25 C
Lucknow
गुरूवार, सितम्बर 16, 2021

राज्यसभा सदस्य की विदाई पर भावुक होते हुए पीएम मोदी ने की कांग्रेस सांसद की प्रशंसा

Must read

Hardoi: नानी के घर आई 6 साल की मासूम का पड़ोसी ने किया रेप, जाने पूरा मामला…

हरदोई(Hardoi) जिला के संडीला से एक मासूम के साथ दुष्कर्म का घिनौना मामला सामने आया हैं। मंगलवार रात मासूम बच्ची घर के...

Uttarakhand: देर रात भाजपा जिलाध्यक्ष प्रदीप बिष्ट के घर पर हुआ धमाका

उत्तराखंड(Uttarakhand) में भाजपा जिलाध्यक्ष नैनीताल प्रदीप बिष्ट के घर पर मंगलवार देर रात करीब 12:30 बजे धमाका होने से हड़कंप मच गया...

देश में सिंगल डोज़ वैक्सीन Sputnik Light की तीसरे ट्रायल को मंज़ूरी

देश में कोरोना बीते दो साल से तबाही मचा रहा हैं और भारत में इससे अछूता नहीं हैं। हालांकि अब जा कर...

IPL: स्टेडियम में मिलेगी दर्शकों को एंट्री, इस दिन से बुक करे टिकट

BCCI ने बुधवार को IPL से जड़ी दर्शकों के लिए एक बड़ी घोषणा की हैं। बोर्ड ने टूर्नामेंट के 14वें सीज़न के...

राज्यसभा से आज कांग्रेस सांसद गुलाम नबी आजादी समेत चार सदस्यों की विदाई हो रही है.इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रो-रोकर गुलाम नबी आजाद की तारीफ में कसीदे गढ़े.पीएम मोदी ने जम्मू-कश्मीर में आतंकी हमले की घटना का जिक्र करते हुए कहा कि गुलाम नबी आजाद ने उस दिन उनको फोन किया और वो फोन पर इस घटना के बारे में बताते हुए बहुत रो रहे थे.

My Bharat News - Article
गुलाम नबी आजाद की विदाई पर राज्यसभा में रोये पीएम मोदी

उस वक्त मैं गुजरात का मुख्यमंत्री था. गुलाम नबी आजाद से मेरे रिश्ते हमेशा से ही दोस्ताना रहे हैं.राजनीति में बहस,वार-पलटवार तो चलता रहता है.लेकिन एक मित्र होने के नाते मैं उनका दिल से बहुत आदर करता हूं.

My Bharat News - Article 75
पीएम मोदी ने कांग्रेस सांसद की तारीफ में पढ़े कसीदे

पीएम मोदी ने कहा आज मुझे चिंता इस बात की है कि गुलाम नबी आजाद जी के बाद इस पद को जो संभालेंगे उनको गुलाम नबी जी से मैच करने में बहुत दिक्कते होंगी, क्योंकि गुलाम नबी जी अपने दल की चिंता करते थे.साथ ही देश और सदन की भी उतनी ही चिंता करते थे. ये छोटी बात नहीं है.वरना विपक्ष के नेता के रूप में हर कोई अपना दबदबा कायम करना चाहता है.

My Bharat News - Article 5432
पीएम मोदी ने राज्यसभा में गुलाम नबी आजाद से बताये अपने पुराने रिश्ते

मैं शरद पवार जी को भी इसी कैटेगरी में रखता हूं.उन्होंने कहा, कोरोना काल के दौरान मुझे गुलाम नबी जी का फोन आया और उन्होंने मुझसे कहा कि सभी पार्टी अध्यक्षों की मीटिंग जरूर बुलाइए.इसके बाद मैंने गुलाम नबी जी के सुझाव पर मीटिंग बुलाई.सदन में मौजूद सदस्यों के बीच पीएम मोदी ने जम्मू-कश्मीर में आतंकी हमले की घटना का जिक्र करते हुए बताया.गुलाम नबी आजाद उस समय जम्मू-कश्मीर के मुख्यमंत्री थे और मैं गुजरात का मुख्यमंत्री था.

