14 C
Lucknow
मंगलवार, नवम्बर 30, 2021

कोरोना के इंडियन वेरिएंट कहे जाने पर सरकार ने सोशल मीडिया कंपनियों पर जताई नाराजगी

Must read

गौतम गंभीर को तीसरी बार मिली जान से मारने की धमकी

पूर्वी दिल्ली से भाजपा सांसद गौतम गंभीर को फिर जान से मारने की धमकी मिली है। गौतम गंभीर को कथित तौर पर...

UPTET पेपर लीक मामला- सीएम ने कहा- आरोपियों पर गैंगेस्टर और रासुका के तहत कार्रवाई, संपत्ति भी होगी जब्त

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने टीईटी की परीक्षा लीक मामले को काफी गंभीरता से लिया है। उन्होंने आरोपियों के खिलाफ गैंगेस्टर एक्ट के...

चिरंजीवी ने कोरियोग्राफर के इलाज के लिए दिए 3 लाख

राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता कोरियोग्राफर शिवशंकर मास्टर कोविड-19 से लड़ रहे हैं. कोरियोग्राफर फिलहाल अस्पताल में भर्ती हैं और बताया जा रहा है...

दुनिया में कोरोना से हाहाकार, इजराइल में विदेशियों के आने पर पाबंदी, ब्रिटेन में हाई अलर्ट, साउथ अफ्रीका में लॉकडाउन का विरोध

साउथ अफ्रीका में कोरोना का नया वैरिएंट ओमिक्रॉन मिलने बाद दुनिया अलर्ट पर है। इजराइल ने तमाम विदेशी नागरिकों की देश में...

कोरोना वायरस के नए रूप को ‘इंडियन वैरिएंट’  कहे जाने को लेकर केन्द्र सरकार ने अपनी नाराजगी जताई है. केन्द्र सरकार ने इस संबंध में सोशल मीडिया कंपनियों से भारतीय वैरिएंट के कोरोना वाले सभी कंटेंट को सोशल मीडिया से हटाने की बात कही है.

My Bharat News - Article 11 8
सूचना प्रौघोगिकी मंत्रालय की ओर से सोशल मीडिया कंपनियों को लिखा पत्र

सूचना प्रौघोगिकी मंत्रालय ने इस संबंध में सोशल मीडिया कंपनियों को पत्र लिखकर कहा है कि,भारत की छवि को खराब करने के उद्देश्य से सोशल मीडिया पर इस तरह का जितना भी कंटेंट मौजूद है ऐसी सभी सामग्री तत्काल प्रभाव से हटाई जानी चाहिए, जो कोरोना वायरस के नए रूप को भारत से जोड़ती है.

My Bharat News - Article 3w
सरकार ने बताया कि WHO ने भी कहीं कोरोना को लेकर इंडियन वेरिएंट शब्द का नहीं किया है इस्तेमाल

न्यूज एजेंसी PTI के मुताबिक, सरकार ने अपने पत्र में विश्व स्वास्थ्य संगठन का हवाला दिया है. केंद्र ने कहा है कि WHO ने अपनी किसी भी रिपोर्ट में कोरोना वायरस के B.1.617 वैरिएंट के लिए ‘इंडियन वैरिएंट’ शब्द का इस्तेमाल नहीं किया है. इसलिए सोशल मीडिया पर इस तरह के जो भी कंटेंट मौजूद है, उसे तुरंत हटाया जाना चाहिए.

My Bharat News - Article 1ें
सोशल मीडिया कंपनियों को हर जगह से इस शब्द को हटाने की कही गई है बात

सोशल मीडिया कंपनियों को लिखे पत्र में आईटी मंत्रालय की ओर से कहा गया है कि भारतीय वैरिएंट शब्द का इस्तेमाल पूरी तरह से गलत है. भारत सरकार स्पष्ट करती है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन ने अपने 32 पेज के दस्तावेज में B.1.617 के लिए इसका कहीं इस्तेमाल नहीं किया है. सरकार ने कहा है कि कोरोना को लेकर गलत सूचना के प्रसार को रोकने के लिए ऐसा किया जाना जरूरी है.

- विज्ञापन -

More articles

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- विज्ञापन -

Latest article

गौतम गंभीर को तीसरी बार मिली जान से मारने की धमकी

पूर्वी दिल्ली से भाजपा सांसद गौतम गंभीर को फिर जान से मारने की धमकी मिली है। गौतम गंभीर को कथित तौर पर...

UPTET पेपर लीक मामला- सीएम ने कहा- आरोपियों पर गैंगेस्टर और रासुका के तहत कार्रवाई, संपत्ति भी होगी जब्त

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने टीईटी की परीक्षा लीक मामले को काफी गंभीरता से लिया है। उन्होंने आरोपियों के खिलाफ गैंगेस्टर एक्ट के...

चिरंजीवी ने कोरियोग्राफर के इलाज के लिए दिए 3 लाख

राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता कोरियोग्राफर शिवशंकर मास्टर कोविड-19 से लड़ रहे हैं. कोरियोग्राफर फिलहाल अस्पताल में भर्ती हैं और बताया जा रहा है...

दुनिया में कोरोना से हाहाकार, इजराइल में विदेशियों के आने पर पाबंदी, ब्रिटेन में हाई अलर्ट, साउथ अफ्रीका में लॉकडाउन का विरोध

साउथ अफ्रीका में कोरोना का नया वैरिएंट ओमिक्रॉन मिलने बाद दुनिया अलर्ट पर है। इजराइल ने तमाम विदेशी नागरिकों की देश में...

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, कई गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश में रविवार यानी 28 नवंबर को हो रही यूपी शिक्षक पात्रता परीक्षा रद्द (UPTET Exam 2022) कर दी गई है....