Tue. Feb 27th, 2024

हरदोई- हिट एंड रन मामले पर केन्द्र सरकार के द्वारा लाये गये नये कानून जिसमें हिट एंड रन पर चालक पर कार्यवाही कर दस साल सजा व 7 लाख रूपयों का जुर्माना देने की बात कही है। जिसके विरोध में सोमवार को चालको के द्वारा किये गये चक्का जाम व विरोध प्रदर्शन से लखनऊ-पलिया हाईवे पर किलोमीटरों जाम लग गया। जाम की स्थिति का हाल ये है कि हजारों छोटे बड़े वाहन घण्टों से जाम में फंसे रहे। पुलिस प्रशासन के भी जाम को छुड़ाते छुड़ाते पसीने छूट गये लेकिन स्थिति और अधिक खराब होती नजर आई। विरोध प्रदर्शन के चलते चालकों के द्वारा किये गये चक्का जाम से लगे भीषण जाम में एम्बुलेंस पर जा रहे मरीजों की जान पर आफत बनी रही। वहीं आने जाने वाले यात्रियों को जाम व बसों के बन्द होने से खासी समस्या का सामना कर पड़ रहा है। लखनऊ-हरदोई मार्ग पर नेशनल हाईवे के चौड़ीकरण का काम भी चल रहा है। जिससे समस्या पहले ही बनी हुयी थी लेकिन चक्का जान व विरोध प्रदर्शन से हालत और बदत्तर हो चुकी है। ऐसे में सण्डीला के मुख्य चौराहे पर भीषण जाम लगा रहा आने जाने वाले यात्रियों की बढ़ती भीड़ व साधनों की कमी कोढ़ में खाज का काम करती रही। कुछ यात्रियों को अपनी जरूरी यात्रा को स्थगित कर मायूस घर लौटने पर मजबूर होना पड़ा तो कई लोगो को किसी तरह दांतों तले उंगली दबा कर निकलना पड़ा।
चालको से बात करने पर बताया गया कि केन्द्र सरकार द्वारा इस तरह लागू किये अटपटे कानून का विरोध व प्रदर्शन कानून वापस न लिये जाने तक इसी तरह चक्का जाम करके निरन्तर जारी रहेगा। चालको का पहले ही वेतन बेहद कम होता है ऊपर से इस तरह मनमाना जुर्माना व सजा का प्रावधान बनाना किसी तानाशाही से कम नही है। वहीं जिले के आला अफसरोें के द्वारा चालको को बार बार समझाने बुझाने का प्रयास किया जाता रहा जो कि पूरी तरह विफल रहा।।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *