Karva Chauth 2021: जानिए क्या है पूजा करने का शुभ मुहूर्त, किस समय दिखेगा आपके शहर में चांद

Karva Chauth 2021: जानिए क्या है पूजा करने का शुभ मुहूर्त, किस समय दिखेगा आपके शहर में चांद

हर साल करवा चौथ(Karva Chauth) का व्रत कार्तिक माह की चतुर्थी को मनाया जाता है। यह दिन शादी शुदा औरतों के लिए बहुत ख़ास होता है, क्योंकि इस दिन औरतें अपने पति की लम्बी उम्र, वैवाहिक जीवन और सुख-समृद्धि के लिए निर्जला करवा चौथ व्रत रखती हैं। औरतें अपना व्रत चाँद के दर्शन और पूजा करके तोड़ती हैं। मान्यता है कि चंद्र दर्शन और चांद को अर्घ्य देने से पति की लंबी आयु और सुख-समृद्धि का आशीर्वाद प्राप्त होता है। आपको बता दें, करवा चौथ के दिन चाँद निकलने का समय हर जगह अलग अलग होता है। कही चाँद जल्दी निकल आता है तो वहीं कई जगह चंद्रदर्शन देर से होते हैं।

व्रत की पौराणिक कथा के अनुसार जब सत्यवान की आत्मा को लेने के लिए यमराज आए तो पतिव्रता सावित्री ने उनसे अपने पति सत्यवान के प्राणों की भीख मांगी और अपने सुहाग को न ले जाने के लिए निवेदन किया। यमराज के न मानने पर सावित्री ने अन्न-जल का त्याग कर दिया। वो अपने पति के शरीर के पास रोने लगीं। पतिव्रता स्त्री के रोने से यमराज विचलित हो गए, उन्होंने सावित्री से कहा कि अपने पति सत्यवान के जीवन के अतिरिक्त कोई और वर मांग लो। सावित्री ने यमराज से कहा कि आप मुझे कई संतानों की मां बनने का वर दें, जिसे यमराज ने हां कह दिया। पतिव्रता स्त्री होने के नाते सत्यवान के अतिरिक्त किसी अन्य पुरुष के बारे में सोचना भी सावित्री के लिए संभव नहीं था। अंत में अपने वचन में बंधने के कारण एक पतिव्रता स्त्री के सुहाग को यमराज लेकर नहीं जा सके और सत्यवान के जीवन को सावित्री को सौंप दिया। कहा जाता है कि तब से स्त्रियां अन्न-जल का त्यागकर अपने पति की दीर्घायु की कामना करते हुए करवा चौथ का व्रत रखती हैं।

Karva Chauth 2021: How to break your fast in a healthy way | Health -  Hindustan Times

करवा चौथ इस साल विशेष योग में मनाया जा रहा है। ज्योतिषाचार्यों के अनुसार, करवा चौथ पर चंद्रमा अपने प्रिय नक्षत्र रोहिणी में उदित होंगे। ऐसा संयोग करीब पांच साल बाद बन रहा है। करवा चौथ के पूजा का शुभ मुहूर्त शाम 06 बजकर 55 मिनट से लगभग 9 बजे तक है। इसके साथ ही जानिए आपके शहर में करवा चौथ के दिन कितने बजे निकलेगा चांद:

  • लखनऊ – 07 बजकर 56 मिनट पर ।
  • गाजियाबाद- 08 बजकर 06 मिनट पर।
  • हरियाणा- 08 बजकर 10 मिनट।
  • लुधियाना- 08 बजकर 07 मिनट पर।
  • चंडीगढ़- 08 बजकर 03 मिनट पर।
  • कानपुर- 08 बजे।
  • प्रयागराज- 07 बजकर 56 मिनट पर।
  • इंदौर- 8 बजकर 56 मिनट।
  • मुरादाबाद- 07 बजकर 58 मिनट पर।
  • जयपुर- 08 बजकर 17 मिनट पर।
  • पटना- 07 बजकर 46 मिनट पर।
  • यमुना नगर (हरियाणा)- 08 बजकर 08 मिनट पर।