Wed. Feb 21st, 2024

बिजनौर के चांदपुर में राष्ट्रीय किसान मजदूर संगठन के कार्यकर्ताओं ने ज्ञापन देकर सरकार को चेतावनी दी है। राष्ट्रीय किसान मजदूर संगठन के नेता बोले एमएसपी पर कानून नहीं तो चुनाव में वोट नहीं । उन्होंने मुख्यमंत्री को संबोधित एसडीएम चांदपुर को ज्ञापन सौंपा है ज्ञापन में पांच सूत्रीय मांगों के जल्द से जल्द निवारण की मांग की है। कहां आवारा पशु किसानों की फसलों को नुक्सान पहुंचा रहे हैं गुलदार किसानों पर जंगल में हमला कर रहा है।

दरअसल शुक्रवार को राष्ट्रीय किसान मजदूर संगठन से जुड़े किसान चांदपुर तहसील परिसर पहुंचे और मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन उपजिलाधिकारी चांदपुर को सौंपा। उन्होंने ज्ञापन में किसानों से जुड़ी पांच समस्याओं के निवारण की मांग की है। राष्ट्रीय किसान मजदूर संगठन के नेता देवेन्द्र सिंह उर्फ बिट्टू ने कहा कि एमएसपी पर कानून नहीं तो वोट नहीं सरकार कान खोलकर सुन ले कानून नहीं बनाया तो किस वोट नहीं देगा। किसान भारी परेशान है गन्ने का सीजन शुरू हुए तीन महीने हो गए हैं लेकिन गन्ने का रेट घोषित नही किया जबकि अन्य राज्यों में रेट तय हो चुका है। सरकार ने 14 दिन में गन्ने के भुगतान की बात की थी किसान को 14 महीने में भुगतान मिलने को तैयार नहीं। आवारा पशु किसानों की फसलों को नुक्सान पहुंचा रहे हैं ऐसा ना हो आने वाले समय में जनता और सरकार को गेंहू व अन्य फसल मिलनी भारी हो जाए। जंगल में गुलदार के डर से किसान का जंगल में जाना दुशवार है किसान मजदूर जान जोखिम में डालकर खेती कर रहे हैं। उन्होंने किसानों की समस्याओं के निवारण की मांग की है।इस दौरान देवेंद्र सिंह उर्फ बिट्टू, छत्रपाल तोमर, दलेल सिंह यादव, दयाराम, सुभाष, सागर सिंह, हर गुलाल कश्यप, राकेश कुमार, मुस्तकीम राजपूत, अनीस अहमद, नवाब अली ,नेपाल ,अशोक कुमार आदि मौजूद रहे।

1- गन्ने का आधा सीजन निकल गया है गन्ने का मूल्य ₹500 प्रति कुंतल किया।
2- गुलदार व आवारा पशुओं से निजात दिलाई जाए।
3- एमएसपी गारंटी कानून बनवाया जाए।
4-स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू की जाए।
5-चांदपुर खादर क्षेत्र के बाढ़ प्रभावित किसानों का मुआवजा अतिशीघ्र दिलाया जाए।

रिपोर्ट मौ०इमरान अंसारी बिजनौर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *