14 C
Lucknow
मंगलवार, नवम्बर 30, 2021

राकेश टिकैत का केंद्र को चेतावनी, कहा- ‘सरकार मानने वाली नहीं, इलाज करना पड़ेगा’

Must read

गौतम गंभीर को तीसरी बार मिली जान से मारने की धमकी

पूर्वी दिल्ली से भाजपा सांसद गौतम गंभीर को फिर जान से मारने की धमकी मिली है। गौतम गंभीर को कथित तौर पर...

UPTET पेपर लीक मामला- सीएम ने कहा- आरोपियों पर गैंगेस्टर और रासुका के तहत कार्रवाई, संपत्ति भी होगी जब्त

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने टीईटी की परीक्षा लीक मामले को काफी गंभीरता से लिया है। उन्होंने आरोपियों के खिलाफ गैंगेस्टर एक्ट के...

चिरंजीवी ने कोरियोग्राफर के इलाज के लिए दिए 3 लाख

राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता कोरियोग्राफर शिवशंकर मास्टर कोविड-19 से लड़ रहे हैं. कोरियोग्राफर फिलहाल अस्पताल में भर्ती हैं और बताया जा रहा है...

दुनिया में कोरोना से हाहाकार, इजराइल में विदेशियों के आने पर पाबंदी, ब्रिटेन में हाई अलर्ट, साउथ अफ्रीका में लॉकडाउन का विरोध

साउथ अफ्रीका में कोरोना का नया वैरिएंट ओमिक्रॉन मिलने बाद दुनिया अलर्ट पर है। इजराइल ने तमाम विदेशी नागरिकों की देश में...

कोरोना महामारी के बीच कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन लगातार जारी है. इस बीच किसान नेता राकेश टिकैत ने आंदोलन तेज करने की करने की बात की है और केंद्र सरकार को चेतावनी दी है. उन्होंने सरकार का इलाज करने की बात की है.

My Bharat News - Article tikaat
राकेश टिकैत कानून वापसी को लेकर सरकार के खिलाफ लगातार हमलावर है.

भाकियू नेता राकेश टिकैत ने ट्वीट करते हुए लिखा कि ”सरकार मानने वाली नहीं है. इलाज तो करना पड़ेगा. ट्रैक्टरों के साथ अपनी तैयारी रखो. जमीन बचाने के लिए आंदोलन तेज करना होगा.” बता दे कि राकेश टिकैत कानून वापसी को लेकर सरकार के खिलाफ लगातार हमलावर है.

My Bharat News - Article EtByFd VoAAdlMl
राकेश टिकैत ने कहा या तो किसान और जनता रहेगी या ये सरकार

इससे एक दिन पहले, उन्होंने कहा था कि केंद्र सरकार को अपनी ‘गलतफहमी’ से छुटकारा पाना चाहिए कि किसान अपने विरोध प्रदर्शन से पीछे हट जाएंगे, क्योंकि हम ऐसा नहीं करेंगे. राकेश टिकैत ने किसानों से एकजुट होने के लिए आवाह्न किया और कहा, “या तो किसान और जनता रहेगी या ये सरकार. किसानों की आवाज को झूठे मामलों से नहीं दबाया जा सकता है।”

My Bharat News - Article bl01StatesTiktait
प्रदर्शन कर रहे किसानों की मांग है कि केंद्र सरकार की ओर से पारित तीनों कृषि कानूनों को वापस लिया जाए

बता दें कि कोरोना महामारी के बीच पिछले 200 से ज्यादा दिनों से किसानों का विरोध प्रदर्शन जारी है. प्रदर्शन कर रहे किसानों की मांग है कि केंद्र सरकार की ओर से पारित तीनों कृषि कानूनों को वापस लिया जाए. जिसके बाद ही किसान अपने घरों की ओर वापसी करेंगे.

- विज्ञापन -

More articles

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- विज्ञापन -

Latest article

गौतम गंभीर को तीसरी बार मिली जान से मारने की धमकी

पूर्वी दिल्ली से भाजपा सांसद गौतम गंभीर को फिर जान से मारने की धमकी मिली है। गौतम गंभीर को कथित तौर पर...

UPTET पेपर लीक मामला- सीएम ने कहा- आरोपियों पर गैंगेस्टर और रासुका के तहत कार्रवाई, संपत्ति भी होगी जब्त

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने टीईटी की परीक्षा लीक मामले को काफी गंभीरता से लिया है। उन्होंने आरोपियों के खिलाफ गैंगेस्टर एक्ट के...

चिरंजीवी ने कोरियोग्राफर के इलाज के लिए दिए 3 लाख

राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता कोरियोग्राफर शिवशंकर मास्टर कोविड-19 से लड़ रहे हैं. कोरियोग्राफर फिलहाल अस्पताल में भर्ती हैं और बताया जा रहा है...

दुनिया में कोरोना से हाहाकार, इजराइल में विदेशियों के आने पर पाबंदी, ब्रिटेन में हाई अलर्ट, साउथ अफ्रीका में लॉकडाउन का विरोध

साउथ अफ्रीका में कोरोना का नया वैरिएंट ओमिक्रॉन मिलने बाद दुनिया अलर्ट पर है। इजराइल ने तमाम विदेशी नागरिकों की देश में...

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, कई गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश में रविवार यानी 28 नवंबर को हो रही यूपी शिक्षक पात्रता परीक्षा रद्द (UPTET Exam 2022) कर दी गई है....