कर्नाटक: आत्महत्या से पहले बीजेपी कार्यकर्ता ने मंत्री पर लगाया आरोप अब जा सकता है मंत्री पद!

My Bharat News - Article 1
BJP कार्यकर्ता संतोष पाटिल

कर्नाटक में बीजेपी कार्यकर्ता और ठेकेदार संतोष पाटिल ने आत्महत्या से पहले कर्नाटक की बीजेपी सरकार में ग्रामीण विकास और पंचायत राज मंत्री केएस.ईश्वरप्पा पर भ्रष्टाचार और धोखाधड़ी का आरोप लगाया है,संतोष पाटिल हिंदू युवा वाहिनी के राष्ट्रीय सचिव थे. संतोष पाटिल कुछ दिन पहले लापता हो गए थे और बेलगावी पुलिस ने उनका पता लगाने के लिए तलाशी अभियान शुरू किया था, उन्होंने अपने दोस्तों को एक संदेश भेजा था जिसमें उसमें उन्होंने कहा था कि, मंत्री केएस. ईश्वरप्पा उनकी मौत के लिए ‘सीधे जिम्मेदार’ होंगे और मंत्री को दंडित किया जाना चाहिए.

My Bharat News - Article 2
कर्नाटक सरकार में ग्रामीण विकास और पंचायत राज मंत्री के.एस ईश्वरप्पा

आपको जानकर हैरानी होगी कि,संतोष पाटिल ने मंत्री ईश्वरप्पा से परेशान होकर पीएम मोदी को खत लिखा था,उन्होंने इसमें बताया था कि ईश्वरप्पा उनसे काम के बदले 40 फीसदी कमीशन की मांग करते थे खत में ये भी लिखा था कि,बकाया कई बिल क्लीयर नहीं हो रहे हैं ईश्वरप्पा पर उन्होंने झूठ बोलने और भ्रष्टाचार करने का आरोप लगाया था.

My Bharat News - Article download
कांग्रेस प्रवक्ता गौरव वल्लभ

वहीं अब संतोष पाटिल की आत्महत्या करने और इसका जिम्मेवार जब उन्होंने कर्नाटक सरकार में मंत्री के.एस ईश्वरप्पा पर लगाया है तो विपक्ष ने बीजेपी को इस मामले में घेरा है कांग्रेस प्रवक्ता गौरव वल्लभ ने प्रेस कांफ्रेंस कर सवाल उठाए कि क्यों अब तक इस मामले पर बीजेपी का कोई वरिष्ठ नेता बोलने को तैयार नहीं है जब खुद बीजेपी का एक कार्यकर्ता मंत्री पर भ्रष्ट होने का आरोप लगा रहा है तो मंत्री को अब तक गिरफ्तार क्यों नहीं किया गया.