34 C
Lucknow
शनिवार, जुलाई 24, 2021

फिर बढ़ने वाले हैं कोरोना केस? दिख सकता है चुनाव और त्यौहारों का असर- स्वास्थ्य मंत्रालय

Must read

पेगासस जासूसी मामले में राहुल गांधी ने बीजेपी पर आरोप लगाते हुए गृह मंत्री अमित शाह से मांगा इस्तीफा

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने पेगासस जासूसी मामले में बीजेपी पर एक के बाद एक कई आरोप लगाते हुए गृह...

बीएसपी के प्रबुद्ध सम्मेलन में दिखे प्रभु श्रीराम और परशुराम के पोस्टर अयोध्या से की सम्मेलन की शुरूआत

यूपी विधान सभा चुनाव 2021 से पहले ब्राह्मणों को अपने पाले में लाने के लिए बीएसपी ब्राह्मण सम्मेलन कर रही है. अयोध्या...

टीएमसी सांसद शांतनु सेन पूरे सत्र के लिए हुए सस्पेंड पेपर फाड़ने के लिए उपसभापति ने की कार्यवाही

टीएमसी सांसद शांतनु सेन ने गुरुवार को राज्यसभा में जो दुर्व्यव्हार किया था उसके लिए उन्हें मानसून सत्र के बाकी दिनों के...

लश्कर ए तैयबा के दो आतंकियों को सुरक्षाबलों ने किया ढेर

उत्तरी कश्मीर के सोपोर में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में लश्कर-ए-तैयबा के दो आतंकवादियों को सुरक्षाबलों ने मार गिराया है.आंतकियों के मारे...

आने वाले दिनों में एक बार फिर कोरोना केसों में तेजी देखने को मिल सकती है। सरकार ने कहा है कि चुनाव, दुर्गा पूजा, दिवाली का असर आने वाले सप्ताहों में देखने को मिल सकता है, हमें नए मामलों पर बहुत सावधानी से नजर रखनी होगी। बिहार में विधानसभा चुनाव के अलावा 11 राज्यों में उपचुनाव और त्योहारों को लेकर आशंका जताई जा रही है कि देश में एक बार फिर कोरोना केसों में उछाल देखने को मिल सकता है।
देश में भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के एक दिन में सामने आने वाले नए मामलों की संख्या चार महीने बाद 30,000 से नीचे रही और इसके साथ ही भारत में संक्रमण के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 88.74 लाख हो गई। इससे पहले संक्रमण के एक दिन में सामने आए नए मामलों की संख्या 15 जुलाई को 30,000 से नीचे रही थी।
स्वास्थ्य मंत्रालय ने सोमवार को बताया कि देश में अब तक कोविड-19 के लिए 12.65 करोड़ से अधिक नमूनों की जांच की जा चुकी है, संक्रमण की दर कम होकर 7.01 प्रतिशत हो गई है। संक्रमण से प्रति दस लाख आबादी पर मृत्यु के मामलों में भी भारत दुनिया में सबसे कम मृत्यु दर वाले देशों में शामिल है, भारत में यह दर 94 प्रति दस लाख है।
देश में कोविड-19 के कुल उपचाराधीन मरीजों में से 76.6 प्रतिशत रोगी महाराष्ट्र, दिल्ली, केरल और पश्चिम बंगाल समेत दस राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में हैं।
नीति आयोग के वीके पॉल ने बताया कि दिल्ली के अस्पतालों में आईसीयू के बिस्तरों की क्षमता अगले तीन-चार दिन में मौजूदा 3,523 से बढ़ाकर 6,000 की जाएगी। दिल्ली में कोविड-19 के बढ़ते मामलों को देखते हुए उठाए जाने वाले कदमों में बिस्तरों की संख्या बढ़ाना, जांच क्षमता दोगुनी करना और आरटी-पीसीआर तथा आरएटी जांचों का सही अनुपात रखना शामिल हैं।

- विज्ञापन -

More articles

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- विज्ञापन -

Latest article

पेगासस जासूसी मामले में राहुल गांधी ने बीजेपी पर आरोप लगाते हुए गृह मंत्री अमित शाह से मांगा इस्तीफा

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने पेगासस जासूसी मामले में बीजेपी पर एक के बाद एक कई आरोप लगाते हुए गृह...

बीएसपी के प्रबुद्ध सम्मेलन में दिखे प्रभु श्रीराम और परशुराम के पोस्टर अयोध्या से की सम्मेलन की शुरूआत

यूपी विधान सभा चुनाव 2021 से पहले ब्राह्मणों को अपने पाले में लाने के लिए बीएसपी ब्राह्मण सम्मेलन कर रही है. अयोध्या...

टीएमसी सांसद शांतनु सेन पूरे सत्र के लिए हुए सस्पेंड पेपर फाड़ने के लिए उपसभापति ने की कार्यवाही

टीएमसी सांसद शांतनु सेन ने गुरुवार को राज्यसभा में जो दुर्व्यव्हार किया था उसके लिए उन्हें मानसून सत्र के बाकी दिनों के...

लश्कर ए तैयबा के दो आतंकियों को सुरक्षाबलों ने किया ढेर

उत्तरी कश्मीर के सोपोर में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में लश्कर-ए-तैयबा के दो आतंकवादियों को सुरक्षाबलों ने मार गिराया है.आंतकियों के मारे...

सिद्धू ने संभाली पंजाब प्रदेश अध्यक्ष की कमान कैप्टन अमरिंदर से जंग के बीच सिद्धु की हुई ताजपोशी

कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष की कमान संभाली ली है. चंडीगढ़ में आयोजित एक कार्यक्रम में सिद्धू की...