Padma Awards 2021: राष्ट्रपति भवन में 119 लोगों को मिला पद्म पुरस्कार, 7 को पद्मविभूषण, 10 को पद्म भूषण, 102 लोगों को पद्मश्री

Padma Awards 2021: राष्ट्रपति भवन में 119 लोगों को मिला पद्म पुरस्कार, 7 को पद्मविभूषण, 10 को पद्म भूषण, 102 लोगों को पद्मश्री

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने आज राजनीतिक, खेल, मनोरंजन जगत के कई लोगों को राष्ट्रपति भवन में पदम पुरस्कार(Padma Awards) से सम्मानित किया। दिल्ली में राष्ट्रपति भवन में आयोजित हुए कार्यक्रम में कुल 119 पद्म पुरस्कार विजेताओं को सम्मानित किया गया हैं। इस बार 102 लोगों को पद्म श्री पुरस्कार मिला है। वहीं 7 लोगों को पद्म विभूषण और 10 लोगों को पद्म भूषण सम्मान से नवाजा गया है। पुरस्कार पाने वालों में कुल 29 महिलाएं हैं। साथ ही 16 ऐसे लोग भी हैं जिन्हें मरणोपरांत पुरस्कार दिया गया और 1 ट्रांसजेंडर भी शामिल है।

आपको बता दें कि, पद्मश्री अवॉर्ड, भारत रत्न, पद्म विभूषण और पद्म भूषण के बाद भारत में चौथा सबसे बड़ा नागरिक पुरस्कार है।

पूर्व विदेश मंत्री और बीजेपी की कद्दावर नेता सुषमा स्वराज और पूर्व वित्त मंत्री अरूण जेटली को मरणोपरांत पद्म विभूषण दिया गया। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के हाथों ये पुरस्कार सुषमा स्वराज की बेटी बांसुरी स्वराज ने ग्रहण किया। इसके अलावा बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधु को पद्म भूषण अवॉर्ड, महिला हॉकी टीम की खिलाड़ी रानी रामपाल को पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित किया गया। राष्ट्रपति भवन में आयोजित इस कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह भी उपस्थित रहे।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शास्त्रीय गायक छन्नूलाल मिश्रा को पद्म विभूषण और गायक अदनान सामी को पद्मश्री अवॉर्ड से सम्मानित किया। मनोरंजन जगत में इसके अलावा बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत और एकता कपूर को पद्मश्री सम्मान से नवाजा गया। राष्ट्रपति ने चिकित्सा क्षेत्र में उपलब्धियों के लिए इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च के पूर्व मुख्य वैज्ञानिक डॉक्टर रमन गंगाखेड़कर को पद्मश्री अवॉर्ड और रक्षा क्षेत्र में एयर मार्शल डॉक्टर पद्मा बंदोपाध्याय को पद्मश्री अवॉर्ड दिया।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने जापान के पूर्व प्रधान मंत्री शिंजो आबे, गायक एसपी बालासुब्रमण्यम, सैंड कलाकार सुदर्शन साहू, पुरातत्वविद बीबी लाल को पद्म विभूषण से सम्मानित किया। असम के पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोई को मरणोपरांत पद्म भूषण दिया गया। पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पूर्व प्रधान सचिव नृपेंद्र मिश्रा, पूर्व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान को मरणोपरांत समेत 10 लोगों को पद्म भूषण पुरस्कार से सम्मानित किया गया।