महाराष्ट्र : सरसंघचालक मोहन भागवत का बड़ा बयान जिस समुदाय को हिंसा बहुत प्यारी थी अब गिन रहे वो अंतिम दिन

My Bharat News - Article 1040539 mohan
सरसंघचालक मोहन भागवत

हिंसा से किसी को कोई फायदा नहीं होता ये बात सरसंघचालक मोहन भागवत ने अमरावती में कही. आरएसएस प्रमुख ने इस बात पर जोर दिया कि हिंसा से किसी को कोई फायदा नहीं होता और उन्होंने सभी समुदायों को एकसाथ लाने और मानवता के संरक्षण पर जोर दिया. भागवत ने कहा कि हिंसा से किसी का भला नहीं होता,जिस समाज को हिंसा प्रिय है वो अब अपने अंतिम दिन गिन रहा है. हमें हमेशा अहिंसक और शांतिप्रिय होना चाहिए, इसके लिए सभी समुदायों को एकसाथ लाना और मानवता की रक्षा करना आवश्यक है. हम सभी को इस काम को प्राथमिकता के आधार पर करने की जरूरत है.

My Bharat News - Article discover
भागवत ने कहा कि हिंसा से किसी का भला नहीं होता,जिस समाज को हिंसा प्रिय है वो अब अपने अंतिम दिन गिन रहा है.

दरअसल मोहन भागवत एक धार्मिक कार्यक्रम में शामिल होने के लिए पूर्वी महाराष्ट्र के अमरावती पहुंचे थे, समारोह में अमरावती जिले और देश के विभिन्न हिस्सों से सिंधी समुदाय के सैकड़ों सदस्यों ने भाग लिया. यहां पर मोहन भागवत ने कहा कि ,भारत एक बहुभाषी देश है और प्रत्येक भाषा का अपना महत्व है.

My Bharat News - Article mcms
भारतीय सनातन धर्म को मिटाने के लिए 1000 वर्षों से लगातार प्रयास हो रहे थे-मोहन भागवत

संघ अध्यक्ष ने कहा कि भारत एक ऐसा देश है जहां दुनिया के हर प्रकार के व्यक्ति की कुरीतियों का अंत होता है,भारत में आने के बाद या तो इसमें सुधार होता है या अस्तित्व समाप्त हो जाता है. उन्होंने कहा कि भारतीय सनातन धर्म को मिटाने के लिए 1000 वर्षों से लगातार प्रयास हो रहे थे, जिन्होंने ये कोशिश की उनका सफाया हो गया, लेकिन सनातन धर्म आज भी मौजूद है.