Thu. Feb 22nd, 2024

अयोध्या में 22 जनवरी को श्री राम मंदिर में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा होनी है. इसको लेकर पूरा देश उत्साहित है. हर कोई अपने तरीके से राम काज में बढ़-चढ़कर अपना योगदान देने को उत्सुक है. इसी प्रयास को आगे बढ़ाते हुए अखिल भारतीय डगबर समाज द्वारा मुख्य मंदिर के लिए 450 किलोग्राम का विशेष नगाड़ा 700 किलोग्राम के पावर स्टीयरिंग वाले रथ के साथ तैयार किया गया है. यह रामलला प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव के पहले अयोध्या के राम मंदिर तक पहुंचाया जाएगा.
अहमदाबाद के दरियापुर में 450 किलोग्राम का विशेष नगाड़ा तैयार किया गया है. इस नगाड़े को लेकर दीपक डगबर ने कहा, ‘राम मंदिर के लिए 4 नगाड़े बनाने का विचार हमने श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय के समक्ष रखा था. उन्होंने हमें कहा था कि इलेक्ट्रिक का नगाड़ा नहीं चाहिए. उसके बाद एक नगाड़ा बनाने की अनुमति दी, तो हमने नगाड़ा बनाना शुरू किया
दीपक ने आगे बताया कि नगाड़ा बनाने का काम अहमदाबाद में पिछले ढाई महीने से चल रहा है. अब ये लगभग बनकर तैयार हो चुका है. अगले कुछ दिनों में नगाड़े के बाहरी हिस्से पर नकसी काम करके तांबे की 8 प्लेट लगाई जाएगीं. इस पर सोने और चांदी की परत चढ़ाई जाएगी. इसके बाद 450 किलोग्राम के इस नगाड़े के लिए 700 किलोग्राम का पावर स्टीयरिंग वाला विशेष रथ भी बनाया जा रहा है. यह अगले हफ्ते तैयार होगा. उसी रथ पर 450 किलोग्राम के नगाड़े को रखा जाएगा.
नगाड़े को लेकर अंबा लाल डगबर ने कहा, ‘सामान्य तौर पर नगाड़ा पतरे से बनता है. मगर, राम मंदिर के लिए बन रहे नगाड़े में लोहे की प्लेट का इस्तेमाल किया गया है, ताकि नगाड़े को कई सालों की आयु दी जा सके.’ यानी कई दशकों तक रोजाना नगाड़ों की गूंज अयोध्या में गूंजती रहेगी.
बताया जा रहा है कि 8 जनवरी को ये नगाड़ा अहमदाबाद से अयोध्या भेजा जाएगा. तब तक इसकी अलौकिक गूंज दरियापुर में सुनाई देगी. लोग इस नगाड़े की झलक देखने के लिए पहुंच रहे हैं. ये नगाड़ा जब अयोध्या के लिए रवाना होगा, तब बीच रास्ते में कुछ जगहों पर इस नगाड़े का स्वागत किया जाएगा. 15 जनवरी को पावर स्टीयरिंग वाले रथ के साथ इस नगाड़े को श्रीराम मंदिर के सुपुर्द कर दिया जाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *