30 C
Lucknow
रविवार, जुलाई 25, 2021

तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार को दिखाया आईना, 15 साल की राजनीति पर फेरा पानी, 2020 में JDU का सबसे खराब प्रदर्शन

Must read

पेगासस जासूसी मामले में राहुल गांधी ने बीजेपी पर आरोप लगाते हुए गृह मंत्री अमित शाह से मांगा इस्तीफा

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने पेगासस जासूसी मामले में बीजेपी पर एक के बाद एक कई आरोप लगाते हुए गृह...

बीएसपी के प्रबुद्ध सम्मेलन में दिखे प्रभु श्रीराम और परशुराम के पोस्टर अयोध्या से की सम्मेलन की शुरूआत

यूपी विधान सभा चुनाव 2021 से पहले ब्राह्मणों को अपने पाले में लाने के लिए बीएसपी ब्राह्मण सम्मेलन कर रही है. अयोध्या...

टीएमसी सांसद शांतनु सेन पूरे सत्र के लिए हुए सस्पेंड पेपर फाड़ने के लिए उपसभापति ने की कार्यवाही

टीएमसी सांसद शांतनु सेन ने गुरुवार को राज्यसभा में जो दुर्व्यव्हार किया था उसके लिए उन्हें मानसून सत्र के बाकी दिनों के...

लश्कर ए तैयबा के दो आतंकियों को सुरक्षाबलों ने किया ढेर

उत्तरी कश्मीर के सोपोर में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में लश्कर-ए-तैयबा के दो आतंकवादियों को सुरक्षाबलों ने मार गिराया है.आंतकियों के मारे...

नई दिल्ली. बिहार विधान सभा में इस वक्त वोटों की गिनती लगातार जारी है. ताजा रुझान के मुताबिक NDA सबसे आगे चल रही है. जबकि दूसरे नंबर पर महागठबंधन है. अगर रुझानों को नतीजों में बदला जाए तो ऐसा लग रहा है कि एक बार फिर से बिहार में एनडीए की सरकार बन सकती है. अब तक के रुझानों और नतीजों में खास बात ये देखने को मिली है कि इस बार राज्य में बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभर रही है. बीजेपी फिलहाल 70 से ज्यादा सीटों पर आगे है. जबकि दूसरे नंबर पर आरजेडी है. उधर नीतीश कुमार की पार्टी तीसरे नंबर पर पिछड़ गई है. अगर ताजा रुझानों को सही मानें तो जेडीयू 50 से कम सीटों पर सिमट सकती है. आकड़ों पर नजर डालें तो पिछले 15 साल में नीतीश की पार्टी का ये सबसे खराब प्रदर्शन है.

JDU का सबसे खराब प्रदर्शन
ऐसा लग रहा है कि पहली बार मार्च 2000 में बिहार की गद्दी संभालने वाले नीतीश कुमार की लोकप्रियता अब घटने लगी है. या यूं कहे तेजस्वी यादव के 2020 के चुनाव प्रचार में दिखी तेजी और ऊर्जा ने नीतीश कुमार को हल्का साबित कर दिया है…और गाहे बगाहे प्रचार में तेजस्वी यादव पर हमला बोलते समय नीतीश कुमार का बुढ़ापा साफ झलकता था….लिहाजा नीतीश कुमार की पार्टी की पकड़ जनता के बीच कमज़ोर होती दिख रही है. आंकड़ों पर नजर डालें तो साल 2005 के फरवरी में हुए चुनाव में नीतीश की पार्टी को 55 सीटों पर जीत मिली थी. इसके बाद अक्टूबर 2005 के चुनाव में जेडीयू को 88 सीटों पर धमाकेदार जीत मिली थी. उस वक्त राज्य में नीतीश की पार्टी सीटों के मामले में पहले नंबर पर थी. साल 2010 के चुनाव में JDU ने अपनी सीटों की संख्या बढ़ा कर 115 कर ली. पिछली बार यानी 2015 में JDU को 71 सीटों पर जीत मिली थी. पिछले चुनाव में नीतीश ने लालू यादव की पार्टी आरजेडी से हाथ मिलाया था.

क्या होगा नीतीश का?
बिहार में बीजेपी और जेडीयू के बीच सीटों को लेकर लंबे समय से खींचतान चल रही है. नीतीश को सीएम बनाने का ऐलान एनडीए गठबंधन पहले ही कर चुका है. ऐसे में अगर एनडीए को जीत मिलती है तो फिर उन्हें ही बिहार की कमान दी जाएगी. लेकिन इतना तय है कि नीतीश के लिए रास्ता आसान नहीं होगा. सबसे ज्यादा सीटों पर जीत मिलने से बीजेपी के कई नेता नीतीश की सीएम पद की दावेदारी को लेकर सवाल उठा सकते हैं. ऐसे में ये देखना दिलचस्प होगा कि नीतीश एक बार फिर से कितने दिनों तक बिहार की सत्ता संभालते हैं.

रिटायरमेंट का किया था ऐलान
पिछले दिनों चुनावी रैली में नीतीश ने रिटायरमेंट का ऐलान किया था. पूर्णिया के पास धमदाहा में रैली में जनता से उन्होंने कहा था, ‘आप जान लीजिए आज तीसरे चरण के प्रचार का आखिरी दिन है. अब परसों चुनाव है और ये मेरा अंतिम चुनाव है. अंत भला तो सब भला.’ नीतीश की इन बातों के बाद तरह-तरह के कयास लगाए जा रहे हैं.

- विज्ञापन -

More articles

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- विज्ञापन -

Latest article

पेगासस जासूसी मामले में राहुल गांधी ने बीजेपी पर आरोप लगाते हुए गृह मंत्री अमित शाह से मांगा इस्तीफा

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने पेगासस जासूसी मामले में बीजेपी पर एक के बाद एक कई आरोप लगाते हुए गृह...

बीएसपी के प्रबुद्ध सम्मेलन में दिखे प्रभु श्रीराम और परशुराम के पोस्टर अयोध्या से की सम्मेलन की शुरूआत

यूपी विधान सभा चुनाव 2021 से पहले ब्राह्मणों को अपने पाले में लाने के लिए बीएसपी ब्राह्मण सम्मेलन कर रही है. अयोध्या...

टीएमसी सांसद शांतनु सेन पूरे सत्र के लिए हुए सस्पेंड पेपर फाड़ने के लिए उपसभापति ने की कार्यवाही

टीएमसी सांसद शांतनु सेन ने गुरुवार को राज्यसभा में जो दुर्व्यव्हार किया था उसके लिए उन्हें मानसून सत्र के बाकी दिनों के...

लश्कर ए तैयबा के दो आतंकियों को सुरक्षाबलों ने किया ढेर

उत्तरी कश्मीर के सोपोर में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में लश्कर-ए-तैयबा के दो आतंकवादियों को सुरक्षाबलों ने मार गिराया है.आंतकियों के मारे...

सिद्धू ने संभाली पंजाब प्रदेश अध्यक्ष की कमान कैप्टन अमरिंदर से जंग के बीच सिद्धु की हुई ताजपोशी

कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष की कमान संभाली ली है. चंडीगढ़ में आयोजित एक कार्यक्रम में सिद्धू की...