फील्ड अफसरों को कोरोना से लड़ने का पीएम मोदी ने दिया मंत्र,कालाबाजारी करने वालों को दी नसीहत

My Bharat News - Article 34 1
कोरोना के हालातों पर पीएम मोदी ने फील्ड अफसरों से की बातचीत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को राज्यों और जिलों के फील्ड ऑफिसर्स के साथ बैठक की. इस दौरान पीएम मोदी ने कोरोना के हालात और इससे निपटने के उनके अनुभवों पर चर्चा की. उन्होंने फील्ड ऑफिसर्स से कहा कि कोरोना के खिलाफ इस युद्ध में आपकी बहुत अहम भूमिका हैं. आप युद्ध के कमांडर हैं, किसी भी युद्ध में कई कमांडर कई योजनाओं को मूर्त रूप देते हैं, लड़ाई लड़ते हैं और हालात के हिसाब से फैसला करते हैं.आप भारत की लड़ाई के महत्वपूर्ण फील्ड कमांडर हैं.उन्होंने कहा कि आप लोगों की मदद का एक भी प्रयास मत छोड़िए.

My Bharat News - Article 56 5
अधिकारियों को पीएम मोदी ने बताया फील्ड कमांडर

पीएम मोदी ने कहा वायरस के खिलाफ हमारे हथियार लोकल कंटेनमेंट जोन, एग्रेसिव टेस्टिंग, लोगों तक सही और पूरी जानकारी पहुंचाना है. हॉस्पिटल में बेड कहां और कितने हैं, इस जानकारी से लोगों को सहूलियत होगी, कालाबाजारी करने वालों पर सख्त कार्रवाई हो.

My Bharat News - Article 47 1
कोविड संक्रमण नियंत्रण पर मध्य प्रदेश के सीएम से की बातचीत

पीएमओ के मुताबिक, बैठक में कर्नाटक, बिहार, असम, चंडीगढ़, तमिलनाडु, उत्तराखंड, मध्य प्रदेश, गोवा, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के अधिकारियों ने हिस्सा लिया.

My Bharat News - Article 098
पीएम मोदी ने कहा कि आपने जो भी कुछ अच्छा किया उसे हम तक पहुंचाइए

मोदी ने अलग-अलग जिलाधिकारियों से कहा कि आपने जो अच्छा किया है, वो मुझ तक पहुंचाइए, मैं दूसरी जगहों पर उन्हें लागू करना निश्चित करूंगा. ये चीजें देश के काम आएंगी, आपके प्रयासों की मैं प्रशंसा करता हूं. हमारे देश में जितने जिले हैं, उतनी ही अलग-अलग चुनौतियां भी हैं, हर जिले के अपने अलग चैलेंज हैं.

My Bharat News - Article 07 2
कोरोना काल में कालाबाजारी करने वालों के लिए पीएम ने सख्त कदम उठाने की कही बात

आपके बहुत से साथी ऐसे जिलों में होंगे, जहां कोरोना संक्रमण पीक पर पहुंचने के बाद अब कम हो रहा है. उनके अनुभवों से सीखकर आप अपने जिलों में अपनी रणनीति मजबूत करेंगे तो कोरोना के खिलाफ लड़ाई मजबूत होगी. कई राज्यों में संक्रमण के आंकड़े कम हो रहे हैं तो कई राज्यों में बढ़ भी रहे हैं. कम होते आंकड़ों के बीच हमें ज्यादा सतर्क रहने की जरूरत है.

My Bharat News - Article 05
संक्रमण को सबसे पहले कम करने पर दिया जाए ध्यान

समाज के सबसे निचले पायदान पर खड़े व्यक्ति का चेहरा ध्यान में रखकर काम करना है, उसे मदद मिले, ऐसी व्यवस्थाओं को मजबूत करना है. जब होम आइसोलेशन में रह रहे परिवारों के पास प्रशासन ऑक्सीमीटर और दवाएं लेकर जाते हैं तो परिवार को इससे बल मिलता है. कोविड के अलावा जिले के हर एक नागरिक की ईज ऑफ लिविंग का भी ध्यान रखना है.

My Bharat News - Article 078
गरीबों के ईज ऑफ लीविंग का भी रखना है ध्यान

संक्रमण को भी रोकना है और दैनिक जीवन से जुड़ी सप्लाई को भी बेरोकटोक चलाना है, स्थानीय स्तर पर कंटेनमेंट के लिए जो भी गाइडलाइंस जारी हैं, उनका पालन कराते समय इस पर भी गौर करना होगा, गरीब को परेशानी कम से कम हो..