T20 WC: हार्दिक पांड्या की टीम में जगह पर विराट कोहली ने दिया यह जवाब, बताया PAK के खिलाफ क्या होगी प्लेइंग-11

T20 WC: हार्दिक पांड्या की टीम में जगह पर विराट कोहली ने दिया यह जवाब, बताया PAK के खिलाफ क्या होगी प्लेइंग-11

24 अक्टूबर को होने वाला महामुकाबला यानी T20 WC से पहले टीम भारत के कप्तान विराट कोहली ने वर्चुअल प्रेस कांफ्रेंस की। शनिवार को विराट कोहली ने कहा कि हमारा फोकस पूरी तरह से मैच पर है और हम अपना बेस्ट खेल दिखाएंगे। उन्होंने आगे कहा कि इस महामुकाबले के लिए टीम इंडिया पूरी तरह तैयार है, लेकिन प्लेइंग-11 की घोषणा अभी नहीं की जाएगी। भारत-पाक मुकाबला रविवार को दुबई अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम में शाम 7:30 बजे से खेला जाएगा। टॉस के आधे घंटे पहले यानी शाम सात बजे प्लेइंग-11 का खुलासा होगा।

कैप्टन विराट कोहली ने हार्दिक पंड्या की बॉलिंग को लेकर कहा कि हमें उसकी चिंता नहीं है, बतौर फिनिशर वो हमारे लिए काफी बेहतर प्रदर्शन कर सकते हैं। ऐसे में अगर ओवर्स की जरूरत पड़ती है, तो उसके लिए हमारे पास प्लान हैं। ऐसे में हम उसको लेकर ज्यादा नहीं सोच रहे हैं। हार्दिक पंड्या पूरी तरह फिट हैं।

आपको बता दें, हार्दिक पंड्या काफी अरसे से चोट लगने की वजह से बॉलिंग नहीं कर पर रहे थे। ऐसे में ये सवाल खड़े हो रहे थे कि क्या हार्दिक को प्लेइंग-11 में जगह मिल पाएगी या नहीं। हार्दिक के बॉलिंग ना करने की वजह से ही शार्दुल ठाकुर की भारतीय टीम के स्क्वॉड में एंट्री हुई थी।

Rohit Falls In Line When Will Hardik Make Virat Happy | विराट के लिए रोहित  ने तो रंग जमा दिया अब हार्दिक कब करेंगे हैप्पी ?

भारतीय टीम की बॉलिंग को लेकर विराट कोहली बोले कि हमारी बॉलिंग शानदार है, ऐसे में हम उसको लेकर काफी पॉजिटिव है। भारतीय बॉलिंग ने पिछले कुछ वक्त में शानदार प्रदर्शन किया है, यही वजह है कि हमने कई मैच में शानदार जीत हासिल की है।

विराट बोले कि हम कभी भी रिकॉर्ड की बात नहीं करते हैं, पहले क्या हुआ है इसपर फोकस नहीं है। मैच वाले दिन आप कैसे खेलते हैं, सब कुछ उस पर निर्भर करता है। पाकिस्तान की टीम काफी मजबूत टीम है, उनके खिलाफ आपको अपना बेस्ट ही खेलना पड़ता है। पाकिस्तान के पास ऐसे खिलाड़ी है जो गेम को पलट सकते हैं, हमें अपने प्लान पर फोकस करना होगा।

विराट कोहली ने कहा कि वर्ल्डकप में आपको अलग-अलग टीमों के खिलाफ खेलने का मौका मिलता है, जिनसे हम पहले नहीं खेलते हैं। बायो-बबल को लेकर खिलाड़ियों से बात करना जरूरी है, क्योंकि लगातार क्रिकेट खेलना मुश्किल होता है।