My Bharat News - Article 009 1
राज्यसभा में गुलाम नबी आजाद की विदाई पर भावुक हुए पीएम मोदी

हम दोनों की बहुत गहरी निकटता थी. एक बार गुजरात के यात्री जम्मू-कश्मीर घूमने गए और आतंकियों ने उन पर हमला कर दिया.इस हमले में करीब आठ लोग मारे गए.सबसे पहले गुलाम नबी जी ने मुझे फोन किया. इतना कहते ही पीएम मोदी भावुक हो गए.उनकी आंखों से आंसू नहीं रुक रहे थे.

My Bharat News - Article 654 1
गुलाम नबी आजाद समेत तीन अन्य राज्यसभा सांसदों की हुई विदाई

पीएम मोदी को रोता देख संसद में मौजूद सदस्यों के बीच एक दम खामोशी छा गई और पीएम मोदी रोते हुए सुबकियां ले रहे थे.फिर पीएम मोदी ने पानी पिया और अपने आप को संभाला.साथ ही उन्होंने सदन से माफी भी मांगी.

पीएम मोदी ने आगे कहा, गुलाम नबी आजाद जी का वो फोन मुझे सूचना देने का नहीं था.इस दौरान उनके आंसू रुक नहीं रहे थे. उस वक्त प्रणब मुखर्जी देश के रक्षा मंत्री थे. मैंने उन्हें फोन किया कि अगर फोर्स का हवाई जहाज मिल जाए शव लाने के लिए तो सही रहेगा.उन्होंने कहा कि मैं व्यवस्था करता हूं.

My Bharat News - Article 43
गुलाम नबी आजाद को पीएम मोदी ने बताया अपना घनिष्ठ मित्र

इसके बाद गुलाम नबी आजाद जी का एयरपोर्ट से फिर फोन आया.उस दौरान मुझे ऐसा लगा जैसे कोई अपने परिवार की चिंता करता है, वैसे ही चिंता गुलाम नबी आजाद ने उस दिन की.वो मेरे लिए बहुत भावुक पल था.पीएम मोदी ने बताया कि पद और सत्ता जीवन में आती जाती रहती है.लेकिन उसे कैसे पचाना है ये हर एक को नहीं आता है.

My Bharat News - Article 321 2
गुजरात के मुख्यमंत्री रहते हुए पीएम मोदी ने गुलाम नबी आजाद के साथ अपने संबंधों को किया याद

इसलिए एक मित्र के रूप में गुलाम नबी जी का घटना और अनुभवों के आधार पर मैं आदर करता हूं.और मुझे पूरा विश्वास है कि उनकी सौम्यता, उनकी विनम्रता और देश के लिए कुछ करने की चाह, कभी उनको चैन से बैठने नहीं देगी. मुझे विश्वास है कि जो भी दायित्व वो जहां भी संभालेंगे, जरूर अपना योगदान देंगे. मैं उनकी आगे की यात्रा के लिए उन्हें अपनी शुभकामनाएं देता हूं.

- विज्ञापन -

More articles

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- विज्ञापन -

Latest article

Hardoi: नानी के घर आई 6 साल की मासूम का पड़ोसी ने किया रेप, जाने पूरा मामला…

हरदोई(Hardoi) जिला के संडीला से एक मासूम के साथ दुष्कर्म का घिनौना मामला सामने आया हैं। मंगलवार रात मासूम बच्ची घर के...

Uttarakhand: देर रात भाजपा जिलाध्यक्ष प्रदीप बिष्ट के घर पर हुआ धमाका

उत्तराखंड(Uttarakhand) में भाजपा जिलाध्यक्ष नैनीताल प्रदीप बिष्ट के घर पर मंगलवार देर रात करीब 12:30 बजे धमाका होने से हड़कंप मच गया...

देश में सिंगल डोज़ वैक्सीन Sputnik Light की तीसरे ट्रायल को मंज़ूरी

देश में कोरोना बीते दो साल से तबाही मचा रहा हैं और भारत में इससे अछूता नहीं हैं। हालांकि अब जा कर...

IPL: स्टेडियम में मिलेगी दर्शकों को एंट्री, इस दिन से बुक करे टिकट

BCCI ने बुधवार को IPL से जड़ी दर्शकों के लिए एक बड़ी घोषणा की हैं। बोर्ड ने टूर्नामेंट के 14वें सीज़न के...

राकेश टिकैत ने BJP और AIMIM पर साधा निशाना, बोले AIMIM पार्टी बीजेपी की ‘बी’ पार्टी

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 को लेकर नेताओं में ज़ुबानी जंग जारी हैं। ऐसे में भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश...