कोरोना : चौथी लहर की दस्तक ! बच्चों के लिए बढ़ा अब खतरा

My Bharat News - Article download 2
बच्चों के लिए बना कोरोना खतरा

दिल्ली-एनसीआर में कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण ने फिर से सभी के लिए खतरे की घंटी बजा दी है, हालांकि, अभी तक ये नहीं पता लगाया जा सका है कि, इसके पीछे कोरोना का कोई नया वेरिएंट है या नहीं. वैज्ञानिकों का कहना है कि अभी इस बारे में कुछ कहना जल्दबाजी होगी, फरवरी में कोरोना की तीसरी लहर खत्म होने के बाद दिल्ली सरकार ने सभी तरह की पाबंदियां खत्म कर दी थी, लोगों ने मास्क पहनना बंद कर दिया, कोरोना से बचाव के उपायों का पालन करना लोगों ने छोड़ दिया जिससे खतरा बढ़ गया है.

My Bharat News - Article child 1620285839
कोरोना से बचाव के लिए मास्क को किया गया अनिवार्य

दिल्ली में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 501 नए मामले आए हैं, पॉजिटिविटी रेट बढ़कर 7.72 फीसदी हो गया है, हालांकि, राहत की बात ये है कि मामले इतने गंभीर नहीं है कि संक्रमित मरीजों को अस्पताल में भर्ती करने की जरूरत पड़े.

My Bharat News - Article Capture S5RZbR9
सुहास.एलवाई,डीएम नोएडा

वहीं, सोमवार को उत्तर प्रदेश के गौतम बौद्ध नगर जिले में भी 19 बच्चों सहित 65 नए कोरोनो वायरस मामले सामने आए. इससे गौतम बुद्ध नगर में सक्रिय मामलों की संख्या 332 हो गई है, जिसमें बच्चों के लगभग 100 मामले हैं. इस बीच, बढ़ते कोरोना मामलों को देखते हुए सीएम के आदेश के बाद जिला प्रशासन ने सख्त रुख अपना लिया है. सार्वजनिक स्थानों पर मास्क लगाना अनिवार्य हो गया है. बगैर मास्क के अगर कोई पाया जाता है तो उसे 500 रुपये का जुर्माना भरना पड़ सकता है. शासन स्तर से मास्क अनिवार्य किए जाने को लेकर जारी निर्देश के बारे में जिले के डीएम सुहास एलवाई का कहना है कि सूचना के अनुसार कोरोना के बढ़ रहे मामलों को देखते हुए अब कहीं भी सार्वजनिक स्थानों पर मास्क लगाना अनिवार्य हो गया है.