Tue. Jun 18th, 2024

देश में कोरोना वायरस की एक बार फिर एंट्री हो गई है। कोरोना के आने से अब स्वास्थ्य विभाग की चिंताएं भी काफी बढ़ गई है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, भारत में रविवार को 335 नए कोविड-19 संक्रमण के मामले दर्ज किए गए और स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक देश में पिछले 24 घंटों में पांच मौतें हुईं. और मौत के चार मामले अकेले केरल से हैं,और एक उत्तर प्रदेश से है जहां कोरोना के एक नए सबवेरिएंट (JN.1) का पता चला है.

कोरोना ने दिया एक बार फिर से दस्तक

विओ, कोरोना के भारत में आने से WHO ने दुनिया भर के देशों से कोविड-19 के मामलों पर सख्ती से निगरानी रखने और डिटेल साझा करने का अनुरोध किया है. WHO की यह राय तब आई जब विभिन्न देशों के साथ भारत में भी कोरोना के मामले देखने को मिली . एक तरफ जहां कोरोना के मामले बढ़ने लगे हैं वहीं विभिन्न देशों में कोरोना का नया सब-वेरिएंट JN.1 तेजी से फैल रहा है,

लोगो में आई डर की दहशत

जिसके चलते एक बार फिर कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है.
कोविड के बढ़ते मामले को देखते हुए स्वास्थ विभाग ने बरती जाने वाली सावधानियों के बारे में बताया है
केरल की एक 79 वर्षीय महिला में COVID-19 सब-वेरिएंट JN.1 पाया गया है. इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च के महानिदेशक डॉ राजीव बहल ने कहा कि यह मामला 8 दिसंबर को दक्षिणी राज्य के तिरुवनंतपुरम जिले के काराकुलम से आरटी-पीसीआर पॉजिटिव सैंपल में पाया गया था. उन्होंने कहा कि सैंपल 18 नवंबर को आरटी-पीसीआर पॉजिटिव पाया गया था.

स्वास्थ विभाग की बढ़ी टेंशन

केरल की स्वास्थ्य मंत्री वीना जॉर्ज ने कहा कि राज्य में पाया गया कोविड-19 का सब-वेरिएंट जेएन.1 चिंता का विषय नहीं है. नए वेरिएंट के बारे में वीना जॉर्ज ने कहा कि कुछ महीनों पहले सिंगापुर एयरपोर्ट पर टेस्टिंग के दौरान ही एक भारतीय यात्री में कोरोना का नया सब-वेरिएंट मिला था.वही राज्य के स्वास्थ्य मंत्री ने लोगों से सतर्क रहने को कहा और कहा कि जिन लोगों को अन्य गंभीर बीमारियां हैं, उन्हें सावधान रहना चाहिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *