26 C
Lucknow
मंगलवार, अक्टूबर 19, 2021

मंत्री पद संभालते ही आईटी मंत्री ने ट्वीटर को कही देश का कानून मानने की बात

Must read

Rajasthan: थाने मे फर्श पर बैठी महिला विधायक, दारू पार्टी पर दिया बड़ा बयान

हाल ही मे राजस्थान(Rajasthan) के जोधपुर में एक महिला विधायक के रिश्तेदार का शराब पीकर गाड़ी चलाने के वजह से चालान कट...

BJP से मुक्त हुए बाबुल सुप्रियों, लोकसभा स्पीकर को सौंपा इस्तीफा, TMC मे जाने के बाद लिया फैसला

मंगलवार को तृणमूल कांग्रेस(TMC) के नेता बाबुल सुप्रियो ने लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला से मिलकर सांसद पद से इस्तीफा दे दिया है।...

UP विधानसभा चुनाव से पहले प्रियंका गांधी का बड़ा ऐलान, बोली UP में 40 फीसदी टिकट महिलाओं को

कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने 2022 में होने वाले UP विधानसभा चुनाव को लेकर मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस की।...

Cruise Drugs Case: आर्यन खान के साथ शिवसेना! नेता किशोर तिवारी ने याचिका दायर कर उठाई आवाज

Cruise Drugs Case: बॉलीवुड के बादशाह खान यानि शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान के बचाव में बॉलीवुड सितारों के अलावा अब...

देश के नए सूचना प्रसारण मंत्री अश्विनी वैष्णव ने अपना पद संभालते ही सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर के साथ चल रहे सरकार के विवाद पर अपना सख्त रुख दिखाया है.अश्विनी  वैष्णव ने गुरुवार को अपना पद संभालने के साथ ट्वीटर को कड़ा संदेश दिया है. नए आईटी मंत्री ने कहा कि  देश का कानून सबसे ऊपर है और ट्विटर को नियम मानने ही होंगे.

My Bharat News - Article 9009
नए आईटी मंत्री ने कहा कि  देश का कानून सबसे ऊपर है और ट्विटर को नियम मानने ही होंगे.

अश्विनी वैष्णव ने रविशंकर प्रसाद की जगह ली है.रविशंकर प्रसाद पिछले कुछ समय में ट्विटर के साथ अपनी नोंक-झोंक लेकर चर्चा में रहे थे. दरअसल, भारत सरकार की ओर से सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स और डिजिटल कंटेंट बनाने वाले प्लेटफॉर्म्स पर नए आईटी कानून लागू किए गए हैं.

My Bharat News - Article 8008
वैष्णव ने गुरुवार को अपना पद संभालने के साथ ट्वीटर को कड़ा संदेश दिया है.

जिसमें प्रावधान किया गया है कि अब ये प्लेटफॉर्म्स थर्ड पार्टी कंटेंट के लिए जिम्मेदार होंगे.इससे ट्विटर अब यूज जेनरेटेड कंटेंट के लिए जवाबदेह होगा.हालांकि, ट्विटर पर आरोप चल रहे हैं कि उसने नियमों का पालन नहीं किया है.

My Bharat News - Article 044
रविशंकर प्रसाद पिछले कुछ समय में ट्विटर के साथ अपनी नोंक-झोंक लेकर चर्चा में रहे थे

आपको बता दें  कि  कंपनी को एक ग्रीवांस मैनेजर की नियुक्ति करनी है, क्योंकि कंपनी ने यूएस के एक अधिकारी को नियुक्त किया था, जिसने कुछ दिन बाद ही इस्तीफा दे दिया था.इस कानून में प्रावधान है कि कंपनी को भारत स्थित अधिकारी को इस पद के लिए नियुक्त करना होगा.

- विज्ञापन -

More articles

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- विज्ञापन -

Latest article

Rajasthan: थाने मे फर्श पर बैठी महिला विधायक, दारू पार्टी पर दिया बड़ा बयान

हाल ही मे राजस्थान(Rajasthan) के जोधपुर में एक महिला विधायक के रिश्तेदार का शराब पीकर गाड़ी चलाने के वजह से चालान कट...

BJP से मुक्त हुए बाबुल सुप्रियों, लोकसभा स्पीकर को सौंपा इस्तीफा, TMC मे जाने के बाद लिया फैसला

मंगलवार को तृणमूल कांग्रेस(TMC) के नेता बाबुल सुप्रियो ने लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला से मिलकर सांसद पद से इस्तीफा दे दिया है।...

UP विधानसभा चुनाव से पहले प्रियंका गांधी का बड़ा ऐलान, बोली UP में 40 फीसदी टिकट महिलाओं को

कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने 2022 में होने वाले UP विधानसभा चुनाव को लेकर मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस की।...

Cruise Drugs Case: आर्यन खान के साथ शिवसेना! नेता किशोर तिवारी ने याचिका दायर कर उठाई आवाज

Cruise Drugs Case: बॉलीवुड के बादशाह खान यानि शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान के बचाव में बॉलीवुड सितारों के अलावा अब...

Tomato Rate: देश मे महंगाई की मार, पेट्रोल- डीजल के रेट पर बिक रहा टमाटर

हमारे देश मे कुछ समय से महंगाई मे काफी बढोतरी होती नजर आ रही है। उपभोक्ता मंत्रालय के अनुसार 50 से ज्यादा...