Ayodhya Visit: सीएम अरविन्द केजरीवाल ने किए रामलला के दर्शन, बोले-कराएंगे रामलला के मुफ्त में दर्शन

Ayodhya Visit: सीएम अरविन्द केजरीवाल ने किए रामलला के दर्शन, बोले-कराएंगे रामलला के मुफ्त में दर्शन

दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी (AAP) के संयोजक अरविंद केजरीवाल अयोध्या दौरे(Ayodhya Visit) पर हैं। उन्होंने वहां मंगलवार की सुबह हनुमानगढ़ी मंदिर पूजा की। उसके बाद राम जन्मभूमि में भगवान राम की भी पूजा अर्चना की। दर्शन के बाद केजरीवाल ने बड़ा एलान भी किया।

केजरीवाल ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा कि आज मुझे भगवान के दर्शन करने का सौभाग्य मिला और मैं चाहता हूं कि यह सौभाग्य हर भारतवासी को प्राप्त हो। मैं बहुत छोटा सा आदमी हूं लेकिन भगवान ने मुझे बहुत कुछ दिया, मेरे पास जो क्षमता और साधन है उनका मैं यहां ज़्यादा से ज़्यादा लोगों को दर्शन कराने में इस्तेमाल करूंगा। 

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि अगर उत्तर प्रदेश में हमारी सरकार बनती है तो हम सभी उत्तर प्रदेश वासियों को अयोध्या में राम जी के दर्शन कराने के लिए सबकी मुफ़्त में व्यवस्था करेंगे, जैसी हमने दिल्ली में की है। उन्होंने कहा कि दिल्ली की मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना में हम कल स्पेशल कैबिनेट बैठक में अयोध्या को भी जोड़ेंगे और अब दिल्ली के लोग अयोध्या में राम जन्मभूमि आकर यहां के दर्शन भी कर पाएंगे। 

आपको जानकारी देदे कि इससे पहले केजरीवाल ने सोमवार को सरयू नदी के तट पर वैदिक मंत्रों और भजनों के बीच सरयू की ‘आरती’ की और मां सरयू, भगवान श्रीराम तथा देवताओं से दिल्‍ली, उत्‍तर प्रदेश और पूरे देश के कल्याण की कामना की।  इस मौके पर केजरीवाल ने कहा, मां सरयू नदी से दिल्‍ली, उत्तर प्रदेश और पूरे भारत वर्ष के कल्‍याण के लिए प्रार्थना करता हूं। पूरा देश कोरोना नाम की महामारी से पीड़ित है, पिछले कुछ दिनों से कुछ नियंत्रण है, लेकिन मैं समझता हूं कि भगवान राम, देवताओं की और मां सरयू नदी की कृपा होगी तो जरूर हम सब लोगों को इस महामारी से मुक्ति मिलेगी।

उन्होंने कहा, आज अयोध्या आने का सौभाग्य मिला और इस अवसर पर मैं सभी देवताओं से हाथ जोड़कर विनती करता हूं कि देश को महामारी से मुक्ति मिले।  केजरीवाल ने आगे कहा, मैं हमेशा मानता हूं कि हमारे देश के लोग बहुत अच्छे हैं, हमारे देश को अभी तक बहुत आगे पहुंच जाना चाहिए था, दुनिया का नंबर एक देश बनना चाहिए था लेकिन आज हमारे देश के अंदर गरीबी है, आज हमारे देश के अंदर अशिक्षा है, तरह-तरह की बीमारियां हैं, भिन्‍न-भिन्‍न समस्याएं हैं। मैं सभी देवताओं से प्रार्थना करता हूं कि मेरा भारत वर्ष जल्‍दी दुनिया का नंबर वन देश बने और हम 130 करोड़ भारतवासी मिलकर इसको संभव कर सकते हैं।


उन्होंने कहा, मैं उम्र और अनुभव में छोटा हूं लेकिन मेरा दिल्‍ली सरकार चलाने का जो पांच साल का अनुभव है। उससे लगता है कि अगर सब लोग मिलकर एक परिवार की तरह, एक टीम की तरह एक साथ काम करें, अपने बीच की दीवारों और भेदभाव को गिराकर एक साथ काम करें तो इस देश को दुनिया की शक्ति बनाने से कोई नहीं रोक सकता है। यह संभव है और दिल्ली के अंदर स्कूल, अस्पताल, पानी और सड़कों के लिए यह करके दिखाया है।