UP: अखिलेश यादव के एक बयान पर कांग्रेस का पलटवार, किया नकली समाजवादी करार

UP: अखिलेश यादव के एक बयान पर कांग्रेस का पलटवार, किया नकली समाजवादी करार

UP: समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के एक बयान ने कांग्रेस को गहरी चोट पहुंचाई हैं, जिसके चलते ट्विटर पर बवाल मच गया। प्रदेश कांग्रेस के आधिकारिक ट्वीटर हैंडल पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और मुलायम सिंह यादव का फोटो अपलोड करते हुए उन्हे नकली समाजवादी करार दिया है। इसके साथ ही दूसरी ओर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व राज्यपाल अजीज कुरैशी ने सबके बीच कांग्रेस को सपा से समझौते का सुझाव दिया है।

दरअसल, अखिलेश यादव ने शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा था कि जो कांग्रेस है, वही भाजपा है। जो भाजपा है, वही कांग्रेस है। इस पर यूपी कांग्रेस ने ट्वीट करते हुए कहा है-‘काजू भुने प्लेट में, मिनरल वाटर गिलास में। नकली समाजवाद उतरा है, योगी के आवास में। ईडी-आयकर से बचने के लिए संघर्ष करते हुए अखिलेश जी की एक शानदार तस्वीर।’

आपको बात दे,  यह तस्वीर उस समय की है, जब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव का हालचाल लेने उनके आवास पर गए थे। उस समय पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव भी वहां मौजूद थे। इस फोटो को एडिट करते हुए कांग्रेस की सोशल मीडिया टीम ने इसे योगी के आवास पर दिखा दिया है।

Congress Mega Plan For 2022 Up Election Under Priyanka Gandhi - 2022 के  लिये कांग्रेस का मेगा प्लान, प्रियंका गांधी के इस दांव से सपा-बसपा व भाजपा  में बेचैनी | Patrika News

वहीं एक अन्य ट्वीट में यूपी कांग्रेस ने कहा है कि जी नई हवा है, जो भाजपा है, वही सपा है। इसलिए मुलायम सिंह का साथ मोदी को मिल रहा है। बिलरिया गंज और आजम खान पर इनका मुंह नहीं खुल रहा है। जनता परेशान है और ड्राइंग रूप में बैठे-बैठे उनका भाजपा के साथ फिक्स्ड मैच चल रहा है। मुलायम सिंह ने नरेंद्र मोदी के दुबारा प्रधानमंत्री बनने की कामना की।

दूसरी ओर  पूर्व राज्यपाल अजीज कुरैशी ने एक बयान में कहा कि वर्तमान राजनीतिक स्थिति में अखिलेश यादव और उनकी पार्टी ही बीजेपी सरकार को उखाड़ फेंक सकती है। भाजपा की गलत नीतियों से मुक्ति के लिए जरूरी है कि प्रियंका गांधी, सपा और अखिलेश यादव से सम्मानजनक समझौता करें।