25 C
Lucknow
रविवार, अक्टूबर 17, 2021

प्रयागराज- बाहुबली अतीक अहमद के रिश्तेदार की अवैध संपत्ति ध्वस्त

Must read

Bangladesh में हिंदुओं पर दुर्गा पूजन के दौरान हुआ हमला, तीन ने गवाई जान, जाने पूरा मामला

बांग्लादेश(Bangladesh) में हिंदुओं पर अत्याचार की खबर आए दिन सामने आ रही हैं। बुधवार रात सोशल मीडिया पर हिंदुओं द्वारा कुरान का...

पूर्व पीएम मनमोहन सिंह दिल्ली AIIMS में भर्ती, पीएम मोदी ने स्वास्थ ठीक होने की कामना

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह दिल्ली स्थित ऑल इंडिया इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइन्सेज(AIIMS)मे भर्ती हैं। मनमोहन सिंह को सांस लेने में दिक्कत और...

ठगी मामले में जैकलीन के बाद अब नोरा को भी ED ने भेज समन

200 करोड़ से अधिक की ठगी और फिरौती के मास्टरमाइंड सुकेश चंद्रशेखर मनी लॉन्ड्रिंग मामले में जैकलीन फर्नांडिस के बाद अब नोरा...

World Sight Day: क्या होता है विश्व दृष्टि दिवस? जाने इस साल की थीम

दुनिया भर में सभी आयु वर्ग के लगभग 1 अरब लोग या तो पास की नजर या दूर की नजर या फिर...

उत्तर प्रदेश के बाहुबली नेता और पूर्व सांसद अतीक अहमद के खिलाफ सरकार का अभियान जारी है. मंगलवार को प्रयागराज जिला प्रशासन ने अतीक के एक करीबी रिश्तेदार और बिजनेस पार्टनर की अवैध संपत्ति को ध्वस्त कर दिया. इस कार्रवाई को अंजाम देने के लिए राजस्व टीम के साथ भारी पुलिस बल तैनात किया गया था.

दरअसल, प्रयागराज शहर के चकिया इलाके में अतीक अहमद के घर के पास ही एक बिल्डिंग है. जो अतीक के करीबी रिश्तेदार और बिजनेस पार्टनर इमरान की है. बिल्डिंग में नीचे दुकानें और ऊपर आवासीय परिसर है. करीब 15 सौ स्क्वायर गज़ में बनी ये बिल्डिंग उनकी अवैध संपत्ति बताई जा रही है.

मंगलवार को पूरा प्रशासनिक अमला भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचा और इमरान की संपत्ति को ध्वस्त करने की कार्रवाई शुरू की. बिल्डिंग के ध्वस्तीकरण की कार्रवाई को पीडीए, नगर निगम, पुलिस और प्रशासन की साझा टीम ने अंजाम तक पहुंचाया.
बता दें कि इससे पहले भी अतीक अहमद की कई संपत्तियों पर योगी सरकार ने कार्रवाई की और बुल्डोजर चलाया है. इसी दौरान एमपी/एमएलए स्पेशल कोर्ट ने अतीक अहमद को बड़ी राहत देते हुए 13 नवंबर को सुनवाई के दौरान व्यक्तिगत हाजिरी से छूट दे दी थी. जिसके चलते अतीक 13 नंवबर को कोर्ट में पेश नहीं हुए थे.

एक मामले में आरोप तय करने के लिए कोर्ट ने अतीक को तलब किया था. कोर्ट ने अपने फैसले पर ही स्टे लगाया है. इससे पहले 27 अक्टूबर को मामले की सुनावई के दौरान ही कोर्ट ने अतीक को तलब किया था. एमपी एमएलए स्पेशल कोर्ट के जज डॉ. बालमुकुंद ने आदेश देते हुए कहा था कि अभियुक्त को अपना पक्ष रखने का वैधानिक अधिकार है.
अतीक के वरिष्ठ अधिवक्ता दयाशंकर मिश्र ने 13 नवंबर को उनका पक्ष कोर्ट के सामने रखा. यह मामला 2016 का है. जिसमें अतीक के खिलाफ धूमनगंज थाने में सूरजकली और उसके बेटे पर जानलेवा हमले का मुकदमा दर्ज हुआ था. एमपी/एमएलए स्पेशल कोर्ट में इस मुकदमे का ट्रायल चल रहा है.

- विज्ञापन -

More articles

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- विज्ञापन -

Latest article

Bangladesh में हिंदुओं पर दुर्गा पूजन के दौरान हुआ हमला, तीन ने गवाई जान, जाने पूरा मामला

बांग्लादेश(Bangladesh) में हिंदुओं पर अत्याचार की खबर आए दिन सामने आ रही हैं। बुधवार रात सोशल मीडिया पर हिंदुओं द्वारा कुरान का...

पूर्व पीएम मनमोहन सिंह दिल्ली AIIMS में भर्ती, पीएम मोदी ने स्वास्थ ठीक होने की कामना

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह दिल्ली स्थित ऑल इंडिया इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइन्सेज(AIIMS)मे भर्ती हैं। मनमोहन सिंह को सांस लेने में दिक्कत और...

ठगी मामले में जैकलीन के बाद अब नोरा को भी ED ने भेज समन

200 करोड़ से अधिक की ठगी और फिरौती के मास्टरमाइंड सुकेश चंद्रशेखर मनी लॉन्ड्रिंग मामले में जैकलीन फर्नांडिस के बाद अब नोरा...

World Sight Day: क्या होता है विश्व दृष्टि दिवस? जाने इस साल की थीम

दुनिया भर में सभी आयु वर्ग के लगभग 1 अरब लोग या तो पास की नजर या दूर की नजर या फिर...

IPL 2021: हार के बाद प्लायर्स की आंखे हुई नम, दिल्ली कैपिटल्स को सेमिफाइनल्स में करना पड़ा हार का सामना

दिल्ली कैपिटल्स ने IPL की हर टीम को हरा कर अपनी जगह सेमी फाइनल में बनाई थी, लेकिन कोलकाता नाइट राइडर्स ने...