UP: कोतवाली के बाथरूम में युवक ने दी जान, पिता ने पुलिस वालों पर लगाया आरोप, 5 पुलिसकर्मी निलंबित

UP: कोतवाली के बाथरूम में युवक ने दी जान, पिता ने पुलिस वालों पर लगाया आरोप, 5 पुलिसकर्मी निलंबित

उत्तर प्रदेश(UP) के कासगंज जनपद की सदर कोतवाली की हवालात में बंद एक युवक की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत का मामला सामने आया है। युवक की मौत पर पिता ने पुलिस वालों पर उसकी हत्या का आरोप लगाया है। हालांकि पुलिस अधीक्षक ने इस मामले में कड़ी कार्रवाई करते हुए इंस्पेक्टर सहित पांच पुलिसकर्मियों को निलंबित किया है।

दरअसल, अलताफ (22) पुत्र चांद मियां निवासी नगला सैय्यद टायल मिस्त्री का काम करता था। किसी परिवार में वह टायल लगा रहा था। उसी परिवार की लड़की लापता हो गई। लड़की के परिजनों ने युवक पर लड़की भगा ले जाने की शिकायत पुलिस से की। इस शिकायत पर पुलिस सोमवार की रात्रि करीब आठ बजे युवक को हिरासत में लेकर थाने ले आई। तभी से आरोपी युवक पुलिस की हिरासत में था।

मंगलवार अपराह्न के समय अलताफ ने पेशाब जाने के लिए कहा तो वहां मौजूद पुलिसकर्मियों ने उसे हवालात के शौचालय में भेज दिया। आरोप है कि यहां युवक ने अपनी जैकेट की टोपी में लगी डोरी को पाइप में बांधकर गले में फांसी लगा ली। कुछ देर तक युवक जब बाहर नहीं निकला तो पुलिसकर्मियों ने अंदर जाकर उसे आवाज लगाई, लेकिन आवाज नहीं आई। शौचालय में देखा तो वह फंदे पर लटका हुआ था और उसकी सांसें चल रहीं थीं। पुलिस युवक को जिला अस्पताल ले गई। यहां उपचार के दौरान युवक की मौत हो गई। 

My Bharat News - Article WhatsApp Image 2021 11 10 at 1.10.44 PM

इस मामले में कासगंज पुलिस अधीक्षक रोहन प्रमोद बोत्रे का कहना है कि आरोपी युवक नाबालिग लड़की को भगाने के आरोप में नामजद था। पुलिस आरोपी को पूछताछ के लिए लाई थी। जैकेट की डोरी से युवक ने शौचालय में फांसी लगाई है। पूरे मामले की जांच पड़ताल की जा रही है। जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ कार्रवाई होगी।

बता दे युवक की मौत की सूचना परिवार के लोगों को दी गई। युवक की मौत की सूचना से परिवार में कोहराम मचा हुआ है। परिवार के लोगों में पुलिस के खिलाफ काफी आक्रोश देखा गया। युवक के पिता ने मीडिया के सामने अपने बेटे को खुद पुलिस को सौंपने की बात कही जिसके बाद युवक की मौत पर पिता ने पुलिस कर्मियों को बेटे की मौत का जिम्मेदार बताया।