27 C
Lucknow
मंगलवार, अक्टूबर 19, 2021

किसान आंदोलन के दौरान चक्का जाम के चलते सेंट्रल दिल्ली से लेकर बॉर्डरों पर भारी सुरक्षा बल की हुई तैनाती

Must read

T-20 World Cup: हेड कोच रवि शास्त्री का अंतिम टूर्नामेंट, बोले खिलाड़ियों को ज्यादा तैयारी की नहीं है जरूरत

T-20 World Cup में भारतीय क्रिकेट टीम अपना पहला मुकाबला 24 अक्टूबर को पाकिस्तान के खिलाफ खेलेगी। वहीं टीम इंडिया के हेड...

Rajasthan: थाने मे फर्श पर बैठी महिला विधायक, दारू पार्टी पर दिया बड़ा बयान

हाल ही मे राजस्थान(Rajasthan) के जोधपुर में एक महिला विधायक के रिश्तेदार का शराब पीकर गाड़ी चलाने के वजह से चालान कट...

BJP से मुक्त हुए बाबुल सुप्रियों, लोकसभा स्पीकर को सौंपा इस्तीफा, TMC मे जाने के बाद लिया फैसला

मंगलवार को तृणमूल कांग्रेस(TMC) के नेता बाबुल सुप्रियो ने लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला से मिलकर सांसद पद से इस्तीफा दे दिया है।...

UP विधानसभा चुनाव से पहले प्रियंका गांधी का बड़ा ऐलान, बोली UP में 40 फीसदी टिकट महिलाओं को

कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने 2022 में होने वाले UP विधानसभा चुनाव को लेकर मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस की।...

सरकार के नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों की ओर से किए जा रहे आंदोलन के चलते 26 जनवरी के दिन दिल्ली के लाल किले पर हुई हिंसा से सबक लेते हुए इस बार सरकार ने किसी भी कमी को ना दोहराते हुए भारी सुरक्षा बलों की तैनाती के साथ ही सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये हैं.सुरक्षा बलों की तैनाती में पुलिस ने लाल किले सुरक्षा की कड़ी व्यवस्था कर रखी है.

My Bharat News - Article 23
बॉर्डर पर अतिरिक्त सुरक्षा बलों की हुई तैनाती

गणतंत्र दिवस के दिन हुई हिंसा को ध्यान में रखते हुए दिल्ली पुलिस प्रशासन की लाल किले पर सुरक्षा व्यवस्था कड़ी नजर आ रही है.लाल किले पर पुलिस की ओर से 6 लेवल की सुरक्षा के कड़े इतंजाम किये गए हैं.पुलिस ने सबसे पहले बैरिकेड्स के साथ हीसीमेट के बड़े-बड़े स्लैब्स,बैरिकेड का एक और लेयर जिनके ऊपर कटीले तारों के साथ ही रेजर वायर लगी है.डम्पर और जेसीबी की पूरी व्यवस्था की गई है जिससे लाल किले की ओर जाने वाले रास्तों को पूरी तरह से ब्लॉक किया जा सके.

My Bharat News - Article 12
चक्का जाम को लेकर दिल्ली प्रशासन इस बार है गंभीर

दिल्ली पुलिस प्रशासन की ओर से सीआरपीएफ,स्वैट और स्पेशल टास्क फोर्स के जवानों की अतिरिक्त तैनाती की गई है.इन सब के अलावा ही दिल्ली पुलिस के बड़े अधिकारी भी हिंसा वाले इलाकों को ध्यान में रखते हुए लगातार अपनी नजर रखे हुए हैं.आईटीओ पर दिल्ली पुलिस के बैरिकेड्स और बैरिकेड के उपर बंधे कटीले तार या रेजर वायर और बड़े-बड़े सीमेंट के ताज़ा पेंट किए गए स्लैब्स बताने और दिखाने के लिए ही काफी हैं कि पुलिस प्रशासन इस बार किसानों के चक्का जाम को लेकर कितनी गंभीर है.

My Bharat News - Article 45
दिल्ली के बॉर्डरों पर पूरी तरह से की गई है नाकेबंदी

26 जनवरी को ट्रैक्टर रैली के दौरान प्रदर्शनकारी कई जगहों को पार करके बैरिकेड तोड़ कर दिल्ली के अंदरूनी इलाको, सेंट्रल दिल्ली में घुस गए थे.लिहाजा अब पुलिस प्रशासन की तैयारियां पहले के मुकाबले ज्यादा नजर आ रही हैं.चक्का जाम की घोषणा को पुलिस बेहद गंभीरता से लेती दिख रही है.जबकि भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत और कुछ अन्य किसान नेताओं ने दो दिन पहले ही ये घोषणा कर दी है कि चक्का जाम पूर्णतया दिल्ली में नहीं किया जाएगा बल्कि जो जहां है वहीं से शांतिपूर्ण तरीके से आंदोलन का हिस्सा बने.

My Bharat News - Article 65
दिल्ली पुलिस के बड़े अधिकारियों ने सुरक्षा व्यवस्था का लिया जायजा
- विज्ञापन -

More articles

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- विज्ञापन -

Latest article

T-20 World Cup: हेड कोच रवि शास्त्री का अंतिम टूर्नामेंट, बोले खिलाड़ियों को ज्यादा तैयारी की नहीं है जरूरत

T-20 World Cup में भारतीय क्रिकेट टीम अपना पहला मुकाबला 24 अक्टूबर को पाकिस्तान के खिलाफ खेलेगी। वहीं टीम इंडिया के हेड...

Rajasthan: थाने मे फर्श पर बैठी महिला विधायक, दारू पार्टी पर दिया बड़ा बयान

हाल ही मे राजस्थान(Rajasthan) के जोधपुर में एक महिला विधायक के रिश्तेदार का शराब पीकर गाड़ी चलाने के वजह से चालान कट...

BJP से मुक्त हुए बाबुल सुप्रियों, लोकसभा स्पीकर को सौंपा इस्तीफा, TMC मे जाने के बाद लिया फैसला

मंगलवार को तृणमूल कांग्रेस(TMC) के नेता बाबुल सुप्रियो ने लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला से मिलकर सांसद पद से इस्तीफा दे दिया है।...

UP विधानसभा चुनाव से पहले प्रियंका गांधी का बड़ा ऐलान, बोली UP में 40 फीसदी टिकट महिलाओं को

कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने 2022 में होने वाले UP विधानसभा चुनाव को लेकर मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस की।...

Cruise Drugs Case: आर्यन खान के साथ शिवसेना! नेता किशोर तिवारी ने याचिका दायर कर उठाई आवाज

Cruise Drugs Case: बॉलीवुड के बादशाह खान यानि शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान के बचाव में बॉलीवुड सितारों के अलावा अब...