Amit Shah: जम्मू कश्मीर के विकास के लिए शाह का बड़ा ऐलान, दिया मेट्रो का तोहफा

Amit Shah: जम्मू कश्मीर के विकास के लिए शाह का बड़ा ऐलान, दिया मेट्रो का तोहफा

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह(Amit Shah) देश के विकास के लिए आये दिन कोई न कोई कार्य करते रहते हैं। इसी के चलते भारत के गृह मंत्री अमित शाह जम्मू कश्मीर के दौरे पर पहुंचे। दौरे के दूसरे दिन अमित शाह जम्मू पहुंचे उन्होंने लोगों को सम्बोधित करते हुए लोगों से कई वादे किये। उसके बाद अमित शाह ने भगवती नगर में एक रैली को संबोधित किया।

अमित शाह(Amit Shah) ने कहा कि जम्मू-कश्मीर के अंदर ग्रासरूट लेवल का लोकतंत्र दिया है। अब इन तीन परिवारों की दादागिरी नहीं चलेगी। अब पंच-सरपंच भी जम्मू-कश्मीर का सीएम बन सकता है। लोकतंत्र को प्रस्थापित करने का काम पीएम मोदी ने किया है और लोकतंत्र प्रस्थापित होते ही सामान्य स्थिति पैदा होगी। पीएम मोदी ने विकास की प्रक्रिया चालू की है। जम्मू वाले चट्टान की तरह मोदी जी के साथ खड़े है या नहीं खड़े हैं?

आपको बता दें, जम्मू और श्री नगर के विकास के लिए जल्द ही मेट्रो सेवा शुरू की जाएगी। जम्मू में भी एयरपोर्ट बनने वाला है और इसी के साथ-साथ हेलीकाप्टर की सेवा भी शुरू होने वाली है। हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर हमारा थोड़ा वीक है लेकिन कोरोना काल में पीएम मोदी ने बढ़िया इंतजाम करके सबसे कम मृत्यु दर को संभव किया।

गृह मंत्री ने कहा कि कल ये तीन परिवार वाले मुझसे सवाल पूछ रहे थे कि क्या देकर जाओगे? भाई मैं तो हिसाब लेकर आया हूं कि क्या देकर जाऊंगा? मगर 70 साल तीन परिवार वालों ने जम्मू-कश्मीर में राज किया, आपने क्या दिया इसका हिसाब लेकर आओ। आज जम्मू-कश्मीर हिसाब मांग रहा है। पीएम मोदी ने प्रधानमंत्री बनते ही जम्मू-कश्मीर के विकास के लिए 55,000 करोड़ रुपये का पैकेज दिया था। आज 55,000 करोड़ रुपये के पैकेज में से 33,000 करोड़ रुपये खर्च हो चुका है, विकास की 21 योजनाएं पूरी हो चुकी है।

अमित शाह(Amit Shah) ने कहा कि एक जमाना था कि जम्मू-कश्मीर में कहने को चार ही मेडिकल कॉलेज थे। आज मैं आपको बताने आया हूं कि जम्मू-कश्मीर में अब सात नए मेडिकल कॉलेजों की स्थापना हो चुकी है। पहले 500 विद्यार्थी यहां से MBBS कर सकते थे, अब लगभग 2,000 विद्यार्थी यहां MBBS कर पाएंगे। आज जिस IIT कैंपस का उद्घाटन हुआ ऐसा आधुनिक कैंपस मैंने देशभर में नहीं देखा।

गृह मंत्री ने कहा कि अब जम्मू-कश्मीर का विकास होगा और ये प्रदेश देश को आगे बढ़ाने में अपना योगदान देगा. पहले जम्मू में सिखों, खत्रियों और महाजनों को भूमि खरीदने का अधिकार नहीं था। जो शरणार्थी वहां से यहां आए थे, उनके अधिकार नहीं थे, वाल्मीकि, गुर्जर भाइयों के अधिकार नहीं थे। भारत के संविधान के सभी अधिकार अब मेरे इन भाइयों को मिलने वाले हैं।

अमित शाह ने कहा कि अब भारतीय संविधान के सभी अधिकार यहां के सभी लोगों को मिल रहे हैं। लेकिन सारे अधिकार अब यहां मिलने वाले हैं, किसी को घबराने की जरूरत नहीं है। मैं जम्मू-कश्मीर को आज ये कहने आया हूं कि जम्मू-कश्मीर वालों के साथ अन्याय का समय खत्म हो चुका है। अब कोई आपके साथ अन्याय नहीं कर सकता है।

गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि विकास के युग में खलल पहुंचाने वाले खलल डाल रहे हैं, मगर विकास के युग को कोई नहीं रोक पाएगा। 5 अगस्त 2019 को प्रधानमंत्री मोदी ने ऐतिहासिक निर्णय लेते हुए अनुच्छेद 370 और 35 ए को खत्म किया। इससे जम्मू-कश्मीर के लाखों लोगों को अपने अधिकार मिले।

गृह मंत्री अमित शाह ने बताया कि कश्मीर का युवा भटका नहीं है वो तरक्की की नई इबारत लिखने के लिए तैयार है। जम्मू-कश्मीर में आर्टिकल 370 खत्म होने के बाद आतंकियों का बेचैन होना स्वाभाविक है क्योंकि आतंकी जिस बुनियाद पर युवाओं को बरगलाने की साजिश करते थे वो नींव हिल चुकी है। अलगाववाद की दुकान बंद हो रही है और इसीलिए पाकिस्तान भी बेचैन है। लेकिन जम्मू-कश्मीर अब आगे बढ़ चुका है विकास के उस सफर में जिसकी राह में आतंक की दीवार रोड़े अटका रही थी।

शनिवार को श्रीनगर में गृह मंत्री अमित शाह ने सेना, सीआरपीएफ और पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक की, जहाँ जम्मू-कश्मीर के उप-राज्यपाल मनोज सिन्हा भी मौजूद थे। सूत्रों के मुताबिक, पांच घंटे तक चली इस बैठक में अमित शाह ने सुरक्षाबलों से आतंकवाद को खत्म करने के लिए कहा है और वहां के लोगों को ये भरोसा दिलाया कि कश्मीर में अब अशांति फैलाने वालों की खैर नहीं है।

गृह मंत्री अमित शाह ने आज सुबह साढ़े 11 बजे जम्मू यूनिवर्सिटी के जोरावर ऑडिटोरियम में बीजेपी कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। पहले यह रैली जम्मू के भगवती नगर ग्राउंड में होनी थी लेकिन बारिश और खराब मौसम के चलते रैली की जगह को बदल दिया गया था। अमित शाह नए जम्मू-कश्मीर की तस्वीर पेश करने के साथ देश-दुनिया को अनुच्छेद 370 का सच भी बताया।