15 C
Lucknow
सोमवार, नवम्बर 29, 2021

एलोपैथी डॉक्टरों पर टिप्पणी के बाद IMA ने बाबा रामदेव को भेजा 1000 करोड़ रूपये का नोटिस

Must read

गौतम गंभीर को तीसरी बार मिली जान से मारने की धमकी

पूर्वी दिल्ली से भाजपा सांसद गौतम गंभीर को फिर जान से मारने की धमकी मिली है। गौतम गंभीर को कथित तौर पर...

UPTET पेपर लीक मामला- सीएम ने कहा- आरोपियों पर गैंगेस्टर और रासुका के तहत कार्रवाई, संपत्ति भी होगी जब्त

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने टीईटी की परीक्षा लीक मामले को काफी गंभीरता से लिया है। उन्होंने आरोपियों के खिलाफ गैंगेस्टर एक्ट के...

चिरंजीवी ने कोरियोग्राफर के इलाज के लिए दिए 3 लाख

राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता कोरियोग्राफर शिवशंकर मास्टर कोविड-19 से लड़ रहे हैं. कोरियोग्राफर फिलहाल अस्पताल में भर्ती हैं और बताया जा रहा है...

दुनिया में कोरोना से हाहाकार, इजराइल में विदेशियों के आने पर पाबंदी, ब्रिटेन में हाई अलर्ट, साउथ अफ्रीका में लॉकडाउन का विरोध

साउथ अफ्रीका में कोरोना का नया वैरिएंट ओमिक्रॉन मिलने बाद दुनिया अलर्ट पर है। इजराइल ने तमाम विदेशी नागरिकों की देश में...

एलोपैथी और डॉक्टरों पर विवादित बयान देकर बाबा रामदेव बुरी तरह फंसे नजर आ रहे हैं. बाबा रामदेव की मुश्किलें पहले से अब और बढ़ गई हैं. इंडियन मेडिकल एसोसिएशन उत्तराखंड ने बाबा रामदेव को एलोपैथी डॉक्टर पर विवादित बयान देने के बाद अब 1000  करोड़ रुपये का मानहानि नोटिस भेजा है. नोटिस में रामदेव से अगले 15 दिन में उनके बयान का खंडन वीडियो और लिखित में माफी मांगने को कहा गया है.

My Bharat News - Article 2 13
बाबा रामदेस को उत्तराखंड आईएमए की ओर से भेजा गया शिकायती पत्र



नोटिस में कहा गया है कि अगर रामदेव 15 दिन के अंदर अपने विवादित बयान का खंडन वीडियो और लिखित माफी नहीं मांगते हैं तो उनसे 1000 करोड़ रुपये की मांग की जाएगी. इसके अलावा रामदेव से 72 घंटे के अंदर कोरोनिल किट के भ्रामक विज्ञापन को सभी स्थानों से हटाने को कहा जाएगा. जिसमे ये दावा किया गया है कि कोरोनिल कोविड वैक्सीन के बाद होने वाले साइड इफेक्ट पर प्रभावी है.

My Bharat News - Article 5 7
आईएमए के महासचिव डॉ.लेले से रामदेव की हुई थी तीखी बहस

आपको बता दें कि पिछले दिनों रामदेव ने बयान दिया था कि एलोपैथिक दवाएं खाने से लाखों लोगों की मौत हुई है. उन्होंने एलोपैथी को स्टुपिड और दिवालिया साइंस तक कह दिया था. इस पर विवाद बढ़ने और केंद्रीय मंत्री डॉ. हर्षवर्धन के कड़े ऐतराज के बाद रामदेव ने अपना बयान वापस ले लिया था.

My Bharat News - Article 54 5
बाबा रामदेव के विवादित बयान के बाद केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने रामदेव को लिखी थी चिट्ठी

माना जा रहा था कि विवाद थम जाएगा लेकिन 24 मई को रामदेव ने एक बार फिर एलोपैथिक चिकित्सा पद्धति पर सवाल उठा दिए हैं. इस बार उन्होंने पतंजलि के लेटरपैड पर लिखी एक चिट्ठी में आईएमए से 25 सवाल किए हैं, जिस पर उनके हस्ताक्षर भी हैं.

My Bharat News - Article 0pp
बाबा रामदेव को 15 दिन का दिया गया है समय

बाबा रामदेव ने इस पत्र में हेपेटाइटिस, लीवर सोयराइसिस, हार्ट एनलार्जमेंट, शुगर लेवल 1 और 2, फैटी लीवर, थायराइड, ब्लॉकेज, बाईपास, माइग्रेन, पायरिया, अनिद्रा, स्ट्रेस, ड्रग्स एडिक्शन, गुस्सा आदि बीमारियों पर स्थायी इलाज को लेकर सवाल पूछे हैं.

- विज्ञापन -

More articles

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- विज्ञापन -

Latest article

गौतम गंभीर को तीसरी बार मिली जान से मारने की धमकी

पूर्वी दिल्ली से भाजपा सांसद गौतम गंभीर को फिर जान से मारने की धमकी मिली है। गौतम गंभीर को कथित तौर पर...

UPTET पेपर लीक मामला- सीएम ने कहा- आरोपियों पर गैंगेस्टर और रासुका के तहत कार्रवाई, संपत्ति भी होगी जब्त

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने टीईटी की परीक्षा लीक मामले को काफी गंभीरता से लिया है। उन्होंने आरोपियों के खिलाफ गैंगेस्टर एक्ट के...

चिरंजीवी ने कोरियोग्राफर के इलाज के लिए दिए 3 लाख

राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता कोरियोग्राफर शिवशंकर मास्टर कोविड-19 से लड़ रहे हैं. कोरियोग्राफर फिलहाल अस्पताल में भर्ती हैं और बताया जा रहा है...

दुनिया में कोरोना से हाहाकार, इजराइल में विदेशियों के आने पर पाबंदी, ब्रिटेन में हाई अलर्ट, साउथ अफ्रीका में लॉकडाउन का विरोध

साउथ अफ्रीका में कोरोना का नया वैरिएंट ओमिक्रॉन मिलने बाद दुनिया अलर्ट पर है। इजराइल ने तमाम विदेशी नागरिकों की देश में...

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, कई गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश में रविवार यानी 28 नवंबर को हो रही यूपी शिक्षक पात्रता परीक्षा रद्द (UPTET Exam 2022) कर दी गई है....