UP Elections 2022: चुनाव आयोग से अखिलेश ने की मांग ,वर्चुअल रैली कराने में सुविधा देने की कही बात

My Bharat News - Article Capture 7

कोरोना के बढ़ते कहर को देखते हुए सभी राजनीतिक दलों ने अपनी चुनाव संबंधी रैलियों को रद्द करने का फैसला लिया था । चुनाव आयोग ने सभी पार्टियों को वर्चुअल रैली करने का सुझाव दिया था । इस बात पर सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि अगर चुनाव आयोग वर्चुअल रैली कराने की बात कहेगा तो हम मांग करेंगे कि आयोग डिजिटल प्लेटफॉर्म उपलब्ध कराने में हमारी मदद करे। अखिलेश यादव ने चुनाव आयोग द्वारा वर्चुअल रैली करवाने संबंधी आदेश की संभावना पर ये बात कही।


अखिलेश यादव ने ये भी कहा कि भाजपा के आईटी हेड जो कि मेरी फोटो लगाकर झूठ फैला रहे हैं उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई जाएगी। यह आदमी पैसे लेकर प्रेपोगेंडा फैला रहा है। अखिलेश ने बताया कि उसने मेरी एक फ्रांस की तस्वीर लगाई है। जिसमें मुझे एक इत्र कारोबारी के साथ दिखाया गया है। ये झूठ फैला रहा है।


2022 में सरकार बनने पर अखिलेश यादव ने  फिर से युवाओं को लैपटॉप देने की बात कही है ।उन्होंने शिक्षक भर्ती को लेकर प्रदर्शन कर रहे युवाओं से कहा कि वो अपने घर वापस लौट जाएं, बूथ पर काम करें और भाजपा को हराएं। सपा की सरकार आएगी तो न्याय होगा।

मैनपुरी सैनिक स्कूल का नाम बदलने पर अखिलेश यादव ने कहा कि योगी आदित्यनाथ सिर्फ नाम बदलने वाले मुख्यमंत्री हैं। इस बार के चुनाव में जनता उन्हें बदल देगी। शहीद जनरल बिपिन रावत का सभी सम्मान करते हैं। उनके नाम पर कुछ नया करना चाहिए था पर ये लोग सिर्फ नाम ही बदल सकते हैं।

अखिलेश यादव ने परशुराम की प्रतिमा का अनावरण करने पर कहा कि भगवान परशुराम सभी के हैं। वो किसी एक दल के नहीं हैं। शिक्षा व्यवस्था को बेहतर करने को लेकर उन्होंने कहा कि सपा सरकार में ऐसी योजनाएं चलाएंगे जिससे कि गरीब बच्चे भी अच्छी शिक्षा के लिए विदेश जा सकें।