यूपी:गुटखा कारोबारी के घर पर छापा सोफे और गद्दों में छिपा रखा था ढेर सारा कैश

My Bharat News - Article 6
गुटखा व्यापारी के घर पर पड़ा छापा

यूपी के अलग-अलग जिलों में बड़े व्यापारी के घरों पर छापा मारने की कार्रवाई एक बार फिर से शुरू हो गई है कानपुर के बाद अब हमीरपुर में भी गुटखा व्यापारी के घर पर छापा पड़ा जहां व्यापारी ने अपने घर के सोफे और गद्दों में बड़ी मात्रा मे कैश छिपा रखा था. उत्तर प्रदेश के हमीरपुर में गुटखा कारोबारी के ठिकाने से सीजीएसटी की कानपुर टीम की 16 घंटे तक चली छापेमारी में साढ़े 6 करोड़ रुपये का कैश टीम के हाथ लगा है. कैश को कब्जे में लेकर सरकार के खजाने में जमा कराए जाने की कार्रवाई शुरू हो गई है. इतनी बड़ी धनराशि व्यापारी ने अपने आवास में सोफे ओर बेड के गद्दे में छिपाकर रखे थे, जिसे गिनने के लिए बैंक कर्मियों को तीन मशीनों की मदद लेनी पड़ी.

My Bharat News - Article
व्यापारी के घर पर छापेमारी की कार्रवाई के मचा हड़कंप

पूरा मामला बुंदेलखंड के हमीरपुर जिले के सुमेरपुर कस्बे का है जहां सीजीएसटी की कानपुर की टीम के एक दर्जन अधिकारी गुटखा कारोबारी के आवास पहुंचे और टीम के सभी अधिकारियों ने आवास के मेन गेट खुलते ही छापेमारी शुरू कर दी. शुरू में कारोबारी के घर के लोगों ने मेन गेट खोलने से मना किया था लेकिन टीम ने कड़े तेवर के बाद आवास के दरवाजे और गेट खोले गये, सेंट्रल जीएसटी की इस टीम से कस्बे सहित जिले में हडकंप मच गया.

My Bharat News - Article
बड़ी तादाद में मिले कैश को गिनने के लिए मंगानी पड़ी मशीन

सुबह से चल रही इस कार्यवाही को कौन सी टीम अंजाम दे रही थी इस बात की किसी को जानकारी नहीं थी, टीम के अधिकारीयों ने भी ये भनक नहीं लगने दी की वो किस विभाग से हैं. मीडिया के दबाव के बाद अधिकारियों ने इस बात को स्वीकार किया कि ये छापेमारी के सेंट्रल जीएसटी के द्वारा की जा रही है. सीजीएसटी टीम की जांच में सामने आया है कि गुटखा व्यापारी अपना करोड़ों का गोरखधंधा दो नौकरों के नाम से चला रहा था. घर और फैक्ट्री से मिले कागजातों से टैक्स चोरी की भी पुष्टि भी हुई है, टीम जल्द ही व्यापारी के खिलाफ टैक्स चोरी का मुकदमा भी दर्ज करा सकती है. गुटखा व्यापारी के घर की तलाशी के दौरान बैंक खातों, कारोबार से जुड़े दस्तावेज, लैपटाप कब्जे में लिए गए हैं, इन कागजादों के आधार पर CGST टीम को काफी गड़बड़ियां मिली है.