायत दी गयी थी की अगर ड्राइवरों के द्वारा किसी भी व्यक्ति का एक्सीडेंट होता है तो ड्राइवर को 10 साल की सजा और 7 लाख का जुर्माना होगा लेकिन हड़ताल के बाद इस नए कानून को वापस ले लिया गया | अभी यह मुद्दा शांत ही हुआ था की अब नया मुद्दा शुरू हो गया सॉरी का |

नितिन गडकरी की एक वीडियो वायरल हो रही है जो 7 दिसंबर को सोशल मीडिया पर आयी थी | 7 दिसंबर, 2023 को संसद में एक सत्र के दौरान नितिन गडकरी ने सड़क दुर्घटनाओं से संबंधित एक सदस्य के सवाल का जवाब दिया। उनकी टिप्पणियों ने एक गरमागरम बहस छेड़ दी है और ट्रक ड्राइवरों ने नए नियमों के कथित प्रभावों पर निराशा व्यक्त किया और हड़ताल भी किया था। नितिन गडकरी हाईवे पर मानक स्पीड, रोड के रखरखाव और कुछ नियमों पर चर्चा कर रहे थें और उस चर्चा में उनके हाथ में आकड़ों का एक पर्चा भी था जिसमे ना जाने जाने क्या-क्या लिखा था |

उस पर्चे से रोड एक्सीडेंट के आंकड़े थें जैसे की 2021 में 412432 सड़क दुर्घटनाये हुई और 2022 में 461312 सड़क हादसे हुए और साथ ही वर्तमान में 168491 सड़क हादसे हुए | इसी मुद्दे को लेकरके नितिन गडकरी ने कहा की बहुत से लोग स्पीड स्पीड बढ़ाने की मांग कर रहे हैं | अब इसपर गडकरी ने कहा की एक्सीडेंट में सबसे ज्यादा मौत 18 से 45 वर्ष के युवाओं की हुई है | तभी उन्होंने ने सॉरी बोला और कहा की मुझे बहुत दुःख है, दुर्भाग्य से यह मेरे विभाग की सफलता की कहानी तो नहीं है | हम पिछले नौ वर्षों से अपने स्तर पर सर्वश्रेष्ठ प्रयास कर रहे हैं लेकिन हम दुर्घटनाओं और मौतों को कम करने की स्थिति में नहीं है | लोगों को कानून का पालन करना होगा | लेन डिसिप्लिन , ड्राइविंग लाइसेंस , गाडी चलाते समय फ़ोन पर बात ना करना जैसी आदतों को अपनाना होगा | बात तो बिलकुल सही है , सभी को ट्रैफिक नियमों का पालन करना चाहिए और इन्हे अपनाना चाहिए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *