26 C
Lucknow
मंगलवार, अक्टूबर 19, 2021

धनतेरस पर रखें इन छोटी बातों का ध्यान, होगी पैसो की बारिश

Must read

Rajasthan: थाने मे फर्श पर बैठी महिला विधायक, दारू पार्टी पर दिया बड़ा बयान

हाल ही मे राजस्थान(Rajasthan) के जोधपुर में एक महिला विधायक के रिश्तेदार का शराब पीकर गाड़ी चलाने के वजह से चालान कट...

BJP से मुक्त हुए बाबुल सुप्रियों, लोकसभा स्पीकर को सौंपा इस्तीफा, TMC मे जाने के बाद लिया फैसला

मंगलवार को तृणमूल कांग्रेस(TMC) के नेता बाबुल सुप्रियो ने लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला से मिलकर सांसद पद से इस्तीफा दे दिया है।...

UP विधानसभा चुनाव से पहले प्रियंका गांधी का बड़ा ऐलान, बोली UP में 40 फीसदी टिकट महिलाओं को

कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने 2022 में होने वाले UP विधानसभा चुनाव को लेकर मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस की।...

Cruise Drugs Case: आर्यन खान के साथ शिवसेना! नेता किशोर तिवारी ने याचिका दायर कर उठाई आवाज

Cruise Drugs Case: बॉलीवुड के बादशाह खान यानि शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान के बचाव में बॉलीवुड सितारों के अलावा अब...

कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी को धनतेरस मनाया जाता है. इस दिन भगवान धनवंतरि और धन के देवता कुबेर की पूजा की जाती है. धनतेरस के मौके पर सोना, चांदी और अधिकतर बर्तन की खरीदारी की जाती है.

इस साल 13 नवंबर को धनतेरस है. धनतेरस की पूजा के लिए शुभ मुहूर्त शाम 5:28 से लेकर 5:59 बजे तक है. आइए वास्तु के अनुसार जानते हैं कि धनतेरस पर किन खास बातों का रखें ध्यान.
धनतेरस के दिन उत्तर दिशा का विशेष महत्व होता है. घर में उत्तर दिशा कुबेर की दिशा मानी जाती है, क्योंकि उत्तर दिशा के स्वामी हैं, जिन्हें धन का देवता भी कहा जाता है. घर की उत्तर दिशा के वास्तु दोष मुक्त होने पर धन वैभव की वृद्धि होती है.

वास्तु के अनुसार आर्थिक समृद्धि के लिए घर की उत्तर दिशा में धनतेरस के दिन कलश में जल और उसमें एक चांदी का सिक्का डाल दें. इससे धन की बचत होती है.

धनतेरस से पहले इस बात का विशेष ध्यान रखें कि घर में जितने भी नल टपकते हों उन्हें सही करा लें. वास्तु के अनुसार नल से टपकने का मतलब पैसे का भी पानी की तरह बहना माना जाता है.

धनतेरस के दिन कैंची, चाकू और धारदार चीजें तो भूलकर भी नहीं खरीदनी चाहिए.
नवीन झाडू एवं सूपड़ा खरीदकर उनका पूजन करना धनतेरस पर शुभ माना जाता है.

धनतेरस के दिन सायं काल दीपक प्रज्वलित करके घर, दुकान आदि को श्रृंगारित करना चाहिए.

धनतेरस के दिन शाम के समय तेरह दीपक प्रज्वलित करके तिजोरी में कुबेर का पूजन करें.

- विज्ञापन -

More articles

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- विज्ञापन -

Latest article

Rajasthan: थाने मे फर्श पर बैठी महिला विधायक, दारू पार्टी पर दिया बड़ा बयान

हाल ही मे राजस्थान(Rajasthan) के जोधपुर में एक महिला विधायक के रिश्तेदार का शराब पीकर गाड़ी चलाने के वजह से चालान कट...

BJP से मुक्त हुए बाबुल सुप्रियों, लोकसभा स्पीकर को सौंपा इस्तीफा, TMC मे जाने के बाद लिया फैसला

मंगलवार को तृणमूल कांग्रेस(TMC) के नेता बाबुल सुप्रियो ने लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला से मिलकर सांसद पद से इस्तीफा दे दिया है।...

UP विधानसभा चुनाव से पहले प्रियंका गांधी का बड़ा ऐलान, बोली UP में 40 फीसदी टिकट महिलाओं को

कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने 2022 में होने वाले UP विधानसभा चुनाव को लेकर मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस की।...

Cruise Drugs Case: आर्यन खान के साथ शिवसेना! नेता किशोर तिवारी ने याचिका दायर कर उठाई आवाज

Cruise Drugs Case: बॉलीवुड के बादशाह खान यानि शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान के बचाव में बॉलीवुड सितारों के अलावा अब...

Tomato Rate: देश मे महंगाई की मार, पेट्रोल- डीजल के रेट पर बिक रहा टमाटर

हमारे देश मे कुछ समय से महंगाई मे काफी बढोतरी होती नजर आ रही है। उपभोक्ता मंत्रालय के अनुसार 50 से ज्यादा...