Tue. Feb 27th, 2024

वाराणसी । भेलूपुर थाना क्षेत्र के रवींद्रपुरी गोयनका गली स्थित एक मकान के अंदर बने मंदिर में चोरी का राज खुल गया है । भेलूपुर पुलिस ने तीन अभियुक्तों को गिरफ्तार कर चुराया गया एक पीली धातु का त्रिशूल, एक सफेद प्लेट, अमरान की बैटरी, एलइडी टीवी और 3100 रुपया नगद के साथ घटना में प्रयुक्त ई रिक्शा बरामद कर लिया है । पुलिस उपायुक्त काशी जोन आर एस गौतम ने शुक्रवार को अपने कार्यालय में पत्रकारों से बातचीत करते हुए बताया की जिन तीन अभियुक्त को गिरफ्तार किया गया है, उनमें लंका के नगवा का निवासी सचिन रावत, दुर्गाकुंड सफाई बस्ती के निवासी विशाल कुमार तथा वही के समीर भारती शामिल हैं । उन्हें अस्सी नाले के पास से सुबह 3:45 बजे गिरफ्तार किया गया । घटना के संबंध में सिध्दीविनायक अपार्टमेंट विनायक कोल्हुआ निवासी ऋषिकेश कुमार द्वारा भेलूपुर थाने में तहरीर दी गई थी कि 27 अक्टूबर को मैं अपने फ्लैट में ताला बंद करके बिहार के बांका जिले के सौताडीह गांव चला गया था । इस दौरान अलमारी से चोरों ने सारे जेवरात चुरा लिए थे । इसी तरह सत्यवान उपाध्याय द्वारा तहरीर दी गई थी की 18 दिसंबर की रात 11:00 बजे कुछ लोगों ने मेरे घर के अंदर स्थित मंदिर से चांदी का सर्प, दान पत्र से 10000 रुपया नकद, बैटरी, इनवर्टर, टीवी, पीतल का घंटा और त्रिशूल चोरी कर लिया था । इसके अलावा कुछ चांदी भी चोर चुरा ले गए थे । घटना के संबंध में पुलिस ने धारा 393, 380, 453, के तहत मुकदमा दर्ज किया था । चोरी की घटना का खुलासा करने वाली पुलिस टीम को पुलिस उपायुक्त ने 10000 रुपया नगद पुरस्कार देने की घोषणा की है । पुलिस उपायुक्त ने बताया कि पूछताछ के दौरान अभियुक्तों ने जो जानकारी दी उसके तहत वह एक ई रिक्शा में चोरी का सारा माल रख बेचने की फिराक में थे । अभियुक्तों को गिरफ्तार और माल बरामद करने वाली टीम में अस्सी चौकी प्रभारी राहुल कुमार मौर्य, उप निरीक्षक दिगंबर उपाध्याय, वरुण कुमार शाही, आरक्षी सुमित शाही, कपिल देव मौर्य और संदीप कुमार शामिल रहे।

रिपोर्ट: धर्मेन्द्र पाण्डेय, वाराणसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *