Tue. Jul 16th, 2024
अरविन्द केजरीवाल के घर पर अब होगी छापेमारी ?अरविन्द केजरीवाल के घर पर अब होगी छापेमारी ? केजरीवाल को चौथा समन भेजने की तैयारी में ED

ईडी का नाम सुनते ही सभी में एक डर का माहौल बन जाता है | घोटाला करने वाले छिपना शुरू कर देते हैं और ब्लैक मनी रखने वाले डरना | ईडी ने कई बड़े लोगों और जगहों पर छापेमारी किया है उनमे से कुख्यात गैंगस्टर लारेंस विश्नोई के करीबियों पर शिकंजा कसा, पंजाब के दो पूर्व मंत्रियों के परिसर पर छापेमारी की तो कई बड़े बिज़नेस मैन के ब्लैक मनी को भी पकड़ा | अब ऐसे में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल को भी ईडी का सामना करना पड़ रहा है | ईडी ने अरविन्द केजरीवाल को लगातार तीन समन भेजा है और अब चौथा समन भेजने की तैयारी में है | मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल पर शराब घोटाले का आरोप है जिसके कारण यह समन भेजा जा रहा है | ईडी के इस कदम पर कई सवाल खड़े किये जा रहे हैं | कई बड़े नेताओं का कहना है की ईडी मोदी सरकार के इशारे पर काम कर रही है | बीजेपी की को निशाना साधते हुए अरविन्द केजरीवाल ने कहा, “पिछले 2 साल से बीजेपी की सारी एजेंसी शराब घोटाले में कई छापेमारी की और कई गिरफ्तारी की। लेकिन अभी तक एक भी पैसे का हेरफेर नहीं मिला।ऐसे फर्जी केस में कई AAP नेताओं को इन्होंने जेल में रखा हुआ है। अब बीजेपी मुझे गिरफ्तार करना चाहती है फर्जी समन भेजकर ये लोग मुझे बदनाम करना चाहते हैं। इन्होंने मुझे समन भेजा हुआ है और मेरे वकीलों ने बताया कि वो समन गैर कानूनी है। कानूनी रूप से सही समन आएगा तो मैं पूरा सहयोग करूंगा। बीजेपी का मकसद मुझे लोकसभा चुनाव में प्रचार करने से रोकना है।”

आपको बता दें की दिल्ली शराब नीति मामले में ईडी ने पांच ऐसे बिंदुओं के बारे में बताया है, जिनके आधार पर जांच एजेंसी केजरीवाल से पूछताछ करना चाहती है | यह बिंदु कुछ इस प्रकार हैं :-

ईडी की जांच में सामने आया है की ‘प्रोसीड ऑफ क्राइम’ के दौरान 338 करोड़ रुपये आम आदमी पार्टी तक पहुंचे हैं | दरअसल मनीष सिसोदिया की बेल पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के दौरान ईडी ने 338 करोड रुपये की मनी ट्रेल अदालत के सामने रखी थी| इसमें यह साबित हो रहा था कि शराब नीति के दौरान शराब माफिया से 338 करोड़ रुपये आम आदमी पार्टी तक पहुंचा है | पार्टी के संरक्षक अरविंद केजरीवाल हैं, इसलिए उनसे पूछताछ करना जरूरी है | शराब नीति मामला या कहें आबकारी मामले के आरोपी इंडोस्पिरिट के डायरेक्टर समीर महेंद्रू ने पूछताछ में ईडी को बताया कि अरविंद केजरीवाल के बेहद करीबी विजय नायर ने उसकी मुलाकात फेस टाइम ऐप के जरिये दिल्ली सीएम से करवाई थी | इसमें अरविंद केजरीवाल ने उससे बोला था कि विजय नायर उनका आदमी है और उसे नायर पर भरोसा रखना चाहिए | नई शराब नीति को लेकर मीटिंग अरविंद केजरीवाल के घर पर भी हुई थी | इस मुलाकात में कुछ प्रमुख नेता और लोग शामिल हुए थे | इस बात को भी आधार बनाकर ईडी केजरीवाल से पूछताछ करना चाहती है | मनीष सिसोदिया के तत्कालीन सचिव सी अरविंद ने पूछताछ के दौरान बताया कि आबकारी नीति में 6% का मार्जिन प्रॉफिट था, जिसे अरविंद केजरीवाल की मंजूरी से ही 12% किया गया था | यानी आबकारी नीति बनाने में अरविंद केजरीवाल की भी भूमिका थी | नई आबकारी नीति को लेकर जो कैबिनेट बैठक हुई थी वह कैबिनेट बैठक मुख्यमंत्री द्वारा बुलाई जाती है | कहीं न कहीं इस तरह से आबकारी नीति मामले के तार सीधे तौर पर अरविंद केजरीवाल से जुड़ रहे हैं | आप नेताओं का कहना है कि अरविंद केजरीवाल को गिरफ्तार किया जा सकता है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *