किसान आंदोलन के 100 दिन पूरे होने के बाद आज करेंगे चक्का जाम,कुंडली-मानेसर-पलवल एक्सप्रेस वे को करेंगे जाम

My Bharat News - Article 12 3
कुंडली-मानेसर-पलवल एक्सप्रेस वे को जाम करने जाते हुए किसान

केंद्र सरकार के कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन कर रहे किसान आज सुबह 11 बजे से 4 बजे तक कुंडली-मानेसर-पलवल एक्सप्रेस वे को जाम करेंगे.दिल्ली से जुड़ी हुई सीमाओं पर किसानों की ओर से केंद्र सरकार के खिलाफ चले जा रहे आंदोलन के खिलाफ आज 100 दिन हो गए हैं.26 नवंबर को देश में किसानों ने आंदोलन की शुरूआत की थी.

My Bharat News - Article 16 3
26 नवंबर से देश में शुरू हुआ किसान आंदोलन

सिंघु बॉर्डर से किसान कुंडली पहुंचकर एक्सप्रेस वे का रास्ता ब्लॉक कर देंगे. इसके अलावा, गाजीपुर और टिकरी बॉर्डर से किसान  डासना और बहादुरगढ़ टोल प्लाजा को ब्लॉक करेंगे. शाजहांपुर बॉर्डर पर बैठे किसान गुरुग्राम-मानेसर को जाने वाले केएमपी एक्सप्रेस वे को ब्लॉक करेंगे.

My Bharat News - Article 54 1
कुंडली पहुंचकर किसानों ने हाईवे को किया ब्लॉक

किसानों की योजना टोल प्लाजा पर वाहनों को टोल फ्री कराने का है. किसानों ने यह भी कहा है कि बॉर्डर के सभी नजदीकी टोल प्लाजा पर भी प्रदर्शन किया जाएगा. गाजीपुर बॉर्डर पर तैनात भारतीय किसान यूनियन के उत्तर प्रदेश अध्यक्ष राजवीर सिंह जादौन ने बताया, ये टोल प्लाजा शांतिपूर्ण तरीके से अवरुद्ध किए जाएंगे. इनसे राहगीरों को परेशानी नहीं होगी. हम राहगीरों के लिए पानी की व्यवस्था करेंगे. उन्हें कृषि कानूनों  के बारे में हमारे मुद्दों से भी अवगत कराया जाएगा.

My Bharat News - Article 10
राजवीर सिंह जादौन प्रदेश अध्यक्ष भारतीय किसान यूनियन

राजवीर सिंह जादौन ने आगे कहा, आपातकालीन वाहनों को बिल्कुल भी नहीं रोका जाएगा, चाहे वह एम्बुलेंस हो या फायर ब्रिगेड या विदेशी पर्यटकों की गाड़ी हो. सैन्य वाहनों को भी इस दौरान नहीं रोका जाएगा.

My Bharat News - Article 134
मांगे पूरी ना होने पर घर न लौटने के फैसले पर अड़े हुए हैं किसान

आपको बता दें कि तीन नए कृषि कानूनों को रद्द करने और न्यूनतम समर्थन मूल्य की गारंटी समेत अन्य मांगों को लेकर 26 नवंबर से किसान आंदोलन  कर रहे हैं. किसान मांगें पूरी होने तक घर न लौटने के फैसले पर अड़े हुए हैं. सरकार से तमाम दौर की वार्ता के बाद भी कोई हल नहीं निकला है.

My Bharat News - Article 17 2
लोकसभा मे पीएम मोदी भी कह चुके हैं एमएसपी कभी नहीं खत्म होने वाला है

वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  सदन में खुद कह चुके हैं कि MSP था, है और रहेगा फिर भी किसान आंदोलन खत्म करने को तैयार नहीं हैं. अब तक 11 दौर की वार्ता असफल हो चुकी है. किसान आंदोलन के दौरान हालात तब बेकाबू हो गए जब 26 जनवरी को ट्रैक्टर रैली के नाम पर दिल्ली में उपद्रव किया गया. उपद्रवी लाल किला तक पहुंच गए और वहां झंडा लगा दिया.