30 C
Lucknow
मंगलवार, सितम्बर 21, 2021

चक्रवात यास से पैदा हुए बाढ़ जैसे हालात ओडिशा और पं बंगाल में हालत ज्यादा खराब

Must read

महंत Narendra Giri को वीडियो के इस्तेमाल से किया जा रह था ब्लैक्मेल, सपा नेता आए निशाने पर

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष और निरंजनी अखाड़ा के सचिव महंत नरेंद्र गिरि(70) की मौत को लेकर जांच की जा रही...

ज़्यादा मात्रा की Protein बढ़ा सकता है आपका वज़न, दें इस बात पर ध्यान..

शरीर को हर पोषक तत्व की जरूरत होती हैं जो मांसपेशियों को बनाने और हड्डियों को मजबूत करने में मदद करता है।...

Virat Kohli ने किया RCB की कप्तानी छोड़ने का एलान, बोले यह होगा आखिरी सत्र

दुनिया के सबसे बेहतरीन बलीबाज़ विराट कोहली(Virat Kohli) ने बीते सप्ताह आईसीसी टी-20 विश्व कप के बाद टी-20 इंटरनेशनल से टीम इंडिया...

Covid-19 के मामलों पर भारत बना अफवाहों का गढ़, दूसरे नंबर पर रहा यह देश..

देश भर में इंटरनेट की पहुंच उच्च स्तर पर हैं। ऐसे में भारत में Covid-19 के संबंध में सोशल मीडिया पर सबसे...

चक्रवात यास ने ओडिशा और पश्चिम बंगाल के तटीय इलाकों से टकराने के बाद दोनों राज्यों में जमकर नुकसान पहुंचाया. ‘यास’ के सुबह करीब नौ बजे तट पर टकराने के साथ ही उत्तरी ओडिशा और पश्चिम बंगाल में भीषण चक्रवाती तूफान ने अपना प्रभाव दिखाना शुरू कर दिया. जहां इस दौरान 130-140 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलीं.

My Bharat News - Article 4ृ
पारादीप में चक्रवात ‘यास’ की वजह से मछली पकड़ने वाली नावों को नुकसान पहुंचा

चक्रवात ओडिशा के भद्रक जिले में धामरा के उत्तर और बहनागा ब्लॉक के निकट बालासोर से 50 किलोमीटर दूर तट पर पहुंचा. ‘डॉपलर’ रेडार डेटा के अनुसार, इस दौरान 130-140 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चली. ओडिशा के विशेष राहत आयुक्त पी के जेना ने बताया समुद्र में बृहस्पतिवार तक परिस्थितियां विषम रहेंगी और बारिश जारी रहेगी. 

My Bharat News - Article 0य3
पं बंगाल के पूर्व मेदिनीपुर के दीघा में तेज़ हवाओं के साथ बारिश हुई

वहीं साथ ही झारखंड में भी चक्रवात यास का असर देखने को मिल रहा है. राजधानी रांची में मौसम में बदलाव दर्ज किया जा रहा है. बंगाल और ओडिशा के इलाकों में NDRF की टीमें सड़कों पर गिरे पेड़ों को काटकर रास्ते से हटाने का काम कर रही हैं. 

My Bharat News - Article
NDRF की टीम चक्रवात यास की वजह से सड़कों पर गिरे हुए पेड़ों को हटाया

चक्रवाती तूफान ‘यास’ के कारण ओडिशा के जगतसिंहपुर में एक नदी में नौका के पलट जाने के बाद जिला प्रशासन और राष्ट्रीय आपदा मोचन बल ने मिलकर 10 लोगों को बचा लिया. जगतसिंहपुर जिलाधिकारी ने एक वीडियो ट्वीट किया, जिसमें बचाव कर्मियों को एक नौका में लोगों को बैठाते देखा जा सकता है. जगतसिंहपुर के जिलाधिकारी संग्राम के मोहापात्रा ने ट्वीट किया, चक्रवात यास के दौरान नदी में नौका पलटने के बाद देर रात 10 लोगों को बचाकर एनडीआरएफ और बीडीओ, एरासामा ने शानदार काम किया. उन्होंने कहा कि ये कठिन अभियान हल्की बारिश और 45 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चल रही हवाओं के बीच चलाया गया.ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने भी एनडीआरएफ के इन बचाव प्रयासों की प्रशंसा की है. 

My Bharat News - Article 0स4
ओडिशा के सीएम नवीन पटनायक ने राहत टीम के कार्यों को देखते हुए की प्रशंसा

चक्रवात ‘यास’ के कारण नदियों में जलस्तर बढ़ने से पश्चिम बंगाल के तटीय जिलों पूर्व मेदिनीपुर और दक्षिण 24 परगना के कई इलाकों में बुधवार को पानी भर गया तथा नारियल के पेड़ों के शिखरों को छूतीं समुद्र की लहरें और बाढ़ के पानी में बहती कारें दिखाई दीं. चक्रवात के कारण समुद्र में दो मीटर से अधिक ऊंची लहरें उठीं और पूर्व मेदिनीपुर में दीघा एवं मंदारमणि और दक्षिण 24 परगना में फ्रेजरगंज और गोसाबा चक्रवात से प्रभावित हुए. बढ़ते जलस्तर के कारण दोनों तटीय जिलों में कई स्थानों पर तटबंध टूट गए, जिसके कारण कई गांव और छोटे कस्बे जलमग्न हो गए. विद्याधारी, हुगली और रूपनारायण समेत कई नदियों का जलस्तर बढ़ गया है. 

My Bharat News - Article 0.य
यास चक्रवात के आने से पहले ओडिशा के धामरा में चली तेज हवा
- विज्ञापन -

More articles

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- विज्ञापन -

Latest article

महंत Narendra Giri को वीडियो के इस्तेमाल से किया जा रह था ब्लैक्मेल, सपा नेता आए निशाने पर

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष और निरंजनी अखाड़ा के सचिव महंत नरेंद्र गिरि(70) की मौत को लेकर जांच की जा रही...

ज़्यादा मात्रा की Protein बढ़ा सकता है आपका वज़न, दें इस बात पर ध्यान..

शरीर को हर पोषक तत्व की जरूरत होती हैं जो मांसपेशियों को बनाने और हड्डियों को मजबूत करने में मदद करता है।...

Virat Kohli ने किया RCB की कप्तानी छोड़ने का एलान, बोले यह होगा आखिरी सत्र

दुनिया के सबसे बेहतरीन बलीबाज़ विराट कोहली(Virat Kohli) ने बीते सप्ताह आईसीसी टी-20 विश्व कप के बाद टी-20 इंटरनेशनल से टीम इंडिया...

Covid-19 के मामलों पर भारत बना अफवाहों का गढ़, दूसरे नंबर पर रहा यह देश..

देश भर में इंटरनेट की पहुंच उच्च स्तर पर हैं। ऐसे में भारत में Covid-19 के संबंध में सोशल मीडिया पर सबसे...

इस दिन से शुरू होगा Ashwin Maas, पितृ पक्ष और दुर्गा पूजन के ल‍िए रखता है खास महत्‍व

हिन्दू पंचांग के मुताबिक भाद्रपद मास के बाद आश्विन मास(Ashwin Maas) की शुरुआत होती...