25 C
Lucknow
शुक्रवार, सितम्बर 17, 2021

स्वास्थ्य कर्मियों की घोर लापरवाही से मचा हड़कंप बच्चों को पोलियो ड्रॉप की जगह पिला दिया हैंड सैनिटाइजर

Must read

Hardoi: नानी के घर आई 6 साल की मासूम का पड़ोसी ने किया रेप, जाने पूरा मामला…

हरदोई(Hardoi) जिला के संडीला से एक मासूम के साथ दुष्कर्म का घिनौना मामला सामने आया हैं। मंगलवार रात मासूम बच्ची घर के...

Uttarakhand: देर रात भाजपा जिलाध्यक्ष प्रदीप बिष्ट के घर पर हुआ धमाका

उत्तराखंड(Uttarakhand) में भाजपा जिलाध्यक्ष नैनीताल प्रदीप बिष्ट के घर पर मंगलवार देर रात करीब 12:30 बजे धमाका होने से हड़कंप मच गया...

देश में सिंगल डोज़ वैक्सीन Sputnik Light की तीसरे ट्रायल को मंज़ूरी

देश में कोरोना बीते दो साल से तबाही मचा रहा हैं और भारत में इससे अछूता नहीं हैं। हालांकि अब जा कर...

IPL: स्टेडियम में मिलेगी दर्शकों को एंट्री, इस दिन से बुक करे टिकट

BCCI ने बुधवार को IPL से जड़ी दर्शकों के लिए एक बड़ी घोषणा की हैं। बोर्ड ने टूर्नामेंट के 14वें सीज़न के...

देश भर में कोरोना वैक्सीन टीकाकरण अभियान को रोकते हुए सरकार ने पोलियो ड्रॉप अभियान कुछ दिनों के लिए चलाया है जिसमें स्वास्थय कर्मियों की घोर लापरवाही से महाराष्ट्र के बच्चों की जान पर बात बन आई.दरअसल महाराष्ट्र के यवतमाल में 5 साल से कम उम्र वाले 12 बच्चों को तब अस्पताल में भर्ती कराना पड़ गया, जब सोमवार को उन्हें पोलियो ड्रॉप की जगह हैंड सैनिटाइज़र पिला दिया गया.यवतमाल जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्रीकृष्णा पांचाल ने इसकी जानकारी दी.

My Bharat News - Article 4443
हालत बिगड़ने पर बच्चों को अस्पताल में भर्ती कराया गया

जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ने बताया कि अस्पताल में भर्ती बच्चे अब ठीक हैं और इस घटना से जुड़े 3 कर्मचारियों के अलावा 1 स्वास्थ्यकर्मी, 1 डॉक्टर और 1 आशा वर्कर को निलंबित किया जाएगा.आपको बता दें कि यवतमाल में 5 साल की उम्र से कम के 12 बच्चों को पोलियो ड्रॉप की बजाय हैंड सैनिटाइज़र दे दिया गया था. उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था.जहां बच्चों की हालत अब पहले से बेहतर है.एक स्वास्थ्यकर्मी, एक डॉक्टर और एक आशा वर्कर को निलंबित किया जाएगा.इस मामले की जांच चल रही है.

My Bharat News - Article 54321
पोलियो की जगह बच्चों को पिला दिया गया हैंड सैनिटाइजर

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, भारत पिछले एक दशक से पोलियो मुक्त है.आखिरी पोलियो का केस देश में 13 जनवरी, 2011 को दर्ज किया गया था. हालांकि, भारत पड़ोसी राज्यों, जैसे कि अफगानिस्तान और पाकिस्तान जैसे देशों में पोलियो अभी भी एक मुख्य समस्या है, इसी के चलते भारत में फिर से पोलियो के केस शुरू होने की आशंकाओं को ध्यान में रखते हुए भारत देश अपने ड्राइव को लेकर सतर्क रहता है.

My Bharat News - Article 009889
राषट्रपति रामनाथ कोविंद ने पल्स पोलियो अभियान 2021 की शुरूआत की थी राष्ट्रपति भवन से

आपको बताते चलें कि ये घटना तब सामने आई है, जब राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने 30 जनवरी को राष्ट्रपति भवन में 5 साल से कम उम्र के बच्चों को पोलियो की ड्रॉप पिलाकर 2021 की शुरूआत  में नेशनल पोलियो इम्यूनाइज़ेशन ड्राइव लॉन्च किया है. 

My Bharat News - Article
केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल
- विज्ञापन -

More articles

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- विज्ञापन -

Latest article

Hardoi: नानी के घर आई 6 साल की मासूम का पड़ोसी ने किया रेप, जाने पूरा मामला…

हरदोई(Hardoi) जिला के संडीला से एक मासूम के साथ दुष्कर्म का घिनौना मामला सामने आया हैं। मंगलवार रात मासूम बच्ची घर के...

Uttarakhand: देर रात भाजपा जिलाध्यक्ष प्रदीप बिष्ट के घर पर हुआ धमाका

उत्तराखंड(Uttarakhand) में भाजपा जिलाध्यक्ष नैनीताल प्रदीप बिष्ट के घर पर मंगलवार देर रात करीब 12:30 बजे धमाका होने से हड़कंप मच गया...

देश में सिंगल डोज़ वैक्सीन Sputnik Light की तीसरे ट्रायल को मंज़ूरी

देश में कोरोना बीते दो साल से तबाही मचा रहा हैं और भारत में इससे अछूता नहीं हैं। हालांकि अब जा कर...

IPL: स्टेडियम में मिलेगी दर्शकों को एंट्री, इस दिन से बुक करे टिकट

BCCI ने बुधवार को IPL से जड़ी दर्शकों के लिए एक बड़ी घोषणा की हैं। बोर्ड ने टूर्नामेंट के 14वें सीज़न के...

राकेश टिकैत ने BJP और AIMIM पर साधा निशाना, बोले AIMIM पार्टी बीजेपी की ‘बी’ पार्टी

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 को लेकर नेताओं में ज़ुबानी जंग जारी हैं। ऐसे में भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश...