नितिन गडकरी के लिए कांग्रेस नेता बोले गलत पार्टी में सही नेता

My Bharat News - Article union minister nitin gadkari stresses on ways to reduce use of cement steel in road construction
कांग्रेस नेता ने नितिन गडकरी की,की तारीफ

महाराष्ट्र के मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अशोक चव्हाण ने कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार कोविड-19 महामारी से प्रभावी ढंग से निपटने में विफल रही है और इससे 12.21 करोड़ नौकरियों का नुकसान हुआ है.

My Bharat News - Article 03 07 2019 ashok chavan resigns from 19366397
अशोक चव्हाण ने नितिन गडकरी के लिए कहा गलत पार्टी में सही आदमी

मोदी-सरकार के दूसरे कार्यकाल के दो साल पूरे करने और कुल मिलाकर 7 साल पूरे करने पर एक वर्चुअल प्रेस मीटिंग को संबोधित करते हुए चव्हाण ने कहा कि केंद्र सरकार ने सभी निर्णय लेने की शक्तियां अपने हाथों में रख ली हैं, लेकिन कोविड-19 प्रकोप के कंट्रोल से बाहर होने के बाद राज्य सरकारों को दोष दे रही है.

My Bharat News - Article 4
पीएम मोदी सरकार के 7 साल पूरे होने पर कांग्रेस नेता ने गिनाई खामियां

ये सवाल पूछे जाने पर कि क्या मोदी सरकार में उनका कोई फेवरेट मंत्री है, चव्हाण ने कहा कि केंद्रीय मंत्री और नागपुर के सांसद नितिन गडकरी के बारे में “अच्छे शब्द” बोले जा सकते हैं, जो वैचारिक मतभेदों के बावजूद, दूसरे दलों के साथ संवाद” बनाए रखते हैं.

My Bharat News - Article nitin gadkari pm modi 20190171696
कांग्रेस नेता ने कहा बीजेपी में नितिन गडकरी का रहा है सकारात्मक रवैया

अशोक चव्हाण ने कहा, वह गलत पार्टी में सही व्यक्ति हैं. उनका महाराष्ट्र के प्रति सकारात्मक दृष्टिकोण है, लेकिन उनकी पावर को लगातार कम किया जा रहा है.” हालांकि उन्होंने अपने दावे के बारे में विस्तार से नहीं बताया.

My Bharat News - Article Ashok Chavan 1
पेट्रेल की कीमत को लेकर कांग्रेस नेता ने कहा बीजेपी की है विफलता

महाराष्ट्र के पूर्व सीएम ने दावा किया कि पेट्रोल की कीमत 100 प्रति लीटर लीटर तक पहुंच गई.देश में करीब 12.21 करोड़ लोगों ने अपनी नौकरी खो दी है. बांग्लादेश की प्रति व्यक्ति आय अब भारत की तुलना में अधिक है.

My Bharat News - Article ashok chavan 1590373309 1592109589
केन्द्र की नीतियों ने देश को तबाह किया -अशोक चव्हाण

केंद्र की नीतियों ने देश को तबाह कर दिया है. उन्होंने आरोप लगाया कि केंद्र का महाराष्ट्र के प्रति सहायता और जीएसटी कंपनसेशन सहित सभी फ्रंट पर भेदभावपूर्ण रवैया है.