30 C
Lucknow
रविवार, जुलाई 25, 2021

कोरोना के इंडियन वेरिएंट कहे जाने पर सरकार ने सोशल मीडिया कंपनियों पर जताई नाराजगी

Must read

पेगासस जासूसी मामले में राहुल गांधी ने बीजेपी पर आरोप लगाते हुए गृह मंत्री अमित शाह से मांगा इस्तीफा

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने पेगासस जासूसी मामले में बीजेपी पर एक के बाद एक कई आरोप लगाते हुए गृह...

बीएसपी के प्रबुद्ध सम्मेलन में दिखे प्रभु श्रीराम और परशुराम के पोस्टर अयोध्या से की सम्मेलन की शुरूआत

यूपी विधान सभा चुनाव 2021 से पहले ब्राह्मणों को अपने पाले में लाने के लिए बीएसपी ब्राह्मण सम्मेलन कर रही है. अयोध्या...

टीएमसी सांसद शांतनु सेन पूरे सत्र के लिए हुए सस्पेंड पेपर फाड़ने के लिए उपसभापति ने की कार्यवाही

टीएमसी सांसद शांतनु सेन ने गुरुवार को राज्यसभा में जो दुर्व्यव्हार किया था उसके लिए उन्हें मानसून सत्र के बाकी दिनों के...

लश्कर ए तैयबा के दो आतंकियों को सुरक्षाबलों ने किया ढेर

उत्तरी कश्मीर के सोपोर में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में लश्कर-ए-तैयबा के दो आतंकवादियों को सुरक्षाबलों ने मार गिराया है.आंतकियों के मारे...

कोरोना वायरस के नए रूप को ‘इंडियन वैरिएंट’  कहे जाने को लेकर केन्द्र सरकार ने अपनी नाराजगी जताई है. केन्द्र सरकार ने इस संबंध में सोशल मीडिया कंपनियों से भारतीय वैरिएंट के कोरोना वाले सभी कंटेंट को सोशल मीडिया से हटाने की बात कही है.

My Bharat News - Article 11 8
सूचना प्रौघोगिकी मंत्रालय की ओर से सोशल मीडिया कंपनियों को लिखा पत्र

सूचना प्रौघोगिकी मंत्रालय ने इस संबंध में सोशल मीडिया कंपनियों को पत्र लिखकर कहा है कि,भारत की छवि को खराब करने के उद्देश्य से सोशल मीडिया पर इस तरह का जितना भी कंटेंट मौजूद है ऐसी सभी सामग्री तत्काल प्रभाव से हटाई जानी चाहिए, जो कोरोना वायरस के नए रूप को भारत से जोड़ती है.

My Bharat News - Article 3w
सरकार ने बताया कि WHO ने भी कहीं कोरोना को लेकर इंडियन वेरिएंट शब्द का नहीं किया है इस्तेमाल

न्यूज एजेंसी PTI के मुताबिक, सरकार ने अपने पत्र में विश्व स्वास्थ्य संगठन का हवाला दिया है. केंद्र ने कहा है कि WHO ने अपनी किसी भी रिपोर्ट में कोरोना वायरस के B.1.617 वैरिएंट के लिए ‘इंडियन वैरिएंट’ शब्द का इस्तेमाल नहीं किया है. इसलिए सोशल मीडिया पर इस तरह के जो भी कंटेंट मौजूद है, उसे तुरंत हटाया जाना चाहिए.

My Bharat News - Article 1ें
सोशल मीडिया कंपनियों को हर जगह से इस शब्द को हटाने की कही गई है बात

सोशल मीडिया कंपनियों को लिखे पत्र में आईटी मंत्रालय की ओर से कहा गया है कि भारतीय वैरिएंट शब्द का इस्तेमाल पूरी तरह से गलत है. भारत सरकार स्पष्ट करती है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन ने अपने 32 पेज के दस्तावेज में B.1.617 के लिए इसका कहीं इस्तेमाल नहीं किया है. सरकार ने कहा है कि कोरोना को लेकर गलत सूचना के प्रसार को रोकने के लिए ऐसा किया जाना जरूरी है.

- विज्ञापन -

More articles

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- विज्ञापन -

Latest article

पेगासस जासूसी मामले में राहुल गांधी ने बीजेपी पर आरोप लगाते हुए गृह मंत्री अमित शाह से मांगा इस्तीफा

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने पेगासस जासूसी मामले में बीजेपी पर एक के बाद एक कई आरोप लगाते हुए गृह...

बीएसपी के प्रबुद्ध सम्मेलन में दिखे प्रभु श्रीराम और परशुराम के पोस्टर अयोध्या से की सम्मेलन की शुरूआत

यूपी विधान सभा चुनाव 2021 से पहले ब्राह्मणों को अपने पाले में लाने के लिए बीएसपी ब्राह्मण सम्मेलन कर रही है. अयोध्या...

टीएमसी सांसद शांतनु सेन पूरे सत्र के लिए हुए सस्पेंड पेपर फाड़ने के लिए उपसभापति ने की कार्यवाही

टीएमसी सांसद शांतनु सेन ने गुरुवार को राज्यसभा में जो दुर्व्यव्हार किया था उसके लिए उन्हें मानसून सत्र के बाकी दिनों के...

लश्कर ए तैयबा के दो आतंकियों को सुरक्षाबलों ने किया ढेर

उत्तरी कश्मीर के सोपोर में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में लश्कर-ए-तैयबा के दो आतंकवादियों को सुरक्षाबलों ने मार गिराया है.आंतकियों के मारे...

सिद्धू ने संभाली पंजाब प्रदेश अध्यक्ष की कमान कैप्टन अमरिंदर से जंग के बीच सिद्धु की हुई ताजपोशी

कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष की कमान संभाली ली है. चंडीगढ़ में आयोजित एक कार्यक्रम में सिद्धू की...