जल्द आ रही है यूनिवर्सल वैक्सीन,भविष्य की महामारियों को मात देने की तैयारी

My Bharat News - Article universal vaccine 1 0
जल्द ही आएगी कोरोना की यूनिवर्सल वैक्सीन

कोरोना महामारी के बदलता स्वरूप चुनौती बना हुआ है, कोरोना के नए-नए वैरिएंट हर कोई परेशान है. दुनिया भर में कोरोना के कई तरफ के वैरिएंट देखने को मिल रहे है.जिससे निपटना एक बड़ी चुनौती है. वहीं इसको लेकर वैज्ञानिक अब ऐसी बनाने पर काम कर रहे है. जो कोरोना वायरस के हर वैरिएंट पर कारगर साबित हो.

My Bharat News - Article navbharat times 1 3
वैज्ञानिकों द्वारा तैयार की जा रही यूनिवर्सल वैक्सीन कोरोना के हर वैरिएंट के अलावा भविष्य में आने वाली महामारियों को मात देने में मदद करेगी.


वैज्ञानिकों द्वारा तैयार की जा रही यूनिवर्सल वैक्सीन कोरोना के हर वैरिएंट के अलावा भविष्य में आने वाली महामारियों को मात देने में मदद करेगी. वैज्ञानिकों ने ऐसी वैक्सीन तैयार कर ली है. जो कोरोना वायरल के अलग-अलग वैरिएंट पर असरदार साबित होगी. इस वैक्सीन का ट्रायल अभी चूहों पर किया गया है.
बता दें कि चूहों पर जब इस वैक्सीन का ट्रायल किया गया, तब वैक्सीन ने कई ऐसी एंटीबॉडी डेवलेप की जो कई स्पाइक प्रोटीन का सामना कर सकती हैं. इसमें साउथ अफ्रीका में पाए गए B.1.351 जैसे वैरिएंट भी शामिल रहे. अगर वैज्ञानिक सफल रहते हैं, तो मानवजाति के लिए ये किसी वरदान से कम नहीं होगी.

My Bharat News - Article 914328 corona vaccine
यूनिवर्सल वैक्सीन के आने के बाद मानवजाति के लिए साबित होगी ये वरदान

जर्नल साइंस में प्रकाशित स्टडी में सेकंड जेनरेशन वैक्सीन पर ध्यान दिया, जो सरबेकोवायरस को निशाना बनाती है. दरअसल, सरबेकोवायरस, कोरोना वायरस के बड़े परिवार का हिस्सा है. साथ ही ये सार्स और कोविड-19 फैलाने के बाद वायरोलॉजिस्ट्स के लिए जरूरी बना हुआ है. जानकार इन वायरस पर प्राथमिकता के साथ काम कर रहे हैं. खास बात यह है कि टीम ने इसमें mRNA का इस्तेमाल किया है, जो फाइजर और मॉडर्ना वैक्सीन की तरह ही है.

My Bharat News - Article Vaccine trial PTI 1200 07122020 compressed
वैक्सीन को अगले साल इंसानी ट्रायल्स तक भी लाया जा सकता है.

हालांकि, इसमें केवल एक वायरस के लिए mRNA कोड डालने के बजाए उन्होंने कई कोरोना वायरस के mRNA को साथ जोड़ दिया है. चूहों को जब यह हायब्रिड वैक्सीन दी गई, तो उसने असरदार तरीके से अलग-अलग स्पाइक प्रोटीन्स के खिलाफ न्यूट्रलाइजिंग एंटीबॉडीज तैयार की. शोधकर्ताओं ने उम्मीद जताई है कि आगे और टेस्टिंग के बाद इस वैक्सीन को अगले साल इंसानी ट्रायल्स तक भी लाया जा सकता है.