25 C
Lucknow
रविवार, अक्टूबर 17, 2021

महंत Narendra Giri को वीडियो के इस्तेमाल से किया जा रह था ब्लैक्मेल, सपा नेता आए निशाने पर

Must read

Bangladesh में हिंदुओं पर दुर्गा पूजन के दौरान हुआ हमला, तीन ने गवाई जान, जाने पूरा मामला

बांग्लादेश(Bangladesh) में हिंदुओं पर अत्याचार की खबर आए दिन सामने आ रही हैं। बुधवार रात सोशल मीडिया पर हिंदुओं द्वारा कुरान का...

पूर्व पीएम मनमोहन सिंह दिल्ली AIIMS में भर्ती, पीएम मोदी ने स्वास्थ ठीक होने की कामना

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह दिल्ली स्थित ऑल इंडिया इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइन्सेज(AIIMS)मे भर्ती हैं। मनमोहन सिंह को सांस लेने में दिक्कत और...

ठगी मामले में जैकलीन के बाद अब नोरा को भी ED ने भेज समन

200 करोड़ से अधिक की ठगी और फिरौती के मास्टरमाइंड सुकेश चंद्रशेखर मनी लॉन्ड्रिंग मामले में जैकलीन फर्नांडिस के बाद अब नोरा...

World Sight Day: क्या होता है विश्व दृष्टि दिवस? जाने इस साल की थीम

दुनिया भर में सभी आयु वर्ग के लगभग 1 अरब लोग या तो पास की नजर या दूर की नजर या फिर...

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष और निरंजनी अखाड़ा के सचिव महंत नरेंद्र गिरि(70) की मौत को लेकर जांच की जा रही है। इस पूरे मामले को लेकर कई तरह के नए खुलासे हो रहे हैं। सूत्रों के मुताबिक, नरेंद्र गिरी को ब्लैक्मेल किया जा रहा था। जिसके सबूत पुलिस ने बरामद किए हैं।

दरअसल, महंत नरेंद्र गिरि(Narendra Giri) को ब्लैक्मेल करने में एक वीडियो सीडी के इस्तेमाल से किया जा रहा था। जो पुलिस ने बरामद कर ली हैं। वहीं नरेंद्र गिरि के शिष्यों ने दावा किया हैं कि मौत से पहले महंत नरेंद्र गिरि ने कबूलनामे का वीडियो भी बनाया था।

साथ ही ब्लैक्मेलिंग के इस मामले से समाजवादी पार्टी की सरकार में दर्जा प्राप्त राज्य मंत्री रहे व्यक्ति भी जांच के दायरे में हैं। यह नेता अक्सर बाघंबरी मठ में नरेंद्र गिरि से मिलने आते थे। प्रयागराज पुलिस को कॉल डीटेल की मदद से कुछ अहम सुराग मिले हैं जिससे समाजवादी पार्टी सरकार में दर्जा मंत्री पुलिस की रडार पर या गए हैं।   

संदिग्ध मौत के मामले में उनके शिष्य आनंद गिरि (45) के खिलाफ आत्महत्या के लिए मजबूर करने का मामला दर्ज किया गया है। यह FIR लेटे हनुमान मंदिर के व्यवस्थापक अमर गिरि की ओर से धारा 306 के तहत जार्जटाउन थाने में  की गई है। FIR  में लिखा हैं कि आनंद की प्रताड़ना की वजह से ही महंत नरेंद्र गिरि ने जान दी है। साथ ही महंत नरेंद्र गिरि ने भी सुसाइड नोट में आनंद गिरि का जिक्र किया हैं।

जिसके बाद देर शाम UP से सहारनपुर पुलिस और SOG की टीम हरिद्वार के आश्रम में पहुंची थी और करीब डेढ़ घंटे की पूछताछ के बाद आनंद गिरि को गिरफ्तार कर लिया था। वहीं लेटे हनुमान मंदिर के पुजारी आद्या तिवारी और उनके बेटे संदीप तिवारी को पूछताछ के लिए प्रयागराज पुलिस ने दोनों को  हिरासत में लिया है।

- विज्ञापन -

More articles

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- विज्ञापन -

Latest article

Bangladesh में हिंदुओं पर दुर्गा पूजन के दौरान हुआ हमला, तीन ने गवाई जान, जाने पूरा मामला

बांग्लादेश(Bangladesh) में हिंदुओं पर अत्याचार की खबर आए दिन सामने आ रही हैं। बुधवार रात सोशल मीडिया पर हिंदुओं द्वारा कुरान का...

पूर्व पीएम मनमोहन सिंह दिल्ली AIIMS में भर्ती, पीएम मोदी ने स्वास्थ ठीक होने की कामना

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह दिल्ली स्थित ऑल इंडिया इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइन्सेज(AIIMS)मे भर्ती हैं। मनमोहन सिंह को सांस लेने में दिक्कत और...

ठगी मामले में जैकलीन के बाद अब नोरा को भी ED ने भेज समन

200 करोड़ से अधिक की ठगी और फिरौती के मास्टरमाइंड सुकेश चंद्रशेखर मनी लॉन्ड्रिंग मामले में जैकलीन फर्नांडिस के बाद अब नोरा...

World Sight Day: क्या होता है विश्व दृष्टि दिवस? जाने इस साल की थीम

दुनिया भर में सभी आयु वर्ग के लगभग 1 अरब लोग या तो पास की नजर या दूर की नजर या फिर...

IPL 2021: हार के बाद प्लायर्स की आंखे हुई नम, दिल्ली कैपिटल्स को सेमिफाइनल्स में करना पड़ा हार का सामना

दिल्ली कैपिटल्स ने IPL की हर टीम को हरा कर अपनी जगह सेमी फाइनल में बनाई थी, लेकिन कोलकाता नाइट राइडर्स ने...