चक्रवाती तूफान यास का दिखने लगा असर पूर्वी उत्तर प्रदेश के 25 जिलों में हो सकती है भारी बारिश

My Bharat News - Article 0h6
चक्रवात यास का असर दिखेगा पूर्वी यूपी के कई जिलों में

भारतीय तटों से टकराने के बाद चक्रवाती तूफान ‘यास’ भले ही कुछ कमजोर पड़ गया हो लेकिन उत्तर प्रदेश के पूर्वी हिस्सों में अगले एक-दो दिन में भारी बारिश के रूप में इसका असर देखे जाने की पूरी संभावना है. लखनऊ स्थित मौसम केंद्र ने शुक्रवार और शनिवार को राज्य के पूर्वी हिस्सों के 19 जिलों में बहुत भारी बारिश होने साथ ही 6 जिलों में सामान्य से भारी वर्षा होने का अनुमान लगाया है.

My Bharat News - Article 0सस
मौसम केन्द्र के मुताबिक पूर्वी यूपी के कई जिलों में हो सकती है भारी बारिश

मौसम केंद्र के अनुसार श्रावस्ती, बलरामपुर, गोंडा, सिद्धार्थ नगर, बस्ती, संत कबीर नगर, महराजगंज, कुशीनगर, गोरखपुर, देवरिया, बलिया, अंबेडकरनगर, आजमगढ़, मऊ, गाजीपुर, वाराणसी, चंदौली और सोनभद्र जिलों तथा उनके आसपास के इलाकों में तेज हवा चलने और भारी बारिश होने का अनुमान व्यक्त किया गया है.

My Bharat News - Article 900
यास चक्रवात का असर दिखा यूपी के कई हिस्सों में

इसके अलावा अयोध्या, सुल्तानपुर, जौनपुर, प्रतापगढ़, संत रविदास नगर और मिर्जापुर जिलों तथा उनके आसपास के क्षेत्रों में भी तेज हवा चलने तथा सामान्य से भारी वर्ष  होने की संभावना जताई है। रिपोर्ट के मुताबिक पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य के पूर्वी हिस्सों के कुछ इलाकों में वर्षा हुई है.

My Bharat News - Article 00
गोरखपुर में भारी बारिश के बाद सड़कों पर गिरे पेड़

इस दौरान गायघाट में सबसे ज्यादा तीन सेंटीमीटर तथा नौतनवा, त्रिमोहानी घाट तथा फरेंदा और सकलडीहा में 2-2 सेंटीमीटर, निचलौल , बलिया, उस्काबाजार दुद्धी , बांसगांव और देवरिया में 1-1 सेंटीमीटर वर्षा रिकॉर्ड की गई है.

My Bharat News - Article 05प
चक्रवात यास के असर को देखते हुए यूपी के भी कई जिलों को किया गया है अलर्ट

पिछले 24 घंटों के दौरान प्रदेश के वाराणसी, गोरखपुर तथा आगरा मंडलों में दिन के तापमान में खासी गिरावट दर्ज की गई। वहीं, वाराणसी, प्रयागराज, कानपुर, गोरखपुर, अयोध्या, लखनऊ, बरेली तथा झांसी मंडलों में यह सामान्य से नीचे रहा.

My Bharat News - Article 06न
यूपी के अलग-अलग कई जिलों में यास तूफान का असर देखने को मिला

पिछले 24 घंटों के दौरान झांसी राज्य का सबसे गर्म स्थान रहा, जहां अधिकतम तापमान 42.6 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है.