Sun. Jun 23rd, 2024

गुड़ में प्राकर्तिक मिठास के साथ प्रोटीन , विटामिन B12, विटामिन B6, फोलेट, कैल्सियम , आयरन, फास्फोरस और सेलेनियम जैसे तत्त्व पाए जाते हैं जो सेहत को कई समस्याओं से दूर रखने में मदद करते हैं | गुड़ सबसे हेल्दी फूड्स में से एक है जिसे आप अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं | ये सर्दियों के दौरान सबसे ज्यादा खाए जाने वाले फूड्स में से एक है | बहुत से लोग हैवी खाने के बाद और सांसों की दुर्गंध से बचने के लिए भी गुड़ का सेवन करते हैं | यह आपकी चीनी की लत से छुटकारा पाने में मदद कर सकता है | इसके अलावा गुड़ में वसा ना मौजूद होने के कारण ये वेट लॉस में भी मदद करता है | भाग-दौड़ भरी ज़िन्दगी और दिनचर्या में हम रोज़ाना अपना ख़याल नहीं रख पाते हैं जिसके कारण आप कई बीमारियों का शिकार हो जाते हैं | अब इस कारण से नींद का ना आना , भूख का ना लगना , हड्डियों का कमजोर होना, खून की कमी जैसे अनेकों बीमारियों से जूझना पड़ता है | अब ऐसे में कुछ घरेलु नुस्खें आपको फायदा पंहुचा सकते हैं और बीमारियों से दूर रख सकते हैं |

गुड़ और चने के फायदे-

बीपी कण्ट्रोल करने से लेकर वेट लॉस तक सबमे लाभकारी होता है गुड़ और अगर इसके साथ भुने चने का सेवन किया जाए तो ये रामबाण बन जाता है | गुड़ और चने का साथ में सेवन करने से शरीर को कई लाभ मिलते हैं | भुने चने सेहत के लिए काफी गुणकारी होते हैं | इसमें प्रोटीन, फोलेट, आयरन, पोटैशियम और फाइबर पाया जाता है | वहीँ गुड़ में विटामिन और खनिज पाया जाता है, जैसे- कैल्शियम, फास्फोरस, मैग्नीशियम, पोटेशियम और लौह और जिंक, तांबा, फोलिक एसिड और बी. कॉम्प्लेक्स पाया जाता है जो शरीर के लिए बहुत ज़रूरी तत्त्व होता है | रोजाना गुड़ और चना खाने से इम्यूनिटी को मजबूत, एनर्जी को बूस्ट किया जा सकता है | इतना ही नहीं एनीमिया की शिकायत होने पर गुड़ और चने का सेवन फायदेमंद माना जाता है | तो चलिए आज जानते हैं गुड़ और भूने चने का सेवन करने से आपको क्या लाभ होने वाले हैं |

हड्डियों के लिए लाभकारी:

बच्चे हों, जवाव हों या फिर बुजुर्ग सभी में कैल्सियम की कमी से होने वाली हड्डियों से जुडी बीमारियों से झुझते हुए देखा जाता है लेकिन हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए रोज गुड़ और चने का सेवन करने से इससे बचा जा सकता है | गुड़ और चने में मौजूद कैल्शियम हड्डियों को कमजोर होने से बचाने में मदद कर सकता है और साथ ही सर्दियों में इसके सेवन से शरीर गर्म रहता हैं और मौसमी बीमारियां भी लगने का डर भी नहीं रहता।

मोटापे में लाभकारी:

शरीर में फैट का होना ज़रूरी होता है लेकिन अतिरिक्त फैट को हटाना उससे भी ज्यादा ज़रूरी होता है | अगर आप मोटापे से परेशान हैं तो आप गुड़ और चने का सेवन कर सकते हैं क्योंकि चने में फाइबर के गुण पाए जाते हैं, जो पेट को लंबे समय तक भरा हुआ एहसास कराते हैं | जिससे आप अधिक खाने से बच सकते हैं | गुड़ और चने के सेवन से आपको एनर्जी भी मिलती है |

एनिमिया को दूर करने में लाभकारी:

अगर आपको एनिमिया यानी शरीर में आयरन की कमी है तो आपके लिए गुड़ और चना एक वरदान के रूप में साबित हो सकता है | शरीर में एनिमिया की कमी से थकान और कमजोरी महसूस होते हैं जिसके कारण किसी भी कार्य में आपका मन नहीं लगता है | अब ऐसे में चने और गुड़ का सेवन करने से आपके शरीर में आयरन की कमी दूर हो सकती है क्योकि चने और गुड़ में आयरन पाया जाता है, जो खून की कमी को दूर करने में मदद कर सकता है |

पेट के लिए लाभकारी:

एक कहावत कही जाती है की पेट साफ़ तो सब साफ़ लेकिन आये दिन हम बाहर का फास्टफूड , जंक फ़ूड या चिकना खाना खाते कहते रहते हैं जिससे कब्ज की समस्या पैदा हो जाती है और सुबह पेट साफ़ नहीं होता है | जिसके कारण मन भारी सा लगता है और चिड़चिड़ापन भी होने लगता है लेकिन चने और गुड़ के सेवन से आप इस परेशानी से बच सकते हैं क्योंकि चने और गुड़ में मौजूद फाइबर से पाचन तंत्र बेहतर होता है मोशन में भी परेशानी नहीं आती है |

इम्युनिटी में लाभकारी:

शरीर में इम्युनिटी की कमी के कारण आप कई बीमारियों का शिकार हो जाते हैं | आपको कई तरह की परेशानियां हो जाती है | अगर शरीर में बेहतर इम्युनिटी है तो आपका शरीर स्वस्थ और तंदरूस्त रहता है | अभी सर्दी का मौसम है और सर्दी , जुकाम , खासी जैसी आम समस्याओं का होना लाजमी है | इससे बचने के लिए आप गुड़ और चने का सेवन कर सकते हैं| गुड़ और चने में ढ़ेर सारे पोषक तत्त्व मौजूद होते है जैसे एंटीऑक्सीडेंट, जिंक एवं सेलेनियम | ये खनिज फ्री रेडिकल की क्षति को रोककर इम्युनिटी को बूस्ट करने में मदद करते हैं |

अनिद्रा में लाभकारी:

रोज़मर्रा के कामों और तनाव के कारण नींद में कमी एक आम समस्या बन गयी है | अक्सर लोगों को इस परेशानी से जूझना पड़ता है लेकिन चने और गुड़ का सेवन ऐसे में लाभदायक हो सकता है क्योंकि गुड़ में मौजूद पोटैशियम इलेक्ट्रोलाइट को संतुलित करके मेटाबोलिज्म को बढ़ाता है। साथ ही यह वाटर रिटेंशन की समस्या को भी कम करता है जिससे बेहतर नींद आती है | चना आपके पेट को दुरुस्त करता है जिससे आप सुबह फ्रेश और एक्टिव महसूस करते हैं |

बीपी की बिमारी में लाभकारी:

अगर आपको बीपी की समस्या है तो आपके लिए चना और गुड़ बीपी की दवा की तरह काम कर सकता है | चने में फाइबर पाया जाता है और वह ब्लड प्रेशर को कम करने में सहायक होता है। फाइबर के कारण मोटापा तेजी से कम होता है। साथ ही, नसों में जमा प्लाक कम होने में मदद मिलती है। इसी तरह गुड़ में आयरन पाया जाता है जो ब्लड प्रेशर रेगुलेशन में मदद करता है | इसके अलावा गुड़ में पोटाशियम और सोडियम भी पाया जाता है जो ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करता है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *