25 C
Lucknow
रविवार, अक्टूबर 17, 2021

कानपुर में बच्ची का पेट फाड़कर निकाला था दिल, पोस्टमार्टम में चौंकाने वाला खुलासा

Must read

Bangladesh में हिंदुओं पर दुर्गा पूजन के दौरान हुआ हमला, तीन ने गवाई जान, जाने पूरा मामला

बांग्लादेश(Bangladesh) में हिंदुओं पर अत्याचार की खबर आए दिन सामने आ रही हैं। बुधवार रात सोशल मीडिया पर हिंदुओं द्वारा कुरान का...

पूर्व पीएम मनमोहन सिंह दिल्ली AIIMS में भर्ती, पीएम मोदी ने स्वास्थ ठीक होने की कामना

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह दिल्ली स्थित ऑल इंडिया इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइन्सेज(AIIMS)मे भर्ती हैं। मनमोहन सिंह को सांस लेने में दिक्कत और...

ठगी मामले में जैकलीन के बाद अब नोरा को भी ED ने भेज समन

200 करोड़ से अधिक की ठगी और फिरौती के मास्टरमाइंड सुकेश चंद्रशेखर मनी लॉन्ड्रिंग मामले में जैकलीन फर्नांडिस के बाद अब नोरा...

World Sight Day: क्या होता है विश्व दृष्टि दिवस? जाने इस साल की थीम

दुनिया भर में सभी आयु वर्ग के लगभग 1 अरब लोग या तो पास की नजर या दूर की नजर या फिर...

कानपुर में घाटमपुर के एक गांव में मासूम बच्ची की बलि देने के मामले में पुलिस के खुलासे पर शुरू से ही सवाल उठ रहे हैं। इसमें एक सवाल बेहद अहम है। पुलिस जिस सब्जी काटने वाले चाकू से बच्ची का पेट फाड़ और पसलियां काटकर गुर्दे, दिल, आंत निकालने का दावा कर रही है उससे ये संभव नहीं है।
पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टरों ने भी इस पर सवाल किये हैं। हालांकि पुलिस के पास अन्य आलाकत्ल (हत्या में प्रयोग किया गया हथियार) नहीं है। वो अपने दावे पर अभी भी टिकी हुई है। दिवाली की रात गांव निवासी परशुराम व उनकी पत्नी सुनैना के कहने पर उनके भतीजे अंकुल और वीरेन ने गांव की ही एक छह साल की बच्ची को अगवा कर उसकी गला काटकर बलि दे दी थी।
उसके बाद शरीर के अंग निकाल लिए थे। दंपति ने संतान की प्राप्ति के लिए अंधविश्वास में ये सब किया था। कलेजा दंपति कच्चा खा गए थे। पुलिस ने इन चारों को जेल भेजा है। पुलिस का दावा है कि सब्जी काटने वाली चाकू पर धार की और उसी से वारदात को अंजाम दिया। मगर एक्सपर्ट का कहना है कि जिस तरह से पसलियां व गला काटा गया है, वो सब्जी काटने वाले चाकू से संभव नहीं है।
बहुत ही धारदार हथियार से हड्डियां काटी गई हैं। ऐसे में सवाल उठता है कि क्या किसी अन्य आलाकत्ल का इस्तेमाल आरोपियों ने किया था। जो अभी तक बरामद नहीं हुआ। एसपी ग्रामीण बृजेश कुमार श्रीवास्तव का कहना है कि बरामद आलाकत्ल पर खून के धब्बे फोरेंसिक जांच में मिले हैं। उसमें पत्थर से घिसकर धार बनाई गई थी। इसलिए उससे आसानी से अंग कट गए।

एक साल से दंपति कर रहे थे इंतजार
पुलिस के मुताबिक शादी के दो दशक बीतने के बाद भी जब दंपति को कोई संतान नहीं हुई उन्होंने टोना-टोटका शुरू किया। इसमें काला जादू की किताब भी पढ़ी। जिसमें लिखा था कि अमावस की रात को बच्ची का कलेजा कच्चा खाया जाए तो उसको संतान हो जाएगी। ये ख्याल करीब एक साल पहले दंपति को आया था। तब से वो दिवाली की रात का इंतजार कर रहे थे। इन दोनों ने अपने भतीजों को कुछ रकम भी दी। नशेबाज अंकुल व वीरेन इस पर राजी हो गए और बच्ची पर बर्बरता कर डाली।

- विज्ञापन -

More articles

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- विज्ञापन -

Latest article

Bangladesh में हिंदुओं पर दुर्गा पूजन के दौरान हुआ हमला, तीन ने गवाई जान, जाने पूरा मामला

बांग्लादेश(Bangladesh) में हिंदुओं पर अत्याचार की खबर आए दिन सामने आ रही हैं। बुधवार रात सोशल मीडिया पर हिंदुओं द्वारा कुरान का...

पूर्व पीएम मनमोहन सिंह दिल्ली AIIMS में भर्ती, पीएम मोदी ने स्वास्थ ठीक होने की कामना

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह दिल्ली स्थित ऑल इंडिया इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइन्सेज(AIIMS)मे भर्ती हैं। मनमोहन सिंह को सांस लेने में दिक्कत और...

ठगी मामले में जैकलीन के बाद अब नोरा को भी ED ने भेज समन

200 करोड़ से अधिक की ठगी और फिरौती के मास्टरमाइंड सुकेश चंद्रशेखर मनी लॉन्ड्रिंग मामले में जैकलीन फर्नांडिस के बाद अब नोरा...

World Sight Day: क्या होता है विश्व दृष्टि दिवस? जाने इस साल की थीम

दुनिया भर में सभी आयु वर्ग के लगभग 1 अरब लोग या तो पास की नजर या दूर की नजर या फिर...

IPL 2021: हार के बाद प्लायर्स की आंखे हुई नम, दिल्ली कैपिटल्स को सेमिफाइनल्स में करना पड़ा हार का सामना

दिल्ली कैपिटल्स ने IPL की हर टीम को हरा कर अपनी जगह सेमी फाइनल में बनाई थी, लेकिन कोलकाता नाइट राइडर्स ने...